वर्किंग मदर के लिए लाभकारी हेल्थ व फिटनेस टिप्स (Health Tips For Working Mothers)

वर्किंग मदर्स (Working Mothers) की ज़िंदगी आसान नहीं होती. घर-ऑफिस के साथ ही बच्चे की देखभाल करने में वो इतनी बिज़ी रहती हैं कि उन्हें ख़ुद की सेहत के बारे में सोचने की फुर्सत ही नहीं रहती, लेकिन ये लापरवाही आपको भारी पर सकती है. अतः 24/7 की ड्यूटी बजाने के लिए अपनी सेहत (Health) का ध्यान रखें..

Health Tips For Working Mothers

डीहाइड्रेशन– शरीर में पानी की कमी से डीहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है. अतः दिन में कम से कम 10 से 12 ग्लास पानी पीएं. भूख शांत करने के लिए फास्ट फूड और स्नैक्स की जगह टिफिन बॉक्स में कटे हुए गाजर, खीरा और टमाटर ले जाएं. काम से बीच-बीच में ब्रेक लेकर पानी पीती रहें.

डायट- बैलेंस डायट यानी प्रोटीन, विटामिन्स, मिनरल्स से भरपूर डायट इम्यून पावर के साथ ही आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा है. खाने में फैट और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम रखें. विशेषज्ञों की राय है कि ऑफिस में चाय, कॉफी और अन्य ड्रिंक्स की बजाय फ्रूट जूस पीना आपकी सेहत के लिए बेहतर है. यदि आपको चाय/कॉफी पीनी ही है तो इसमें शक्कर की मात्रा कम रखें.

एक्सरसाइज़- रोज़ाना सुबह उठने के बाद कुछ देर के लिए ही सही, लेकिन एक्सरसाइज़ ज़रूर करें. यदि आपके पास समय है तो मेडिटेशन आपके लिए बेस्ट है. मेडिटेशन हमें फिट रखने के साथ ही तनावमुक्त भी रखता है, जिससे हम शांति से सारे काम कर पाते हैं. अगले दिन की प्लानिंग रात में ही कर लें. इससे आप सुबह ख़ुद के लिए वक़्त निकाल पाएंगी. यदि संभव हो तो मॉर्निंग वॉक पर निकल जाएं. ऑफिस में लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल करें. जल्द ही आपको इन बदालवों का असर दिखने लगेगा.

ब्रेकफास्ट/लंच स्किप न करें- ख़ुद को फिट रखने के लिए रेग्युलर एक्सरसाइज़ ज़रूर करें, लेकिन ग़लती से भी ब्रेकफास्ट/लंच स्किप न करें. बेहतर होगा कि इसकी बजाय ऑफिस में कलिग्स द्वारा ऑफर किए गए चिप्स, बिस्किट, कुकीज़ आदि से दूर रहें. यदि शरीर को ज़रूरी पोषण नहीं मिलेगा तो आप इमोशनल ईटिंग की शिकार हो सकती हैं.  अतः समय पर खाना खाएं. यदि आप बाहर के खाने से बोर होकर लंच स्किप करती हैं तो थोड़ी मेहनत करके घर से ही लंच ले जाएं.

वजन घटाने के आसान तरीक़े

Health Tips For Working Mothers

– रोज़ाना सुबह उठने के बाद खाली पेट 1/2 टमाटर खाएं.
– 3 टीस्पून नींबू का रस, 1/4 टीस्पून कालीमिर्च पाउडर और 1 टीस्पून शहद को मिलाकर रोज़ाना एक ग्लास पानी के साथ पीएं. 3 महीने तक लगातार ऐसा करें, आपको अपने फिगर में बदलाव महसूस होगा.
– रोज़ाना एक ग्लास गाजर का जूस पीने से भी मोटापा नहीं बढ़ता.
– सलाद में ढेर सारी पत्तागोभी काटकर मिलाएं. इससे भी आप स्लिम बनी रहेंगी. पत्तागोभी आसानी से पच जाती है. साथ ही इसे खाने से देर तक पेट भरा होने का एहसास होता है.
– एक ग्लास पानी में अदरक और नींबू की स्लाइस को कुछ देर के लिए उबालें, फिर पानी छानकर पी लें (ध्यान रहे कि पानी गरम ही हो). ये मोटापे के साथ ही ओवरईटिंग से भी बचाता है.
– जब आप थके हुए हों, ग़ुस्से या चिंता में हों, तो खाने से बचें.
– कटहल, अंगूर, पपीता, पाइनेप्पल, सेब, फ्रेंच बीन्स, अंजीर, पीच, अमरूद आदि फलों को अपनी डायट में शामिल करें. ये वज़न कम करने में सहायक हैं.
– ग्रीन टी भी मोटापा कम करने में मदद करती है.
– हफ्ते में एक बार उपवास करना भी अच्छा ऑप्शन है. इस दिन स़िर्फ लिक्विड चीज़ें लें, इससे टॉक्सिन और एक्स्ट्रा फैट शरीर से निकल जाएगा.
– बहुत ज़्यादा नमक के सेवन से बचें, इससे वज़न बढ़ता है.

ये भी पढ़ेंः जानें किस वक़्त क्या खाएं? (What Are The Best Times To Eat Food?)