Family Drama

कहानी- आत्मविश्‍वास (Short Story- Atmavishwas)

वहां जाकर उसे पता चला कि वह कुछ लोगों के मुक़ाबले कितनी अच्छी स्थिति में थी. वे औरतें जो ...

कहानी- सर्द ज़मीन (Short Story- Sard Zamin)

अकेलापन उसके अंदर इस कदर भर गया था कि दिनभर ऑफ़िस में थकने के बावजूद वह सो नहीं पाती. रात का ...

कहानी- समय की खोह (Short Story- Samay Ki Khoh)

मानसिक तनाव से मुक्ति के प्रयास में पत्नी तक को भूल जाने वाला व्यक्ति तब भले ही स्वयं को छलता ...

कहानी- जीवनधारा (Short Story- Jeevandhara)

बहुत ख़ुश थी मैं. मुझे जब पहली तनख़्वाह मिली, तो मम्मी-पापा और सास-ससुर के लिए उपहार ख़रीदा. मेरे ...

कहानी- खाली कमरे के मेहमान (Short Story- Khali Kamare Ke Mehman)

“पागलोंवाली बात है तो पागलोंवाली ही सही. जानते हैं पापाजी, जब मैंने यूएस की अपनी अच्छी-ख़ासी ...

कहानी- ऑर्डरवाली बहू (Short Story- Orderwali Bahu)

मॉडर्न टेक्नोलॉजी का फ़ायदा उठाकर आजकल की ये कामकाजी बच्चियां घर-बाहर सब मैनेज कर तो लेती हैं, ...

कहानी- सच्चा समपर्ण (Short Story- Sachcha Samarparn)

वैसे भी अरेंज मैरिज में होता भी तो यही है, दो अजनबियों को मां-बाप एक ही छत के नीचे ताउम्र रहने को ...

कहानी- मेला (Short Story- Mela)

छोटे-छोटे बच्चों का हाथ पकड़े परिवार के परिवार घूम रहे थे और जीवन के हर रंग का आनंद उठा रहे थे. वे ...

कहानी- फ्लैश फॉरवर्ड (Short Story- Flash Forward)

”हां, तो मैं बता रही थी कि फिर एक दौर ऐसा आया कि हम दोनों ही अकेले हो गए. उसकी पत्नी की मृत्यु हो ...

कहानी- डोर का धागा (Short Story- Dor Ka Dhaga)

उसे अपने शरीर में एक लिजलिजाहट-सी महसूस हुई. अलग होने पर दुखी होने की बजाय ये सब भद्देपन का ...

कहानी- स्वध्यान (Short Story- Swadhyan)

सबके हंसते-खिलखिलाते चेहरों के बीच वो भी हंसती-खिलखिलाती काम किए जा रही थी. हर काम के लिए उसे ...

कहानी- शेष प्रश्‍न… (Short Story- Shesh Prashan…)

“दीदी, आप मेरी गुरु हैं, इसलिए आपके घर आ सकती हूं, वरना जिस घर में लड़के होते हैं, वहां मां मुझे ...

1 2 3 4 5 16