‘मेरी आवाज़ ही पहचान है… गर याद ...

‘मेरी आवाज़ ही पहचान है… गर याद रहे…’ मशहूर गायक भूपिंदर सिंह का निधन, 82 साल की उम्र में ली अंतिम सांस… (Legendary Singer Bhupinder Singh Passes Away At 82)

फ़ेमस सिंगर, ग़ज़ल गायक व लेखक भूपिंदर सिंह (legendary singer Bhupinder Singh) का मुंबई में निधन (passes away) हो गया. उनकी पत्नी मिताली सिंह (wife Mitali Singh) ने ख़बर की पुष्टि की (confirms) भूपिंदर सिंह लम्बे अरसे से बीमार चल रहे थे.

6 फरवरी 1940 को अमृतसर में जन्मे भूपिंदर ने फ़िल्म इंडस्ट्री को कई यादगार गीत व ग़ज़ल दी हैं… दिल ढूँढता है फिर वही फ़ुरसत के रात-दिन… मेरी आवाज़ ही पहचान है… दो दीवाने शहर में… कभी किसी को मुक्कम्मल जहां नहीं मिलता… जैसे कई सुपरहिट गाने उन्होंने अपनी आवाज़ से सजाए और पत्नी मिताली संग कई ग़ज़लें भी गाई.

82 साल के भूपिंदर यूरिन इन्फ़ेक्शन सहित कई सेहत सम्बन्धी समस्याओं से जूझ रहे थे. डॉक्टर्स को आशंका थी कि उनको आंतों के कैंसर की समस्या हो सकती है, लेकिन वो कोविड से भी पीड़ित हो गए थे जिस वजह से कुछ टेस्ट हो नहीं पाए. दस दिन पहले ही अस्पताल में उनको भर्ती कराया गया और सोमवार शाम सात बजे के आसपास उनकी मौत हो गई.

बॉलीवुड और म्यूज़िक इंडस्ट्री शोकाकुल है और उनकी श्रद्धांजलि दे रही है…!

×