फिल्म रिव्यू: दमदार और पैसा वसूल फिल्म है ‘रंगून’ (Movie Review: Rangoon)

फिल्म- रंगून (Rangoon)

स्टारकास्ट- कंगना रनौत, सैफ अली खान, शाहिद कपूर.

निर्देशक- विशाल भारद्वाज

रेटिंग- 4 स्टार

Rangoon Review

विशाल भारद्वाज की फिल्में हमेशा कुछ अलग होती हैं. कहानी से लेकर किरदार सब कुछ वास्तविक लगता है. कुछ ऐसा ही रंगून के साथ भी है. एक शब्द में अगर इस फिल्म के बारे में यही कह सकते हैं कि शानदार है ये फिल्म. वॉर और प्यार पर बनी ये फिल्म कैसी है? आइए, जानते हैं.

कहानी

फिल्म की शुरुआत युद्ध के सीन्स से होती है, जो 1943 में सेट की गई है. दूसरा विश्वयुद्ध और उस दौरान भारत में चल रही आजादी की लड़ाई दोनों ही फिल्म में साथ चल रहे हैं. आज़ादी से पहले के दौर में सेट की गई इस फिल्म की कहानी तीन किरदारों जाबाज़ जुलिया (कंगना रनौत), रूसी बिलमोरिया (सैफ अली खान) और नवाब मलिक (शाहिद) के आसपास घूमती है. इन तीनों के साथ लव ट्रायंगल और युद्ध का खेल शुरू होता है. कौन जीतेगा और कौन हारेगा ये जानने के लिए आपको थिएटर तक जाना पड़ेगा.

फिल्म की यूएसपी

फिल्म की यूएसपी की अगर बात की जाए, तो कहानी से लेकर किरदार सब कुछ परफेक्ट है. जांबाज़ जुलिया यानी कंगना की ऐक्टिंग की तो जितना तारीफ़ की जाए कम है. अपने किरदार के साथ पूरा न्याय किया है कंगना ने.

सैफ अली खान और शाहिद कपूर दोनों का ही किरदार पूरी फिल्म की जान है. सैफ अली खान के कई शेड्स इस फिल्म में नज़र आएंगे, जबकि शाहिद कपूर एक आदर्शवादी सैनिक के रूप में मज़बूत लग रहे हैं.

फिल्म का निर्देशन और सिनेमैटोग्राफ़ी कमाल की है.

सबसे ख़ास बात जितना अच्छा फिल्म का पहला पार्ट है, उतना ही इंट्रेस्टिंग फिल्म का दूसरा हिस्सा भी है. इंटरवल से पहले फिल्म बिना बोर किए बड़ी तेज़ी से आगे बढ़ती है, वहीं इटरवल के बाद कहानी में छोड़ा ठहराव आ जाता है और फिल्म रोमांचक और गंभीर हो जाती है. वॉर और प्यार दोनों ही साथ-साथ चलता है.

फिल्म की सीन्स अंत तक आपको कुर्सी से उठने नहीं देंगे.

फिल्म देखने जाएं या नहीं?

साल 2017 की बेहतरीन फिल्मों में नाम शामिल होगा रंगून का. ऐसे में इस फिल्म को ना देखने का सवाल ही नहीं उठता. पैसा वसूल फिल्म है, इसलिए ज़रूर देखने जाएं ये फिल्म. इस फिल्म को देखने का अनुभव यक़ीनन शानदार होगा.