जब विद्या बालन को लोगों ने कह दि...

जब विद्या बालन को लोगों ने कह दिया था ‘पागल’, जानें आखिर क्या था यह पूरा मामला (When People Called Vidya Balan ‘Crazy’, Know What Was the Whole Matter)

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस विद्या बालन (Vidya Balan) आज कामयाबी के जिस शिखर पर हैं, वहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने काफी संघर्ष किए हैं. सालों के संघर्ष, अपने टैलेंट और कड़ी मेहनत के दम पर विद्या ने इंडस्ट्री में अपनी एक मज़बूत जगह बनाई है. विद्या इंडस्ट्री की एक ऐसी एक्ट्रेस हैं, जिन्होंने अपने हर किरदार को पर्दे पर इस तरह से जीवंत किया है, जिन्हें देखने के बाद यही लगता है कि उनके सिवा इन किरदारों के साथ कोई और न्याय नहीं कर पाता. चाहे ‘डर्टी पिक्चर’ में सिल्क स्मिता का किरदार हो या फिर ‘शकुंतला देवी’ का रोल, विद्या अपने हर किरदार में कमाल लगी हैं.

Vidya Balan
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

अपने हर किरदार में जान फूंकने वाली विद्या बालन के करियर में एक ऐसा समय भी आया था, जब लोगों ने उन्हें मनहूस और पागल तक कह दिया था. आखिर इन सबके पीछे वजह क्या थी आइए जानते हैं. यह भी पढ़ें: ‘एक प्रोड्यूसर ने इतना बदसूरत महसूस कराया था कि 6 महीने तक खुद को आईने में देखने की हिम्मत नहीं जुटा पाई थी मैं…’ विद्या बालन का खुलासा! (‘I Didn’t Look In The Mirror For 6 Months’ Vidya Balan Recalls How A Producer Made Her Feel Ugly)

Vidya Balan
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

दरअसल, विद्या बालन ने शादी से ठीक पहले एक फिल्म साइन की थी और यह साल 2011 में आई फिल्म ‘द डर्टी पिक्चर’ थी, जिसमें विद्या ने सिल्क स्मिता का किरदार निभाया था. हालांकि फिल्म साइन करते वक्त विद्या काफी नर्वस थीं, क्योंकि यह साउथ की मशहूर एक्ट्रेस सिल्क स्मिता की ज़िंदगी पर आधारित थी. फिल्म में सिल्क स्मिता का किरदार विद्या ने निभाया था.

Vidya Balan
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

कहा जाता है कि जब विद्या बालन ने अपने पिता को बताया कि उन्हें फिल्म ‘द डर्टी पिक्चर’ में सिल्क स्मिता का रोल ऑफर हुआ है और यह एक बोल्ड फिल्म है, तो उनके पिता ने बेटी का साथ दिया. इतना ही नहीं जब यह फिल्म रिलीज़ हुई तो उसे देखकर विद्या के पिता खुश भी हुए.

Vidya Balan
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

हालांकि जब यह खबर सामने आई थी कि विद्या ने ‘द डर्टी पिक्चर’ साइन की है तो लोगों ने उन्हें पागल तक कह दिया था. पागल कहने के साथ-साथ लोग यह भी कहने लगे थे कि इस फिल्म को करने से उनके करियर का अंत हो जाएगा, लेकिन हुआ इसका बिल्कुल उल्टा, क्योंकि जब यह फिल्म रिलीज़ हुई तो यह सुपरहिट साबित हुई. दरअसल, लोगों के ताने सुनने बाद भी विद्या ने सिर्फ अपने मन की आवाज़ सुनी और अपने किरदार को पूरी शिद्दत से निभाया. इसका नतीजा यह हुआ कि इसके लिए विद्या बालन को नेशनल अवॉर्ड मिला.

Vidya Balan
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

विद्या के साथ साउथ फिल्म इंडस्ट्री में काम करने के दौरान एक ऐसा वाकया हुआ था, जिसके चलते उन्हें मनहूस तक कह दिया गया था. विद्या की मानें तो उन्होंने मोहनलाल और डायरेक्टर कमन के साथ एक मलयालम फिल्म की थी. दोनों की इस मशहूर जोड़ी ने करीब 8 फिल्में एक साथ की थीं और नौवीं फिल्म में विद्या थीं, लेकिन इस फिल्म के दौरान दोनों के बीच किसी बात को लेकर अनबन हो गई और फिल्म बंद हो गई, जिसका इल्जाम विद्या पर लगा और उन्हें मनहूस तक कह दिया गया. यह भी पढ़ें: एक फिल्म के लिए इतनी फीस लेती हैं विद्या बालन, जानें और क्या है एक्ट्रेस की कमाई का जरिया (Vidya Balan Charges So Much for A Film, Know What Else Is The Actress’s Means Of Earning)

Vidya Balan
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

आपको बता दें कि विद्या बालन ने साल 2006 में बॉलीवुड में कदम रखा था और उन्होंने विधु विनोद चोपड़ा की फिल्म ‘परिणीता’ में लीड रोल प्ले किया था. इसके बाद तो उन्होंने एक से बढ़कर एक हिट फिल्मों की झड़ी सी लगा दी. बॉलीवुड में डेब्यू करने से पहले विद्या को मलयालम फिल्म ‘चक्रम’ में ब्रेक मिला था. गौरतलब है कि बड़े पर्दे पर अपनी एक्टिंग का जलवा बिखेरने से पहले विद्या ‘हम पांच’ और ‘हंसते खेलते’ जैसे टीवी सीरिल्स में नज़र आ चुकी हैं.  

×