क्या आप दोनों एक-दूसरे की लिए बा...

क्या आप दोनों एक-दूसरे की लिए बासी हो चुके हो? ये स्मार्ट-सिंपल टिप्स आज़माएं, अपने रिश्ते की बोरियत को मिटाएं और उसे रोमांटिक बनाएं! (Spice up Your Relationship: Easy & Romantic Ways To Get The Spark Back In Your Marriage)

समय के साथ हर चीज़ पुरानी, उबाऊ या यूं कहें कि बासी होने लगती है, क्योंकि एक ही ढर्रे पर चल रही ज़िंदगी हमें रूटीन लगने लगती है और फिर उसमें ताज़गी या एक्साइटमेंट जैसा कुछ नहीं लगता. रिश्ते भी धीरे-धीरे रूटीन बन जाते हैं, क्योंकि समय के साथ उनमें ऊर्जा व गर्माहट गायब होने लगती है, ऐसे में रिश्तों पर भी काम करने की ज़रूरत होती है औरख़ुद पर भी ताकि उनमें ताज़गी बनी रहे और आप भी तरोताज़ा रहें. आपका रिश्ता और आप भी एक-दूसरे के लिए कहींबासी न हो जाएं, इसलिए समय रहते उसे व ख़ुद को भी करें रिफ्रेश, वरना रिश्ता टूटने की कगार पर आ सकता है. अगरआपको लग रहा है कि आप दोनों ही एक-दूसरे की तरफ़ न पहले जैसा आकर्षण महसूस करते हो और न ही वो रोमांस, तोसजग हो जाएं और व़क्त रहते ख़ुद को और अपने रिश्ते को समय दें. 

ख़ुद पर काम करें: सबसे पहले ख़ुद को देखें. समय के साथ आप कितना बदल गए? आपकी फिटनेस, ज़िंदगी को लेकरनज़रिया? अपने पार्टनर को लेकर नज़रिया आदि… एक लिस्ट बना लें और फिर एक-एक कर उस पर काम करें. 

ख़ुद से प्यार करें: जब तक आप ख़ुद से प्यार नहीं करेंगे, कोई दूसरा क्यों करेगा? ख़ुद को ख़ुश रखने के तरी़के सोचें औरफिर अपने पार्टनर को भी उसमें शामिल करें. 

कुछ नया करें: जब भी आपको महसूस हो कि रिश्ते रूटीन बनते जा रहे हैं, कुछ नया करें. ऐसा कुछ जिससे सामनेवाले कोभी महसूस हो कि यह तो हमने सोचा ही नहीं था. इससे नए सिरे से आप उन रिश्तों को जीने लगते हैं. ये नयापन किसी भीतरह से आप ला सकते हैं. चाहे तो सरप्राइज़ेस के ज़रिए या अपनी कोई ऐसी बुरी आदत त्यागकर जिससे पार्टनर कोख़ुशी महसूस हो और उसे लगे कि आपने उसके लिए कुछ किया है. 

फिटनेस पर ध्यान दें: फिट रहेंगे, तो हेल्दी तो रहेंगे ही, साथ ही अट्रैक्टिव भी लगेंगे और किसी भी रिश्ते में फिटनेस का भीबहुत बड़ा हाथ होता है. न स़िर्फ आप सेहतमंद रहते हैं, आपका रिश्ता भी हेल्दी होता है. एक-दूसरे के लिए फिटनेस चैलेंजलें. साथ में वॉक, जॉग या एक्सरसाइज़ करें. इससे एक-दूसरे के साथ समय भी बिता पाएंगे और हेल्दी भी रहेंगे. मोटापा नबढ़ने दें, ताकि आप फिट और अट्रैक्टिव दिखें. हेल्दी खाने व हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाएं और आपको देखकर शायदपार्टनर भी मोटिवेट हो यह सब करने के लिए.

अपनी हॉबीज़ को फिर से जगाएं: आप न स़िर्फ अपनी हॉबीज़, बल्कि पार्टनर की हॉबीज़ को भी फिर से जगाएं और उसेपूरा करें. इससे आप दोनों की बॉन्डिंग बेहतर होगी और एक नयापन भी लाइफ में महसूस करेंगे. 

अपनी ब्यूटी और हाईजीन पर ध्यान दें: समय के साथ अक्सर कपल एक-दूसरे के साथ इतना कंफर्टेबल हो जाते हैं किअपनी शारीरिक ख़ूबसूरती और हाईजीन को इग्नोर करने लगते हैं. लेकिन एक दिन आप पहले की तरह अपने पार्टनर केलिए सजें-धजें और तैयार होकर उनका स्वागत करें, फिर देखें उनका रिएक्शन. इसी तरह हाईजीन हेल्द के लिए भी औरसेक्सुअल लाइफ के लिए भी ज़रूरी है. ऑरल हेल्थ से लेकर पर्सनल हाईजीन पर ध्यान देना फिर शुरू करें. 

लाइफ में रोमांस को रिक्रिएट करें: ज़िम्मेदारियां जब बढ़ने लगती हैं, तो एक समय के बाद लाइफ से रोमांस लगभग गायबहो जाता है या यूं कहें कि वो बैकफुट पर चला जाता है. ऐसान  होने दें. रोमांस के लिए ज़रूरी नहीं कि महंगे गिफ्ट्स लानेहैं या महंगी जगह हॉलिडे जाना हो, स़िर्फ भावनाएं काफ़ी होती हैं. आप पार्टनर को यह महसूस करवा सकते हैं कि आपउनसे कितना प्यार करते हैं. कभी ऑफिस से जल्दी आकर, कभी डिनर या मूवी प्लान करके, भी प्यारभरे फोन कॉल्स से, तो कभी उनकी फेवरेट डिश बनाएं, कभी मैसेजेस से आई लव यू के ज़रिए, तो कभी सबसे नज़रें चुराकर बस हल्के से हाथथाम लें. 

बात करें और दिल की बात ज़रूर कहें: दिल की बात सहज तरी़के से कह देने से बॉन्डिंग मज़बूत होती है. हर स्तर पर औरहर व़क्त कम्यूनिकेशन ज़रूरी है. अगर कभी कोई बात आपको परेशान कर रही है या आप पार्टनर के लिए कुछ महसूसकर रहे हैं, तो कम्यूनिकेट करें. दिल ही में रखेंगे, तो बात बढ़गी और परेशानियां भी. 

Relationship Goals

क्वालिटी टाइम साथ बिताएं और शेयर करें: रिश्तों में शेयरिंग बेहद ज़रूरी है. इससे एक-दूसरे पर विश्‍वास और बढ़ता है, इसलिए अपनी ख़ुशी, अपने ग़म, अपनी कोशिशे, अपने डर… सब कुछ शेयर करें. 

एक-दूसरे के लिए थोड़ा-बहुत ख़ुद को भी बदलें: आपकी कुछ ऐसी आदतें होंगी, तो आपके पार्टनर को पसंद नहीं, तो आपएक-दूसरे को चैलेंज करें कि अपनी-अपनी बुरी आदतों पर काबू पाने की पूरी कोशिश करेंगे. इससे पार्टनर को लगेगा किआप उनकी भावनाओं को सम्मान करना जानते हैं.

उनकी पसंद का कुछ करें: कभी पार्टनर की पसंद का कलर या ड्रेस पहनें या उनके साथ उनका फेवरेट शो देखें. इंवॉल्वहोकर करें. या आप पार्टनर की पसंद का खाना मंगवाएं या उनके दोस्तों को घर पर पार्टी के लिए इंवाइट करें. 

ज़िम्मेदारियों को अपने रिश्ते पर हावी न होने दें, उन्हें बांट लें: हमेशा बातचीत करके तय करें कि कौन किस बात कीज़िम्मेदारी लेगा, दोनों को एक-दूसरे के कामों में मदद करेंगे, तो इससे काम हल्का होगा और आप थकेंगे नहीं. ख़ुद कोऔर अपने रिश्ते को अधिक टाइम दे पाएंगे. 

थकान को हावी न होने दें: तन और मन दोनों जब थकने लगते हैं, तब हम एक-दूसरे के लिए बासी होने लगते हैं. ऐसा न हो, इसलिए पार्टनर को सपोर्ट करें और मन न होने पर भी उनके रोमांटिक मूड में अलग तरह से साथ दें, ताकि उन्हें बुरा न लगे, वरना आप दोनों के बीच किसी तीसरे को आने में देर नहीं लगेगी. ग़ुस्से की बजाय हंसकर या प्यार से उन्हें समझाएं किआज आप ज़्यादा थके हैं या आपकी तबीयत ठीक नहीं. 

केयर करें और पार्टनर को हर्ट करने से बचें: केयरिंग हर रिश्ते की बुनियाद होती है. पार्टनर को ठीक नहीं लग रहा, कोईबात उन्हें परेशान कर रही है या वो अपने घरवालों को लेकर फिक्मंद हैं, तो जाकर सहारा दें, बात करें. सहयोग की भावनाहर रिश्ते में ज़रूरी है. इसी तरह से अगर आपको पता है कि आपका व्यवहार या आपकी कोई बात पार्टनर को हर्ट करसकती है, तो उसे करने से बचें. यदि ग़लती से ऐसा कुछ हो भी जाए, तो माफ़ी मांग लें और भविष्य में ग़लती न दोहराने कावादा भी करें. हो सकता है आपके लिए वह बात मामूली हो, पर पार्टनर को अच्छी न लगे. 

पार्टनर की सलाह व निर्णय का भी सम्मान करें: पार्टनर की सलाह व निर्णय को अगर आप सम्मान देंगे, तो उनका भरोसाऔर लगाव आपके प्रति बढ़ेगा और रिश्तों में वो पसरा सन्नाटा टूटने लगेगा, इसलिए पार्टनर की सलाह भी लें और अगर वोसही लगती है, तो उस पर अमल भी करें. 

बात-बात पर बार-बार टोकें नहीं, कुछ चीज़ो को नज़रअंदाज़ करें: रिश्तों की मज़बूती के लिए बहुत-सी बातों को इग्नोरकरना व एडजेस्ट करना भी ज़रूरी होता है. पार्टनर के अलग व्यक्तित्व को सम्मान दें, उन्हें अपना जैसा बनाने की कोशिशमें निराशा ही हाथ लगेगी. हम सब एक जैसे नहीं होते. हो सकता है पार्टनर की कोई बात आपको पसंद नहीं आती, तो बार-बार उन्हें टोकने से बेहतर है कि नज़रअंदाज़ करें या फिर प्यार से समझाएं. 

सेक्स लाइफ को नज़रअंदाज़ न करें, उसमें ऊर्जा बनाए रखें: आपका रिश्ता बहुत हद तक आपकी सेक्स लाइफ पर भीनिर्भर करता है. सेक्स को मशीनी क्रिया न समझकर प्यार के इज़हार का ज़रिया समझें. आपस में बात करें कि आपकोक्या पसंद है, क्या नापसंद है. बेडरूम के डेकोर को चेंज करें, जगह बदलें, ताकि सेक्स लाइफ भी रूटीन बनकर न रहजाए. बेडरूम में तनाववाली बातें करने से बचें. पार्टनर के लिए अट्रैक्टिव सेक्सी ड्रेस पहनें. एरोमा कैंडल्स यूज़ करें. अगरपार्टनर थका हुआ है और परेशान है, तो सेक्स पर ज़ोर न देकर सेक्सी मसाज दें. हो सकता है इससे उनकी थकान दूर होजाए और वो भी मूड में आ जाएं. पर्सनल हाईजीन से लेकर पार्टनर की ज़रूरतों का ख़्याल रखने तक… कुछ भी आपइग्नोर नहीं कर सकते. 

  • भोलू शर्मा 
×