लघुकथा- बर्फ़ की परत… (Short Stor...

लघुकथा- बर्फ़ की परत… (Short Story- Baraf Ki Parat…)

“ऐसा प्यार और परवाह किस काम के जो किसी की आज़ादी छीन ले. सच में दीदी तुम कितनी भाग्यवान हो कि जीजाजी कभी भी तुमसे कुछ नहीं कहते. कहीं भी आओ-जाओ, कुछ भी करो. कितनी स्वतंत्रता है तुम्हे.” रेवा ने रेवती के भाग्य की सराहना की.

“नरेश बात-बात में मुझसे बहस करते हैं. हर काम में टोका-टाकी करते हैं. जब-तब हर किसी बात पर नाराज़ हो जाते हैं, जवाब तलब करते हैं. मैं तो बहुत तंग आ गई हूं दीदी.
अपनी मर्ज़ी से कहीं आ-जा नहीं सकती. ओढ़-पहन नहीं सकती. उन्हें मेरी हर बात जानना ज़रूरी होता है. हर काम में दख़ल होता है.” रेवा ग़ुस्से से भुनभुनाते हुए बोली.


यह भी पढ़ें: 10 उम्मीदें जो रिश्तों में कपल्स को एक- दूसरे से होती हैं, जो उन्हें बनाती हैं परफेक्ट कपल (10 Things Couples Expect In Relationship Which Make Them Perfect Couple)

“पगली वो तेरी परवाह करते हैं. तुझसे प्यार करते हैं, इसलिए तेरी हर बात से जुड़ना चाहते हैं. बस सिर्फ़ इसीलिए पूछ-परख करते हैं और कुछ नहीं.” रेवती ने उसे समझाया.
“ऐसा प्यार और परवाह किस काम के जो किसी की आज़ादी छीन ले. सच में दीदी तुम कितनी भाग्यवान हो कि जीजाजी कभी भी तुमसे कुछ नहीं कहते. कहीं भी आओ-जाओ, कुछ भी करो. कितनी स्वतंत्रता है तुम्हे.” रेवा ने रेवती के भाग्य की सराहना की.
जवाब में रेवती के चेहरे पर एक फीकी-सी मुस्कुराहट आ गई. कह नहीं पाई वह छोटी बहन से कि भले ही नोंक-झोंक हो, चाहे झगड़ा ही होता हो, लेकिन फिर भी तेरे रिश्ते में कहीं सरोकार, संवाद और प्रेम की उष्मीय तरलता का प्रवाह तो है.


यह भी पढ़ें: आपकी पत्नी क्या चाहती है आपसे? जानें उसके दिल में छिपी इन बातों को(8 Things Your Wife Desperately Wants From You, But Won’t Say Out Loud)

चाहे तू आज उसे समझ नहीं पा रही, लेकिन कितना तकलीफ़देह और यातनादायी होता है एक सरोकारहीन, तटस्थ, संवादहीन, प्रेम रहित रिश्ते में बंधकर रहना. ठीक बर्फ़ की परतों के बीच फैले अंधेरे, भयावह, निर्जन ठंडेपन की तरह कि आंख के आंसू और होंठों तक आते शब्द भी बर्फ़ की कतरों से वहीं जमकर रह जाते हैं…

Dr. Vinita Rahurikar
डॉ. विनीता राहुरीकर

अधिक कहानियां/शॉर्ट स्टोरीज़ के लिए यहां क्लिक करें – SHORT STORIES

Photo Courtesy: Freepik

डाउनलोड करें हमारा मोबाइल एप्लीकेशन https://merisaheli1.page.link/pb5Z और रु. 999 में हमारे सब्सक्रिप्शन प्लान का लाभ उठाएं व पाएं रु. 2600 का फ्री गिफ्ट.

×