योगा के लिए वॉर्मअप टिप्स (Yoga Tips for Vormap)

Yoga Tips

2योगासन शुरू करने से पहले वॉर्म अप और आसन आदि के बारे में पूरी जानकारी ले लेनी चाहिए, वरना एक्सपर्ट की ग़ैरमौजूदगी में आप ख़ुद को चोट भी पहुंचा सकते हैं.

 

– योगासन की शुरुआत करते समय ख़ुश रहें. आपके चेहरे पर मुस्कान होनी चाहिए.

 

– इसके बाद नींद भगाने के लिए सबसे पहले एक ही जगह पर खड़े-खड़े जॉगिंग करें. यकीन मानिए आपकी नींद 2 मिनट में भाग जाएगी.
– गर्दन को दोनों तरफ़ से 5-5 बार घुमाएं, हाथों को आगे-पीछे फैलाएं.
– माथे, गर्दन, गाल, कान, आईब्रो को हल्के हाथों से मसाज करें.
– कंधों को 5 बार आगे और 5 बार पीछे घुमाएं.
– घुटने को मोड़ते हुए ऐसे बैठें, जैसे सोफे पर बैठे हों.
– अब अपनी योगा मैट पर बैठ जाएं और थोड़ी देर रिलैक्स होकर अपने मनपसंद आसन करें.

 

– योग कभी भी सीधे ज़मीन पर न करें, बल्कि योगा मैट, दरी या कालीन बिछाकर करें.
– योग में सांसों का बहुत महत्व है, इसलिए ध्यान रखें कि जब भी शरीर को फैलाएं या पीछे की ओर झुकें, तो सांस लें और शरीर को सिकोड़ते व़क्त सांस छोड़ें.
– योगासन सुबह-शाम कर सकते हैं. पर ध्यान रहे कि पानी पीने के तुरंत बाद योगासन न करें, बल्कि 15-20 मिनट रुककर करें. चाय-कॉफी आदि के आधे घंटे बाद ही योगासन करें.
– योग करते व़क्त फाइनल पोश्‍चर तक पहुंचने की जल्दबाज़ी कभी न करें और न ही किसी पोज़ को ज़बर्दस्ती ट्राई करें. अगर कोई पोज़ आपसे नहीं हो रहा, तो उसे छोड़ दें.
– योग के साथ डायट पर ध्यान देना भी उतना ही ज़रूरी है. योग करने का यह कतई मतलब नहीं कि सुबह योग करें और दिनभर तला-भुना जंक फूड खाएं. योग के साथ-साथ यौगिक लाइफस्टाइल भी अपनाएं, तभी बेहतर परिणाम हासिल होगा.
– बहुत-से लोग रोग भगाने के लिए योग करते हैं, पर अगर इसे रोज़मर्रा की ज़िंदगी में शामिल कर लें, तो आप हमेशा निरोग रह सकते हैं.
– कुछ लोगों को हर काम में तुरंत परिणाम चाहिए होता है और वे योग में भी तुरंत परिणाम चाहते हैं और हफ़्ते-दो हफ़्ते करके छोड़ देते हैं कि असर ही नहीं हो रहा. योग कोई इंस्टेंट पेन रिलीफ नहीं है, जो तुरंत असर दिखाए. ख़ुद को कम से कम छह महीने का समय दें, उसके बाद ही निर्णय लें कि असर हो रहा है या नहीं.