दांतों और मसूड़ों का यूं रख...

दांतों और मसूड़ों का यूं रखें ख़्याल (Tips For Healthy Teeth And Gums)

जब आप हंसते-मुस्कुराते हैं, तो दुनिया को अपनेपन का एक ख़ूबसूरत संदेश देते हैं. इसमें आपके दांत ख़ासतौर साथ देते हैं. ऐसे में दो कारणों से इनका ख़्याल रखना बहुत ज़रूरी हो जाता है, एक सेहत और दूसरा व्यक्तित्व. इसके लिए मुंह की सफ़ाई, जिसे हम ओरल हाइजीन कहते हैं, बेहद ज़रूरी है. अगर आपके मुंह से दुर्गंध आती है या आपके दांत गंदे हैं, तो कोई भी व्यक्ति या महिला आपके नज़दीक आने या आपसे बात करने से कतराने लगेगा और उसके मन में आपके प्रति नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा, जिससे आपके सामाजिक जीवन पर भी बुरा प्रभाव पड़ेगा. ऐसा ना हो, इसलिए डॉ. सबा कलीम (डेंटिस्ट) हमें महत्वपूर्ण जानकारियां दे रही हैं. आइए उनसे जानते हैं कि कैसे अपने दांतों और मसूड़ों का ख़्याल रखें.

रोज़ाना ब्रश करना

  • जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हमारे दांतों को रोज़ाना दो बार ब्रश करना ज़रूरी है, क्योंकि यह हमारे दांतों को साफ़ करता है और बैक्टीरिया फ्री रखता है. * सुबह के समय हमारे मुंह में बैक्टीरिया की संख्या सबसे ज़्यादा होती है, इसलिए हमें सुबह ब्रश अवश्य करना चाहिए.
  • रात को सोने से पहले भी हमें ब्रश ज़रूर करना चाहिए.
  • आमतौर पर लोगों को ब्रश करने का सही तरीक़ा नहीं मालूम होता है, जिसके कारण उनकी दांतों की सफ़ाई सही तरीक़े से नहीं हो पाती.
  • ज़्यादा हार्ड ब्रश इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, इससे दांतों की लेयर घीस जाती है और दांतों में सेंसटिविटी की प्रॉब्लम हो जाती है और मसूड़ों की भी बीमारी हो जाती है.
  • हमें हमेशा सॉफ्ट ब्रश इस्तेमाल करना चाहिए.
  • ब्रश को हमेशा छोटे सर्कुलर मोशन में दांतों पर आगे-पीछे और ऊपर की तरफ़ हल्के हाथों से घुमाना चाहिए.

एक बार रोज़ाना फ्लॉस करें

  • ब्रश करने के बाद भी हमारे दांतों के वह हिस्से जहां हमारा ब्रश नहीं पहुंच पाता है या दांतों के बीच की जगह, जहां भोजन की छोटे कण जमा हो जाते हैं, उन जगहों पर हमें फ्लॉस का उपयोग करना चाहिए.
  • यह हमारे दांतों को साफ़ करने के अलावा मुंह से दुर्गंध जैसी समस्याओं को भी दूर करता है.

माउथवॉश इस्तेमाल करें

  • माउथवॉश ब्रश करने के आधे घंटे बाद इस्तेमाल करने से सही रिजल्ट आता है.
  • यह हमारे दांतों के साथ-साथ मसूड़ों की समस्या, जीभ और मसूड़ों की दुर्गंध जैसी समस्याओं को दूर करता है.
  • माउथवॉश से 30 सेकंड तक मुंह में गार्गिल यानी गरारे करें. ऐसा दिन में दो बार करें.

फ्लोराइड का इस्तेमाल करें

  • फ्लोराइड फ्लोरिंन से बनता है. यह मिट्टी का एक तत्व है. यह हमारे दांतों को सड़ने से बचाता है.
  • यह पीने के पानी में पाया जाता है तथा टूथपेस्ट में भी मौजूद होता है.

धूम्रपान और तंबाकू का सेवन न करें

  • धूम्रपान और तंबाकू हमारे सेहत के लिए बहुत ही हानिकारक है. यह हमारे फेफड़ों को नुक़सान पहुंचाता है और साथ ही दांतों और मसूड़ों के लिए भी बेहद हानिकारक है.
  • यह हमारे मसूड़ों में हीलिंग यानी घाव के भरने की प्रक्रिया को धीमा और कमज़ोर करता है.
  • जीभ, मुंह के अंदरूनी हिस्से और दांतों को पीला करता है.
  • ज़्यादा धूम्रपान और तंबाकू के सेवन से मुंह के कैंसर होने का ख़तरा ज़्यादा रहता है.

पानी प्रचुर मात्रा में पीएं

  • पानी हमारे जीवन का सबसे महत्वपूर्ण पेय पदार्थ है.
  • पानी पीने से शरीर के साथ-साथ हमारे दांत और मसूड़ों को भी साफ़ रखने में मदद मिलती है.
  • यह हमारे दांतों के बीच फंसे भोजन के छोटे कणों को साफ़ करता है.

फल-सब्ज़ी का सेवन अवश्य करें

  • फल-सब्ज़ी हमारे दांतों को साफ़ रखने तथा मसूड़ों और दांतों को न्यूट्रिशन पहुंचाने में मदद करता है, जैसे- सेब, गाजर, अजवाइन और पत्तेदार सब्ज़ियां इत्यादि.
  • बहुत से फल और सब्ज़ी हैं, जो विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती हैं. वह हमारी मसूड़ों और ओरल टिश्यू को सही रखती हैं.
  • साथ ही बैक्टीरियल इंफेक्शन से भी हमारे दांत और मसूड़ों को बचाती हैं.
Tips For Healthy Teeth


यह भी पढ़ें: 5 आम रोग, 5 ईज़ी योग (Easy Yoga For Common Diseases)