डेली रूटीन में अपनाएं ये होम रेम...

डेली रूटीन में अपनाएं ये होम रेमेडीज़, हमेशा रहेंगे फिट और हेल्दी (Try These Home Remedies In Daily Routine To Stay Fit And Healthy)

हेल्दी और फिट रहने के लिए आपको अलग से कुछ बड़ा प्लान करने की ज़रूरत नहीं, बल्कि छोटे-छोटे स्टेप्स अपने डेलीरूटीन में फ़ॉलो करेंगे तो हमेशा फिट और हेल्दी रहेंगे. 

  • सुबह समय से उठने का नियम बनाएं. अपने दिन की शुरूआत बेहतर करें. 
  • पॉज़िटिव माइंड के साथ अपनी दिनचर्या को हेल्दी रखें.
  • सबसे पहले एक ग्लास गुनगुना पानी पीएं.
  • अगर नींबू और शहद मिलाकर पानी पिएं तो भी अच्छा है.
  • हेल्दी ऑयल्स को अपने डायट में शामिल करें. रोज़ सुबह 1 टीस्पून फिश ऑयल लेना भी काफ़ी हेल्दी होता है.
  • डेली आधा घंटा एक्सरसाइज़, योग या वॉक ज़रूर करें.
  • ब्रेकफ़ास्ट ज़रूर करें क्योंकि आपको हेल्दी व  फिट बनाए रखने में इसका बहुत बड़ा हाथ है. रिसर्च बताते हैं कि जोलोग नाश्ता करते उन्हें डायबिटीज़ का ख़तरा नाश्ता ना करनेवालों की तुलना में कम रहता है.
  • इसके अलावा जो लोग नाश्ता नहीं करते उनकी वेस्ट लाइन यानी कमर नाश्ता करनेवालों की तुलना में अधिक होतीहै, क्योंकि हेल्दी ब्रेकफ़ास्ट आपको मीठा और  जंक फ़ूड खाने की क्रविंग्स से बचाता है. 
  • रोज़ाना भरपूर पानी पीएं. ये बॉडी को टॉक्सिन फ्री रखने में मदद करता है.
  • इसके अलावा पानी का एक और हेल्थ बेनीफिट ये भी है कि यदि आपको सिर दर्द हो रहा है तो थोड़े-थोड़े अंतरालपर पानी पीते रहें, इससे आपकी बॉडी हाइड्रेट रहेगी और सिर दर्द में भी राहत मिलेगी.
  • छोटी-मोटी तकलीफ़ों में पेन किलर्स लेने की बजाय घरेलू नुस्ख़े आज़माएं. 
  • गले में ख़राश, दर्द या खांसी है तो चुटकीभर दालचीनी पाउडर शहद में मिलाकर चाटें.
  • दालचीनी पाउडर लेकर ऊपर से पानी पीने से सिर दर्द में भी आराम मिलता है.
  • आप इसे सलाद, चाय या दही में भी मिक्स करके ले सकते हैं, ये वेट लॉस में भी मदद करता है. 
  • फेफड़ों में कफ जमा हो जाए तो गुनगुने सरसों के तेल में सेंधा नमक मिलाकर छाती की मालिश करें. 
  • सरसों के तेल में लहसुन की कलियां मिलाकर भी मालिश करने से आराम मिलता है. 
  • माइग्रेन या सामान्य सिर दर्द में भी सेब पर नमक बुरककर खाने से राहत मिलती है.
  • इतना ही नहीं, सेब में एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं, जो पेट के स्वास्थ्य के लिए भी अच्छे माने जाते हैं. 
  • सेब फाइबर का अच्छा स्रोत भी है और गुड बैक्टीरिया को पनपाने में भी मदद करता है. 
  • अपना आहार संतुलित व पौष्टिक रखें. मौसमी फल और सब्ज़ियां ज़रूर खाएं. हर रंग के फल व सब्ज़ियां खाएं.
  • पपीते में विटामिन ए, बी और सी और कई तरह के एन्ज़ाइम्स होते हैं, जो खाने को डायजेस्ट करने में मदद करतेहैं. स्टडीज़ बताती हैं कि पपीता खाने से डायजेस्टिव सिस्टम में सुधार होता है.
  • ग्रीन टी को अपने रूटीन में शामिल करें. 
  • बहुत ज़्यादा नमक और मीठा खाने से बचें.
  • बहुत ज्यादा चाय-कॉफी या अल्कोहल से बचें.
  • हेल्दी रहने के लिए अपने डायट में प्रोटीन, फ़ाइबर, कैल्शियम और फ़ैटी एसिड्स शामिल करें.
  • केले में फाइबर और पेक्टिन भरपूर मात्रा में होता है, जो आंतों के स्वास्थ्य के लिएबहुत फायदेमंद होता है. 
  • दूध, छाछ, दही, ग्रीन लीफी यानी हरी पत्तेदार सब्ज़ियों को ज़रूर लें.
  • फिश ब्रेन हेल्थ के लिए काफ़ी फायदेमंद है. अगर आप नॉन वेज खाते हैं तो फिश को डायट में शामिल करें.
  • अगर आप नॉन वेज नहीं खाते तो अखरोट का सेवन करें. ये भी ब्रेन हेल्थ के लिए काफ़ी लाभकारी है.
  • खाना खाने के कुछ देर बाद लेमन शॉट लें. ये आपकी पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है. 
  • हेल्दी स्नैकिंग करें. ड्राई फ़्रूट्स, सलाद, सूप्स, ब्राउन ब्रेड सैंडविच, सूखा भेल आदि लें. 
  • ड्राई फ़्रूट्स और फ़्रूट सलाद में एक बात का ध्यान रखें कि अगर आपकी फ़िज़िकल एक्टिविटी कम है तो ड्राई फ़्रूट्सऔर शुगरी फ़्रूट्स कम लें या फिर शाम को 6-7 बजे se पहले ही खा लें.
  • खाने के फ़ौरन बाद पानी न पिएं. 
  • डिनर भी सोने से 3-4 घंटे पहले ही कर लें. 
  • नींद पूरी लें. रिलैक्स होकर सोएं. सोने से पहले मीठा दूध पिएं. अगर नींद की समस्या है तो सोते समय सारे विचारमन से निकालकर मंत्र का जाप करें. अपना ध्यान सांस पर केंद्रित रखें. सिर से लेकर पैर तक शरीर को रिलैक्स कर दें.
  • कहते हैं पेट ठीक रहेगा तो पूरा शरीर सही रहेगा इसलिए अपने पाचन तंत्र को ठीक रखने की कोशिश करें. 
  • इसी तरह अपनी इम्यूनिटी को भी बेहतर बनाने की तरफ ध्यान दें. 
  • संतरा, नींबू, टमाटर, बेरीज़, अंगूर, गाजर, मेथी, पालक- ये सभी इम्यूनिटी बूस्टर फूड्स हैं. साथ ही शहद, तुलसी, गिलोय, सीड्स, ओट्स, बींस, दालें भी आपको हेल्दी रखते हैं- इनको अपने डायट में शामिल करें.
  • लहसुन, अदरक, शकरकंद, मशरूम,  विटामिन डी, दही आदि भी इम्यूनिटी बूस्ट करते हैं.
  • योगासन, प्राणायाम और मेडिटेशन भी इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाते हैं.
  • गोल्डी शर्मा 
×