जीभ का रंग बताएगा सेहत का हाल (What Your Tongue Can Tell You About Your Health)

1- अगर आपकी जीभ (Tongue) का रंग हल्का गुलाबी है और उस पर दाग धब्बे नहीं हैं तो यह स्वस्थ जीभ (Healthy Tongue) की निशानी है. ऐसी जीभ नम होती है.
2- दवाओं का साइड इफेक्ट होता है तो जीभ बैंगनी या नीले रंग की हो जाती है, अगर जीभ का रंग ऐसा है तो यह बिटामिन बी 2 की कमी, शरीर में दर्द और सूजन का संकेत भी हो सकता है. इसके अलावा यह नर्वस सिस्टम में गड़बड़ी का भी संकेत हो सकता है.

Tongue
3- चमकते लाल रंग वाली जीभ का मतलब बुखार, अंदरूनी चोट या संक्रमण हो सकता है. बिटामिन बी और आयरन की कमी का भी संकेत है.
4- जीभ पर पीले रंग की परत सर्दी, वायरल इंफेक्शन, आंतों की समस्या और अपच का संकेत देती है. बिटामिन बी 12 की कमी भी हो सकती है.
5- जीभ में छोटे-छोटे दरार जैसे निशान दिखाई दें तो समझ लें कि आपकी रोग
प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित हुई है. आप अपने डॉक्टर से परामर्श लें.
6- अगर आपकी जीभ का रंग स़फेद है इसका मतलब यह है कि आपकी बॉडी डिहाइड्रेटेड है और ओरल हाइजिन काफी खराब स्थिति में है. लेकिन अगर ये कोटिंग कॉटेज चीज की लेयर की तरह दिखती है तो इसका मतलब आपको लिकोप्लेकिया हो सकता है, जो कि स्मोकिंग की वजह से होता है. इसके अलावा स़फेद जीभ फ्लू की वजह से भी होती है। ऐसी स्थिति में डॉक्टर से जरूर सलाह लें.
7- अगर जीभ में पीलापन है इसका मतलब शरीर में पौष्टिक तत्वों की कमी है. जिसे आप आपनी डायट में बदलाव करके आसानी से ठीक कर सकते हैं. अगर आपके डाइजेस्टिव सिस्टम में कोई समस्या है या आपको लिवर या पेट की कोई दिक्कत है तो ऐसे में जीभ पर पीली कोटिंग जम जाती है. लेकिन इसके लिए आपको परेशान होने की ज़रूरत नहीं है.
8- महिलाओं में जब मासिक धर्म की शुरुआत होती है तो जीभ का अगला हिस्सा लाल हो जाता है. इसके अलावा यह शरीर में कमजोरी और मानसिक परेशानी का लक्षण है.
9- जीभ के दोनों किनारे अधिक लाल हो गए हैं तो आपको आंतों की समस्या हो सकती है.
10- वयस्कों से ज़्यादा बच्चों में बड़ी जीभ की समस्या पायी जाती है जो थायराइड की समस्या का संकेत है.
11- अगर आप कैफीन लवर हैं तो आपकी जीभ ब्राउन हो सकती है, इसमें कोई आश्चर्य नहीं है. स्मोकिंग से भी जीभ का रंग ब्राउन हो जाता है. जो लोग बहुत लंबे समय से स्मोक कर रहे हैं उनकी जीभ पर ब्राउन रंग की एक परमानेन्ट लेयर जम जाती है, इन्हें डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए.

ये भी पढ़ेंः बड़ी बीमारी के संकेत हो सकते हैं ये शारीरिक संकेत (Never Ignore These Signs By Your Body)