इम्युनिटी बूस्टर मॉनसून सुपरफूड्...

इम्युनिटी बूस्टर मॉनसून सुपरफूड्स जो रखेंगे आपको फिट और हेल्दी… (Monsoon Superfoods To Boost Your Immunity)

वैसे तो बारिश का मौसम लोगों को काफी भाता है क्योंकि इस मौसम में लोगों को काफी हद तक चिलचिलाती गर्मी और धूप से राहत मिल जाती है, लेकिन यह मौसम अपने साथ कई मौसमी बीमारियां भी लेकर आता है, जैसे- खांसी, बुखार, डायरिया, फंगस आदि. इन सभी प्रकार की बीमारियों से बचने के लिए आपको अपने खान-पान में बदलाव लाने की ज़रुरत होती है, यह ना सिर्फ इन मौसमी बीमारियों से बचने में आपकी मदद करेंगे बल्कि आपके स्वास्थ को बेहतर भी करेंगे. घर में मौजूद आम खाद्य पदार्थों का सेवन करने से इंफेक्शन व मौसमी बीमारियों से बचा जा सकता है. तो चलिए जानते हैं क्या कहना है फिट विथ डाइट की डायरेक्टर, न्यूट्रिशियनिस्ट नम्रता सिंह का मॉनसून सुपरफूड्स के बारे में – 

इम्युनिटी बूस्टर मॉनसून सुपरफूड्स 

अदरक

मॉनसून में अदरक मौसमी बीमारियों से बचाती है और साथ ही इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में अहम भूमिका निभाती है. यह एंटीऑक्सीडेंट के गुण से भरपूर हैं जो सर्दी, खांसी, बुखार व सीने में जकड़न जैसी समस्या को भी दूर करती है. इसका सेवन कच्चा व खाने में पकाकर भी किया जा सकता है. इसकी चाय मूड बेहतर करने के साथ सीने में जकड़न की समस्या को भी दूर करती है और इसका काढ़ा बीमारियों में तुरंत राहत देता है.

लहसुन 

लहसुन में एंटीबायोटिक, एंटीवायरल, एंटीफंगल और जीवाणुरोधी गुण होते हैं और यह इम्युनिटी बूस्ट करता है. लहसुन को अपनी सुबह की दिनचर्या में शामिल करने से कई तरह की बीमारियों से दूर रहा जा सकता हैं. यह फ्लू के लक्षणों को कम करने में मददगार है और साथ ही यह ब्लड शुगर लेवल, हृदय स्वास्थ्य और फेफड़ों से संबंधित अन्य समस्याओं को नियंत्रित करता है। मानसून में मौसमी बीमारियां से बचने के लिए आपको रोज़ लहसुन की कम से कम 1-2 कच्ची कली का सेवन करना चाहिए.

खट्टे फल (Citrus Fruits)

रोज़ाना खट्टे फलों का सेवन करने से भी इम्युनिटी बूस्ट होती है. खट्टे फलों को आमतौर पर सिट्रस फ्रूट्स कहा जाता है, इनमें भारी मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है और यह बॉडी में सफेद रक्त कोशिकाओं के निर्माण में मददगार है. खट्टे फल जैसे  संतरा, मौसंबी, किन्नू, चकोतरा अनानस, टमाटर, आदि एंटीऑक्सीडेंट यानी विटामिन-सी से भरपूर हैं और यह रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्युनिटी को बढ़ाते हैं. संतरे में सबसे अधिक मात्रा में विटामिन सी होता है जो फ्री रैडिकल से होने वाले डीएनए को कई तरह के नुकसानों से भी बचाता है.

हरी सब्जियां 

हरी सब्जियों का सेवन तो हर मौसम में किया जा सकता है क्योंकि गोभी, पालक, जैसी हरी पत्तेदार सब्जियों में विटामिन-सी, विटामिन-ई, आयरन, बीटा कैरोटीन, की काफी मात्रा होती है. वहीं, हरी मटर, लौकी, ब्रॉकली, आदि में भी इम्युनिटी बढ़ाने वाले पोषक तत्त्व होते है जो इंफेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं. आंवला भी विटामिन-सी का एक बेहद अच्छा स्रोत है, इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट गुण भी पाए जाते हैं, जो फ्री रेडिकल की सफाई करने में सहायक होते है. शिमला मिर्च भी गुणों से भरपूर है, विटामिन सी के साथ-साथ इसमें बीटा कैरोटीन भी पाया जाता है जो इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाने और स्किन को हेल्दी रखने में भी समर्थ है.

प्रोबायोटिक्स फूड्स

प्रोबायोटिक्स फूड्स में मौजूद माइक्रोब्स के कारण ना केवल गट हेल्दी होता है बल्कि, पाचन तंत्र और इम्यून सिस्टम भी मज़बूत बनता है. कई बार भोजन के साथ शरीर में हानिकारक तत्व भी शामिल हो जाते हैं. प्रोबायोटिक्स फूड्स गट में हेल्दी बैक्टेरिया की मात्रा को बढ़ाकर शरीर में प्रवेश करने वाले नुकसान दायक तत्वों से शरीर की रक्षा करते हैं. यदि आप भी मानसून में होने वाली मौसमी बीमारियों से बचना चाहते हैं तो अपनी डाइट में  प्रोबायोटिक्स फूड्स जैसे – लस्सी, छाछ, दही, योगर्ट, आदि को आवश्यक रूप से शामिल करें.

हर्बल टी 

चाय पीना तो सबको काफी पसंद होता है और यही आदत आपके लिए फायदेमंद भी साबित हो सकती है. हर्बल टी के उपयोग से ना सिर्फ रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर होती है बल्कि, कई और फायदे भी मिलते हैं. यह कंजेशन रिलीफ में फायदेमंद है और कोलेस्ट्रॉल को भी मेंटेन करती हैं. हर्बल टी में इलायची, तेज पत्ता, सौंफ, आमला, तुलसी, लौंग, दालचीनी, गिलोय, अश्वगंधा, आदि होता है जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के साथ ही शरीर को काफी फायदे प्रदान करती हैं. यह  एंटीबायोटिक का काम भी करती हैं और मेटाबॉलिज्म को भी बूस्ट करती हैं.

न्यूट्रिशियनिस्ट नम्रता सिंह, डायरेक्टर, फिट विथ डाइट

×