बढ़ती उम्र के साथ शरीर में ...

बढ़ती उम्र के साथ शरीर में आए बदलावों पर प्रियंका चोपड़ा ने खुलकर कहा, मेरी बॉडी अब पहले जैसी नहीं, क्योंकि मेरी भी उम्र बढ़ रही है, पर ये एक सामान्य प्रक्रिया है जिससे सभी गुज़रते हैं! (Priyanka Chopra Opens Up On Body Image, Says ‘My Body Has Changed As I’ve Gotten Older’)

प्रियंका चोपड़ा जिसे देसी गर्ल भी कहते हैं लेकिन अब ये विदेशी भी हो गई हैं और बन चुकी हैं इंटर नैशनल स्टार! निक से शादी के बाद भी प्रियंका और निक की उम्र के अंतर अत लोगों ने काफ़ी कुछ कहा था लेकिन प्रियंका लोगों की बातों से प्रभावित नहीं होतीं और जो करती हैं पूरे कॉन्फ़िडेन्स से करती हैं.

प्रियंका फ़िलहाल हॉलीवुड के कई प्रॉजेक्ट्स पर काम कर रही हैं और उनकी कई हॉलीवुड फ़िल्में भी आनेवाली हैं पर अक्सर लोग प्रियंका की बॉडी को लेकर बातें करते हैं. प्रियंका साल 2000 में मिस वर्ल्ड बनीं थीं और तबसे लेकर अब तक उनके शरीर में जो बदलाव हुए उन्होंने उस पर अपनी बात खुलकर रखी. याहू लाइफ़ को दिए इंटरव्यू में 38 साल की प्रियंका ने कहा कि मेरा शरीर अब वैसा नहीं जैसा 10 या 20 साल पहले हुआ करता था क्योंकि मेरी उम्र बढ़ रही है और उम्र के साथ शरीर भी बदलता है और सबका बदलता है.

Priyanka Chopra

प्रियंका ने कहा कि मैं झूठ नहीं बोलूंगी कि मुझे इसने प्रभावित नाहीं किया है लेकिन मैंने उसको मानसिक रूप से स्वीकारा है. मैं यही सोचती हूं कि ठीक है, अब मैं ऐसी ही दिखती हूं और मेरी बॉडी ऐसी ही दिखती है तो कोई बात नहीं क्योंकि मुझे इसी बॉडी के साथ काम करना है न कि दस या बीस साल पहले वाले शरीर के साथ. मैंने मानसिक रूप से खुद को इस शरीर के साथ ढाल किया है और वो भी ख़ुशी ख़ुशी पॉज़िटिव तरीक़े से.

Priyanka Chopra

यह बहुत ज़रूरी है क्योंकि जब आप बाहर निकलते हो तो आपको अपनी बॉडी को लेकर भी कॉन्फ़िडेन्स होना चाहिए इसलिए मैं अपने बारे में अच्छा सोचती हूं और अच्छा महसूस करती हूं! कई बार ऐसा भी होता है कि आपका दिन अच्छा नहीं गुजरता और आप अपने शरीर को लेकर भी नाखुश होने लगते हो लेकिन ऐसे में भी मैं वो चीज़ें करती हूं हो मुझे ख़ुशी देती हैं. परिवार के साथ कवलिटी टाइम बिताती हूं और अपने साथ भी. खुद के साथ भी अच्छा वक़्त बिताना ज़रूरी होता है.

Priyanka Chopra

मैं ये तय करती हूं कि अगर मुझे म्यूज़िक सुनने का मन है तो मैं ज़रूर सुनती हूं, वर्क आउट करती हूं, बाथ टब में बैठकर या मास्क लगाकर अपने ख़यालों को उड़ान देती हूं! क्योंकि अपने लिए वक़्त निकालना ही नहीं अपने साथ वक़्त गुज़ारना भी ज़रूरी होता है और आपको खुद अपनी प्राथमिकताएं तय करनी होती हैं. जब मैं अपने कमरे में जाती हूं तो मुझे अच्छा लगता है, मुझे ये सोचकर ही बेहतर महसूस होता है कि मुझे प्यार करने वाले लोग हैं और इसका मेरे शरीर से कोई लेना देना नहीं. ये सारी चीज़ें आपका हल्का और बेहतर महसूस कराती हैं.

Photo Courtesy: Instagram (All Photos)

यह भी पढ़ें: टीवी के ये पॉप्युलर चाइल्ड आर्टिस्ट अब हो चुके हैं जवां और बेहद ग्लैमरस, देखें इनकी बचपन की और अब की क्यूट पिक्चर्स! (Cute Pictures: Famous TV Child Actors Then & Now)