मॉनसून हेयर केयर

मॉनसून में नमी के कारण बाल चिपचिपे हो जाते हैं और उलझ जाते हैं. बार-बार बाल भीगने और सही केयर न करने से स्काल्प में खुजली भी होने लगती है. इसलिए बेहतर होगा कि अभी से हेयर केयर रूटीन प्लान कर लें.

1

हेयर प्रॉब्लम्स इन मॉनसून

– फ्रिज़ी हेयर, बालों का उलझना.

– ऑयली और चिपचिपे बाल.

– बालों का गिरना-टूटना.

– ड्राई स्काल्प.

– बेजान और अनहेल्दी बाल.

2

क्या करें?

– ड्राई स्काल्प से बचने के लिए गुनगुने नारियल तेल से हेयर मसाज करें.

– अगर डैंड्रफ की भी प्रॉब्लम हो तो नीम ऑयल से मसाज करें.

– जहां तक हो सके, बालों को भीगने से बचाएं. अगर फिर भी बाल भीग जाएं तो उन्हें तुरंत अच्छी तरह सुखा लें और घर लौटते ही माइल्ड शैंपू से बाल धो लें.

– मॉनसून में माइल्ड शैंपू का इस्तेमाल करें. शैंपू के बाद लाइट कंडीशनर लगाना न भूलें.

– केमिकलयुक्त शैंपू की बजाय हर्बल शैंपू व कंडीशनर इस्तेमाल करें. ये बालों की नेचुरल शाइन को बनाए रखते हैं.

– बालों को हफ़्ते में दो-तीन बार धोएं.

– स्टाइलिंग प्रोडक्ट्स, जैसे- हेयर जेल, स्प्रे आदि का इस्तेमाल करने से बचें, क्योंकि ये स्काल्प पर चिपककर बालों को चिपचिपा बना सकते हैं.

– इसी तरह बारिश में हेयर कलरिंग करने से भी बचें.

– ब्लो ड्राई का इस्तेमाल कम-से-कम करें. बालों को टॉवेल ड्राई करने की कोशिश करें.

– गीले बालों में कंघी करने से बचें. कंघी की जगह हेयर ब्रश यूज़ करें. इससे बाल टूटेंगे नहीं.

– हेयर स्पा ट्रीटमेंट लें. आप चाहें तो घर में ख़ुद भी स्पा कर सकते हैं.

– बालों को रेग्युलर ट्रिम करवाती रहें, ताकि दोमुंहे बालों की प्रॉब्लम न हो.

– हेल्दी डायट लें. ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीएं.