INTERVIEW: अपनी जड़ों से जुड़ी रहना चाहती हैं मेरी बेटी प्रियंका- मधु चोपड़ा (My daughter Priyanka wants to stay connected to her roots- Madhu Chopra)

प्रियंका चोपड़ा इंटरनेशनल स्टार तो हैं ही, साथ ही अब वो प्रोड्यूसर भी बन गई हैं. अपने प्रोडक्शन हाउस पर्पल पेबल पिक्चर्स के बैनर तले उन्होंने बनाई है अपनी पहली मराठी फिल्म ‘वेंटिलेटर’. प्रियंका अपने हॉलीवुड प्रोजेक्ट्स में बिज़ी हैं, ऐसे में फिल्म के प्रोडक्शन की पूरी ज़िम्मेदारी उनकी मम्मी डॉ. मधु चोपड़ा ने संभाल रखी है. इंडियन आर्मी में डॉक्टर रह चुकीं मधु चोपड़ा प्रोड्यूसर के नए रोल में हैं. प्रियंका की वजह से वो बॉलीवुड से जुड़ी ज़रूर रही हैं, लेकिन अब इस फील्ड की बारीकियां भी सीख गई हैं. प्रियंका की मेहनत और अपनी पहली फिल्म वेंटिलेटर के बारे में कई बातें शेयर की मधु चोपड़ा ने ‘मेरी सहेली’ के साथ.2
आपके होम प्रोडक्शन ‘पर्पल पेबल पिक्चर्स’ की पहली फिल्म है वेंटिलेटर. मराठी फिल्म बनाने की क्यों सोची आपने, जबकि प्रियंका चोपड़ा हिंदी फिल्मों की इतनी बड़ी स्टार हैं.
प्रियंका चोपड़ा सबसे हटकर सोचती हैं. वो भले ही एक तरफ़ करियर में उड़ान भर रही हैं, लेकिन दूसरी तरफ़ वो अपनी जड़ों से भी जुड़ी रहना चाहती हैं. इसके अलावा दूसरी वजह थी कि वो हर रिजन का फ्लेवर मेन स्ट्रीम से जोड़ना चाहती थीं, ताकि उन्हें भी पहचान मिले. फ़िलहाल उनकी पहचान उनकी अपने रिजन तक ही सीमित है, वो उस पहचान को इंटीग्रेट करना चाहती थीं. प्रियंका चाहती हैं कि सबको पता चले कि असली मराठी क्या है. मराठी स्टोरीज़ में मराठी का फ्लेवर क्या है.
 आपके पास कई स्क्रिप्ट्स आई होंगी, वेंटिलेटर की स्क्रिप्ट को ही क्यों चुना आपने?
ये स्क्रिप्ट बहुत स्ट्रॉन्ग थी, काफ़ी अलग थी. इस फिल्म में कोई गाना-बजाना, रोमांस और कोई बच्चों वाला खेल नहीं है. स्क्रिप्ट हट के थी. फिल्म की कहानी में कई लेयर्स हैं. इमोशनली बहुत ही स्ट्रॉन्ग कंटेन्ट था फिल्म का. फिल्म की कहानी में ह्यूमर है, इसलिए ये स्क्रिप्ट हमने सिलेक्ट की.
आशुतोष गोवारिकर 18 साल के बाद स्क्रीन पर वापसी कर रहे हैं. वो ख़ुद भी निर्माता, निर्देशक, राइटर हैं. उनको आपने इस फिल्म के लिए क्यों चुना?
आशुतोष गोवारिकर पहली एंड ओन्ली पसंद थे इस फिल्म के लिए. ये प्रियंका का सिलेक्शन था. फिल्म के डायरेक्टर राजेश मपूस्कर ने कई सारे नाम सजेस्ट किए थे, लेकिन प्रियंका का कहना था कि अगर आशू जी इस फिल्म में हों, तो ज़्यादा अच्छा होगा. आशु तोष के लिए हमने चार-पांच महीने इंतज़ार भी किया, फाइनली उन्होंने प्रियंका को फोन पर हां कर दी.
IMG-20161021-WA0010 (1) (1)
आप इस फिल्म की निर्माता हैं. इस बार आप काफ़ी अलग रोल में हैं. पहले इंडियन आर्मी में डॉक्टर और अब फिल्म का पूरा प्रोडक्शन देखना और इसकी बारीकियां सीखना कितना मुश्किल रहा आपके लिए?

दरअसल, मैं केवल बैंकेंड ही संभालती थी. लोगों की प्रॉब्लम्स सॉल्व कर देती थी. दरअसल, पूरा प्रोडक्शन प्रियंका ने ही अमेरिका से कंट्रोल किया था. उन्होंने अपनी बहुत ही अच्छी टीम तैयार की है. सब अपना काम जानते थे और सबने अपना काम सुचारू रूप से किया, इसलिए प्रोडक्शन इतना डिफिकल्ट नहीं लगा मुझे. प्रोडक्शन मेरा काम है नहीं, लेकिन प्रियंका के गाइडेंस में मैंने काफ़ी कुछ सीखा. वो मुझे कई चीज़ें समझाती है, सिखाती है. जो वो मुझे कहती हैं, मैं वहीं करती हूं. अब भी डेली रिपोर्ट्स प्रियंका को भेजी जाती है. 

कई न्यूकमर्स को आपने इस फिल्म में मौक़ा दिया है. कहीं न कहीं आपका प्रोडक्शन हाउस नए टैलेंट्स के लिए एक अच्छा प्लेटफॉर्म साबित होगा.
जी वाक़ई, ये बहुत अच्छा मौक़ा है न्यू टैलेंट्स के लिए. फिल्म के डायरेक्टर राजेश मपूस्कर के लिए भी एक तरह से ये डेब्यू होगा मराठी फिल्म में, हालांकि वो न्यू टैलेंट नहीं हैं, लेकिन मराठी फिल्म को पहली बार डायरेक्ट कर रहे हैं. आशुतोष जी भी 18 साल बाद वापसी कर रहे हैं, वो भी नए जैसे ही हैं. इस फिल्म में सिर्फ़ ऐक्टर ही नए नहीं हैं, बल्कि राइटर, डीओपीज़ हर फील्ड से नए टैलेंट को चांस मिला है.
priyanka-5वेंटिलेटर में सितारों की भरमार है. कितना मुश्किल रहा आपके लिए इतने सारे स्टार्स को सेट पर मैनेज करना?
प्रियंका काफ़ी प्रोफेशनल हैं. मुश्किल तो थी, लेकिन उन्होंने बड़े ही अच्छे से सब कुछ संभाल लिया. वो अपने काम को काफ़ी रिस्पेक्ट देती हैं, उन्होंने किसी को परेशान नहीं होने दिया. सब लोग सेट पर मिलकर रहे. शूट करने में भी कोई टाइम वेस्ट नहीं हुआ. सभी प्रोफेशनल ऐक्टर्स हैं, उनके साथ काम करने में बहुत ही मज़ा आया. इन ऐक्टर्स का प्रोफेशनलिज़्म देखकर मुझे प्रियंका की याद आ जाती थी, क्योंकि प्रियंका भी काफी प्रोफेशनल हैं.
प्रियंका चोपड़ा एक ट्रेंड सेटर हैं. अब वो एक इंटरनेशनल स्टार बन गई हैं. कई बड़े और अहम् फैसले लेती हैं. उनके काम की काफ़ी तारीफ़ हो रही है. मां होने के नाते यक़ीनन आप गर्व महसूस करती होंगी.
प्रियंका को ट्रेंड सेटर की बजाय मैं कहूंगी कि वो अपॉरचुनिस्ट हैं, जो अपॉरचुनिटी उनके सामने आई, उसे उन्होंने लिया और अच्छे से निभाया. मेरे ख़्याल से ट्रेंड सेटर अनिल कपूर और कबीर बेदी थे. लेकिन मैं ये ज़रूर कहूंगी कि प्रियंका आज जो इतनी मशहूर हुई हैं, वो उनकी मेहनत और क्रिएटीविटी की वजह से है.
क्या आपने क्वांटिको 2 के एपिसोड्स देखे हैं?
जी हां, बिल्कुल देखे हैं. बहुत क्विक, बहुत ही फास्ट और पहले से ज़्यादा रोमांचक है.
हमने सुना है कि आप भी मल्टीटैलेंटेड हैं. डॉक्टर होने के अलावा आप एक अच्छी एेक्ट्रेस भी हैं. क्या आप और प्रियंका कभी साथ स्क्रीन शेयर करेंगी?
जी नहीं, ये बिल्कुल सही नहीं है कि मुझे एक्टिंग आती है. मैं आपको कभी किसी भी फिल्म में ऐक्टिंग करती नहीं नज़र आऊंगी. पेन आप लोगों के हाथों में है, आप कुछ भी लिख सकते हैं.
Featured
अक्सर ऐसा देखा गया है कि हमारे समाज में लड़कियों को तभी सेटल माना जाता है, जब उनकी शादी हो जाती है. आपकी क्या राय है इस बारे में? क्या प्रियंका की शादी को लेकर आप भी ऐसा सोचती हैं?
मैं ऐसा बिल्कुल नहीं मानती हूं कि लड़कियां तभी सेटल होती हैं, जब उनकी शादी हो जाती है. आज की लड़कियों के लिए ये ज़रूरी नहीं है. शादी को लेकर प्रियंका पर मेरे तरफ़ से कोई दबाव नहीं है.
वेंटिलेटर 4 नवंबर को रिलीज़ हो रही है, जबकि 28 अक्टूबर को दो बड़ी फिल्में शिवाय और ऐ दिल है मुश्किल रिलीज़ होंगी, तो क्या ऐसे में वेंटिलेटर फिल्म के कलेक्शन पर कोई असर पड़ेगा या इस फिल्म की अपनी अलग ऑडियंस होगी?
हां, इस फिल्म की अलग ऑडियंस भी है और इस फिल्म पर फ़र्क़ पड़ना भी नहीं चाहिए. हमारी कोशिश यही है कि रिजनल सिनेमा को भी मेन स्ट्रीम की तरह ही देखा जाए.
आपके प्रोडक्शन की अगली फिल्म कौन-सी होगी? क्या अगली फिल्म हिंदी में होगी? किस सबजेक्ट पर होगी फिल्म?
हां, अब अगली फिल्म हिंदी में होगी. जहां तक बात है कहानी कि तो अभी इसके बारे में कुछ भी कहना बहुत जल्दबाज़ी होगी. कहानी के बारे में अभी तो नहीं बता सकते पर, एक हिंदी फिल्म शॉर्टलिस्ट की है हमने.
क्या अपनी होम प्रोडक्शन की दूसरी फिल्म में प्रियंका चोपड़ा ऐक्टिंग करेंगी?
नहीं, फ़िलहाल वो काफ़ी बिज़ी हैं, प्रियंका के पास बिल्कुल टाइम नहीं है.
दिवाली नज़दीक है. इस बार क्या प्लान्स हैं दिवाली के? क्या प्रियंका दिवाली सेलिब्रेट करने के लिए भारत आ रही हैं?
नहीं, इस साल हम दिवाली सेलिब्रेट नहीं कर रहे हैं, क्योंकि इसी साल प्रियंका की नानी का देहांत हुआ था. लेकिन आप सभी को दिवाली की बधाई.
                                                                                                                             – प्रियंका सिंह