‘गंगूबाई काठियावाड़ी&...

‘गंगूबाई काठियावाड़ी’: आलिया भट्ट या प्रियंका चोपड़ा नहीं, रानी मुखर्जी थीं संजय लीला भन्साली की पहली पसंद (Not Alia Bhatt or Priyanka Chopra, Rani Mukerji was the first choice for Sanjay Leela Bhansali’s ‘Gangubai Kathiawadi’)

आलिया भट्ट की अपकमिंग फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ का फर्स्ट पोस्टर लुक और टीजर रिलीज़ कर दिया गया है. फ़िल्म का टीज़र और इसमें आलिया का लुक इतना दमदार है कि फैन्स से लेकर सेलेब्रिटीज तक सभी इसकी तारीफ करते नहीं थक रहे हैं. इस फिल्म में आलिया एकदम अलग लुक में नजर आ रही हैं.

टीज़र की कर रहे हैं लोग जमकर तारीफ

Gangubai Kathiawadi


टीजर की शुरुआत वॉइस ओवर से होती है. टीजर के शुरुआत में कहा जाता है- कहते हैं कि कमाठीपुरा में कभी अमावस की रात नहीं होती, क्योंकि वहां गंगू रहती है. आलिया की एंट्री भी काफी जबरदस्त दिखाई गई है. वो कहती हैं- गंगू चांद थी और चांद ही रहेगी. टीजर में आलिया ने एक से बढ़कर एक डायलॉग बोले हैं.

Alia Bhatt

कहा जा रहा है कि ये फ़िल्म आलिया के करियर की माइलस्टोन फ़िल्म साबित होगी. लेकिन क्या आप जानते हैं, आलिया इस फ़िल्म के लिए संजय लीला भंसाली की पहली पसन्द नहीं थीं. उनसे पहले ये रोल प्रियंका चोपड़ा को ऑफर किया गया था, लेकिन लीला भंसाली की पहली पसंद रानी मुखर्जी थीं.

रानी मुखर्जी को लेकर बनाना चाहते थे गंगूबाई

Rani Mukerji


जी हां, रिपोर्ट्स की मानें तो संजय लीला भंसाली ने जब गंगूबाई फ़िल्म की प्लानिंग की थी, तो वो रानी मुखर्जी से लीड रोल करवाना चाहते थे. लेकिन फिर किन्हीं वजहों से रानी के साथ बात नहीं बन पाई.

रानी के बाद ये रोल प्रियंका चोपड़ा को ऑफर किया गया

Priyanka Chopra


जब रानी मुखर्जी के साथ बात नहीं बन पाई, तो संजय लीला ने प्रियंका चोपड़ा से इस रोल के लिए बात की. तब भंसाली प्रियंका के साथ ‘बाजीराव मस्तानी की शूटिंग कर रहे थे, इसीलिए उन्होंने गंगूबाई के चैलेंजिंग रोल के लिए पीसी को अप्रोच किया, लेकिन तब पीसी का शेड्यूल काफी बिजी चल रहा था और वो हॉलीवुड में करियर बनाने के लिए भी काफी भागदौड़ कर रही थीं. इसलिए संजय लीला भंसाली का ये प्रोजेक्ट एक बार फिर रुक गया.

‘इंशा अल्लाह’ के बन्द होने की वजह से मिली आलिया को ये फ़िल्म

Gangubai Kathiawadi

इसी बीच आलिया-सलमान खान स्टारर फ़िल्म ‘इंशा अल्लाह’ डिब्बाबन्द हो गई. संजय लीला भंसाली के पास आलिया की डेट्स तो थीं ही और उनका गंगूबाई प्रोजेक्ट भी लम्बे समय से लटक रहा था, इसलिए उन्होंने फैसला किया कि आलिया को लेकर ही फ़िल्म बनाएंगे और उन्होंने आलिया के साथ गंगूबाई काठियावाड़ी अनाउन्स कर दी. पद्मावत के बाद गंगूबाई काठियावाड़ी संजय लीला भंसाली की अगली फिल्म होगी. सबसे बड़ी बात, ये फ़िल्म संजय भंसाली ने बहुत कम समय मे बनाई, वरना वो दो से ढाई में एक फ़िल्म कम्पलीट करते हैं.

हुसैन ज़ैदी की ‘माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई’ पर आधारित है फ़िल्म

Gangubai Kathiawadi

फिल्म 60 के दशक की माफिया क्वीन पर आधारित है जो एक ऐसी लड़की के जीवन पर आधारित है, जिसे वेश्यावृत्ति में जबरन ढकेल दिया जाता है. वो कमाठीपुरा में कोठा चलाती है, लेकिन वहां की लड़कियों के लिए भगवान बन जाती है. फिल्म हुसैन ज़ैदी की किताब ‘माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई’ पर बनी है.

कौन थी गंगूबाई?

Gangubai Kathiawadi

गंगूबाई कमाठीपुरा इलाके में कोठा चलाने वाली एक दिलेर औरत थी, जो गुजरात की एक भोली भाली लड़की थी, लेकिन जिसे वेश्यावृत्ति में ढकेल दिया गया और बाद में यही गंगूबाई माफिया क्वीन गंगूबाई काठियावाड़ी बन गई, जिसकी पहुंच मुंबई के डॉन करीम लाला तक थी. गंगूबाई ने सेक्स वर्कर्स के लिए बहुत काम किया. मुंबई के आजाद मैदान में दिए एक भाषण में उन्होंने कहा था कि अगर कमाठीपुरा की औरतें न हों, तो मुंबई की सड़कें औरतों के लिए असुरक्षित हो जाएंगी. फ़िल्म का टीजर देखने के बाद लग रहा है कि आलिया भट्ट ने इस कैरेक्टर को निभाने के लिए बहुत मेहनत की है और वो मेहनत स्क्रीन पर साफ झलक भी रही है.