उम्र बढ़ने के साथ-साथ बच्चों को ब...

उम्र बढ़ने के साथ-साथ बच्चों को बनाएं आत्मनिर्भर, सिखाएं छोटे-छोटे लेकिन ये ज़रूरी काम (Children Must Know These Work To Become Dependent In Life)

बच्चों की अच्छी परवरिश के साथ जरूरी है कि उन्हें आत्मनिर्भर बनाया जाए. लेकिन कुछ बच्चे ऐसे स्वभाव के होते हैं, जो काम से जी चुराते हैं, हर छोटे-छोटे काम के लिए पैरेंट्स पर निर्भर रहते हैं.पैरेंट्स को भी समझना चाहिए कि बच्चों के लिए बेहतर भविष्य के लिए पढ़ने और खेलने के अलावा और भी बहुत से  छोटे-छोटे काम हैं,जो उन्हें आत्मनिर्भर बनाते हैं. आइए जानते हैं कौन से हैं वे काम-

घर का छोटा-छोटा सामान मंगवाएं

बचपन से बच्चों को स्मार्ट बनाना चाहते हैं, तो उनसे रोज़ाना इस्तेमाल में होने वाले सामान- जैसे ब्रेड, दूध, स्टेशनरी के सामान आदि की शॉपिंग करवाएं. ऐसा करने से बच्चे अकेले जाना शुरू करेंगे और बाहरी  दुनिया को समझेंगे. उन्हें सामान खरीदने का अनुभव होगा और उनका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा.

छोटी छोटी चीज़ें बनाना सिखाएं

12 साल के बाद बच्चों को कुकिंग करना भी सिखाएं. कुकिंग के दौरान बच्चों को नूडल्स, ऑमलेट, अंडे उबालना, दूध गर्म करना, ब्रेड-बटर/ ब्रेड जैम लगाना, चाय बनाना सिखाएं. जिससे भूख लगने पर बच्चे पैरेंट्स के ऊपर निर्भर न रहें और ख़ुद कुछ बनाकर खा सकें.

अपना सामान व्यवस्थित करना सिखाएं

बच्चों को सेल्फ कॉन्फिडेंट और सेल्फ इंडिपेंडेंट बनाना  चाहते हैं, तो उन्हें अपना कमरा, अपना कपडे और अपना सामान व्यवस्थित करना सिखाएं. इससे उन्हें चीज़ों को ऑर्गनाइज़्ड आएगा और अपने सामान का भी पता रहेगा. पैरेंट्स की अनुपस्थिति में उन्हें किसी तरह की कोई परेशानी भी नहीं होगी.

कपड़ों की देखभाल करना

बच्चों को आत्म निर्भर बनाने के लिए उन्हें अपने काम खुद करना सिखाएं. विशेष रूप से धुले हुए कपड़ों को सुखाना, प्रेस किए हुए कपड़ों को अलमारी में संभाल कर रखना और आलमारी की साफ़-सफाई करना. इस तरह के काम करवाने से बच्चों को अपने कपड़ों को संभाल कर रखने और हाइजीन की भी आदत पड़ेगी.

रूम को साफ रखना सिखाएं

अक्सर बच्चे अपने कमरे को फैलाकर या बहुत गंदा करके रखते हैं. और उनके कमरे की साफ़-सफाई का जिम्मा पैरेंट्स का होता है. जैसे-जैसे बच्चे होते जाएं, उन्हें अपने कमरे की साफ-सफाई करना सिखाएं.  इसके अलावा अपने कमरे को व्यवस्थित करना और हर चीज़ को अपनी जगह पर रखना भी सिखाएं.

कैब बुकिंग टिप्स

बच्चों को कैब बुकिंग टिप्स बताएं बारह साल या उस से बड़ी उम्र के बच्चों को ऑनलाइन कैब बुक करना जरूर सिखाएं. ताकि इमरजेंसी में वे कैब बुक करने में सक्षम रहें. साथ ही बच्चों को अपने घर और आसपास के एड्रेस से भी अवगत जरूर कराएं.

और ही पढ़ें: बच्चों का कैसे बनाएं रिस्पॉन्सिबल? (How to Make Your Children Responsible?)

×