‘कान खोलकर सुन लो, मैं सुस...

‘कान खोलकर सुन लो, मैं सुसाइड करने वाली नहीं हूं’: बॉलीवुड माफिया पर बरसी तनुश्री दत्ता, लगाए कई गंभीर आरोप (‘I am not going to commit suicide’: Tanushree Dutta Slams Bollywood mafia, claims of being ‘harassed and targeted’)

नाना पाटेकर (Nana Patekar) पर MeToo के तहत 2018 में सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाकर सभी को हैरान कर देनेवाली एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता (Tanushree Dutta) एक बार फिर सुर्खियों में हैं. अब की बार उन्होंने बॉलीवुड पर हैरेसमेंट का आरोप लगाया है और इंस्टाग्राम पर एक लम्बी पोस्ट लिखकर अपना दर्द बयान किया है और बताया है कि बॉलीवुड माफिया (Bollywood mafia) उन्हें टारगेट कर रहा है.

मुझे हैरेस किया जा रहा, दो बार एक्सीडेंट कराके मारने की कोशिश की गई

सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करते हुए तनुश्री ने लिखा, “मुझे हैरेस किया जा रहा है और बुरी तरह टारगेट भी. प्लीज कोई कुछ करे. पहले एक साल में मेरे बॉलीवुड करियर को बर्बाद कर दिया गया. फिर मेरी मेड के जरिए मेरे खाने-पीने में गड़बड़ी करके दवाइयां और स्टेरॉयड मिलाई गईं, जिसकी वजह से मुझे गंभीर हेल्थ इश्यूज़् हुए. इसके बाद जब मैं मई में उज्जैन गई थी तो मेरे कार के ब्रेक के साथ दो बार छेड़छाड़ की गई, जिसके कारण दो बार मेरा एक्सीडेंट हुआ, लेकिन मरते-मरते बच गई. और अब करीब 40 दिनों के बाद मुंबई लौटी हूँ, ताकि दोबारा काम शुरु कर सकूँ और नॉर्मल लाइफ जी सकूँ, तो अब मेरे फ्लैट के बाहर मेरे घर में अजीबोगरीब चीज़ मिली है.”

मैं न तो सुसाइड करूंगी ना ही कहीं जाऊंगी

पोस्ट में आगे लिखते हुए तनुश्री ने बॉलीवुड के प्रति गुस्सा जाहिर करते हुए उन लोगों को आगाह किया है जो उन्हें निशाना बना रहे हैं. उन्होंने कहा, “कान खोलकर सुन लो सब लोग, मैं आत्महत्या नहीं करने जा रही हूँ और न ही मैं कहीं और जा रही हूँ, मैं यहीं रहूंगी और अपने करियर को पहले से कहीं अधिक ऊंचाइयों तक लेकर जाऊंगी.”

बॉलीवुड माफिया पर लगाए आरोप

बॉलीवुड माफियाओं पर निशाना साधते हुए वह बोलीं, “बॉलीवुड माफिया, महाराष्ट्र का पुराना राजनीतिक सर्किट (जो अभी भी यहाँ प्रभाव में है) और नापाक राष्ट्रविरोधी आपराधिक तत्व आमतौर पर लोगों को परेशान करने के लिए इस तरह काम करते हैं. मुझे पता है कि जिन #metoo अपराधियों और एनजीओ को मैंने एक्सपोज़ किया है, वे ही इस सब के पीछे हैं वरना मुझे इस तरह क्यों कोई टारगेट या हरेस करेगा? तुम लोगों को शर्म आनी चाहिए.”

यहाँ चीजें वाकई यहां हाथ से बाहर निकल रही हैं


तनुश्री ने आगे लिखा, “ये मेंटल, फ़िज़िकल और सायकोलॉजिकल हरैसमेंट है. आखिर हम ये कैसी जगह् पर रहे हैं, जहाँ अन्याय के विरुद्ध खड़े होने पर लड़के-लड़कियां मार दिए जाते हैं.” उन्होंने सरकार से रिक्वेस्ट करते हुए कहा, “मैं चाहती हूँ कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगे और केंद्र सरकार पूरा कंट्रोल ले ले. यहाँ चीजें हाथ से निकल रही हैं. उनके जैसे लोग सताये जा रहे हैं. याद रखें अगर आज मेरे साथ गलत हो रहा है तो कल आपके साथ भी हो सकता है.” आखिर में उन्होंने मदद की गुहार लगाते हुए बताया है कि वो साधना के ज़रिए अपनी स्प्रिट को मजबूत करेंगी और अपने काम पर फोकस करेंगी.

तनुश्री लंबे समय से बॉलीवुड से दूर हैं. लेकिन 2018 में MeToo मूवमेंट के तहत नाना पाटेकर पर सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोप लगाकर उन्होंने लोगों को हैरान कर दिया था. इसके बाद अचानक वो न्यूज़ में आ गई थीं.

×