आख़िर ऐसा स्टेटमेंट क्यों दे दिया आडवाणी ने? (Why did Advani give this statement?)

हैरान मत होइए. यहां हम लालकृष्ण आडवाणी की नहीं, बल्कि भारतीय स्टार बिलियर्ड्स खिलाड़ी पंकज आडवाणी की बात कर रहे हैं. आडवाणी इस हफ़्ते चर्चा का विषय बने हुए हैं. हाल ही में पंकज ने कई बार के विश्‍व चैंपियनशिप के विजेता गिलक्रिस्ट को बैंगलौर में खेले गए 11वीं बिलियर्ड्स चैंपियनशिप के फाइनल में 6-3 से हराकर ट्रॉफी पर अपना कब्ज़ा जमाया. पंकज का यह कुल 16वां विश्व ख़िताब है.

Pankaj Advani

इस जीत के बाद जब कॉन्ग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीटर पर उन्हें बधाई देते हुए जीत का आंकड़ा ग़लत लिख दिया, तो पंकज से रहा नहीं गया और उन्होंने बड़े ही सलीके से पहले तो सिंधिया को थैंक्स कहा, फिर अपनी जीत का सही आंकड़ा बताया. यहां तक तो ठीक था, लेकिन इसके बाद पंकज ने एक और ट्विट किया और उसमें यह लिखा कि उनकी इस तरह की जीत शायद ही देश के लिए मायने रखती है. उन्हें इस तरह की जीत की बजाय 4 साल में एक बार मेडल जीतना चाहिए. पंकज के इस ट्विट के बाद सिंधिया ने कोई नया ट्विट नहीं किया.

 

अब पंकज के ट्विट से ये साफ़ झलकता है कि पंकज इस गेम को लेकर देश में होनेवाली इस तरह की प्रतिक्रिया से नाराज़ हैं. उन्हें लगता है कि इस गेम को और उन्हें ज़्यादा तरजीह नहीं दी जाती. उन्हीं खिलाड़ियों को याद किया जाता है, जो वर्ल्ड कप जैसे बड़े गेम में मेडल लाते हैं. हर साल मेडल जीतनेवाले की कोई पूछ नहीं.

हम तो यही कहेंगे कि पंकज आप निराश न हों, क्योंकि देश को आप पर गर्व है, क्योंकि आप हमारे स्टार प्लेयर हैं. आपको बिलियर्ड्स चैंपियनशिप की जीत के लिए मेरी सहेली (Meri Saheli) की पूरी टीम आपको बधाई देती है.

– श्वेता सिंह