जानें ‘द्रौपदी’ रूपा...

जानें ‘द्रौपदी’ रूपा गांगुली की लाइफ की ट्रैजिक कहानी, पति की हरकतों से तंग आकर कर चुकी हैं तीन बार सुसाइड की कोशिश (The tragic story of ‘Draupadi’ Roopa Ganguly, who attempted suicide 3 times)

बी.आर. चोपड़ा के टीवी शो ‘महाभारत’ में द्रौपदी का रोल निभाकर घर-घर में मशहूर होने वाली एक्ट्रेस रूपा गांगुली हालांकि अब एक्टिंग से दूर पॉलिटिक्स में एक्टिव हैं और इंडियन पॉलिटिक्स का भी जाना-माना चेहरा बन गई हैं. लेकिन एक्ट्रेस के तौर पर आज भी उन्हें द्रौपदी के रूप में ही याद किया जाता है. रूपा गांगुली ने हालांकि अपने एक्टिंग करियर में ‘साहेब’ ,’एक दिन अचानक’ , ‘प्यार के देवता’ ,’बहार आने तक’, ‘सौगंध’, ‘निश्चय’ और ‘बर्फी’ जैसी कई फिल्में कीं, लेकिन जो प्यार उन्हें दर्शकों से ‘द्रौपदी’ के रोल के लिए मिला, वह उनके किसी दूसरे किरदार को नहीं मिल पाया.

पर्सनल लाइफ थी काफी डिस्टर्ब

Roopa Ganguly

लेकिन क्या आप जानते हैं कि टीवी की इतनी मशहूर ऐक्ट्रेस को नाम, शोहरत और पैसा सब कुछ तो मिला, लेकिन उनकी रियल लाइफ काफी डिस्टर्ब रही. उन्हें ज़िंदगी में काफी संघर्ष करना पड़ा. रूपा गांगुली की जिंदगी में एक ऐसा समय आया जब उनकी असफल शादीशुदा जिंदगी ने उनका करियर और निजी जीवन दोनों ही पूरी तरह बदल दिया था. वो डिप्रेशन में चली गई थीं. यहाँ तक कि उन्होंने आत्महत्या करने की कोशिश भी की.

शादी के बाद शुरू हुआ स्ट्रगल

Roopa Ganguly

रूपा की ज़िंदगी का संघर्ष तक शुरू हुआ जब 1992 में उन्होंने मेकैनिकल इंजीनियर ध्रुब मुखर्जी से शादी की. शादी के बाद पहले कुछ साल तो सब कुछ ठीक चला. दोनों का एक बेटा भी हुआ, लेकिन बेटे के होने के कुछ दिनों बाद ही दोनों के बीच में लड़ाइयां शुरू हो गईं. ध्रुब उनके एक्ट्रेस स्टेटस को लेकर इनसिक्योर फील करते थे, इस वजह से उनमें अक्सर झगड़े होने लगे.

रूपा ने शादी बचाने की हर कोशिश की

Roopa Ganguly

शादी के बाद रूपा ने एक्टिंग छोड़ दी और पति के साथ कोलकाता शिफ्ट हो गईं. रुपा ने खुद एक इंटरव्यू में बताया था कि उन्होंने शादी बचाने के लिए बहुत कोशिश की, ‘मैंने अपनी पूरी लाइफ बदल दी. सुबह 9 बजे के पहले और रात 10 बजे के बाद कोई भी कॉल लेना भी बंद कर दिया. पार्टीज या इवेंट्स में जाना बंद कर दिया. मैंने वो सारे इनविटेशन ठुकरा दिए, जो केवल मेरे नाम से आए. शूट के बाद बिना मेकअप हटाए ही मैं घर की तरफ भागती थी, ताकि लेट ना होऊं और कोई विवाद न हो. मैंने हर वो काम किया, जो पति को खुश रखने के लिए एक औरत करती है. यहां तक कि मैने अपने करियर से ज्यादा अपनी शादी को प्राथमिकता दी.

झाडू पोंछा किया, बर्तन सब कुछ किया

Roopa Ganguly

शादी बचाने और पति को खुश रखने के लिए रूपा ने न जाने क्या क्या किया. उन्होंने कभी भी घर पर सेलिब्रिटी जैसे बिहेव नहीं किया. उन्होंने बताया कि उन्होंने घर में खुद झाडू पोंछा किया, बर्तन बर्तन धोए. “मैंने क्या नहीं किया अपनी शादी को बचाने के लिए ? लेकिन इन सभी कोशिशों के बाद भी मेरे पति कभी मुझसे खुश नहीं रहे. उन्होंने मुझे कभी नहीं अपनाया.”

पति ने पैसे देने भी बन्द कर दिए

Roopa Ganguly

इतना कुछ सहने के बाद भी रूपा के लिए हालात उस समय और बिगड़ गए, जब उनके पति ने उन्हें आर्थिक मदद देने से भी इंकार कर दिया. उन्हें रोजमर्रा के खर्चों के लिए पैसे नहीं दिए जाते थे. जब रूपा को पैसों की परेशानी होने लगी, तो उन्होंने वापस काम करने का सोचा. इसके बाद में भी उन्होंने पति से जुड़े रहने के लिए अपनी तरफ से हर कोशिश जारी रखी. लेकिन इतना सब करके भी उनके पति नहीं बदले.

एक नहीं 3 बार सुसाइड की कोशिश कर चुकीं रूपा

Roopa Ganguly

रूपा अपने पति के विहेवियर से इतनी परेशान हो गई थी कि तंग आकर रूपा ने अपना जीवन समाप्त करने का फैसला कर लिया. उन्होंने एक बार नहीं, बल्कि तीन बार आत्महत्या करने की कोशिश की. पहली बार यह कोशिश तब की थी जब उनके बेटे आकाश का जन्म हुआ और दो बार आकाश के जन्म के बाद. उस दौरान वो इतना ज्यादा डिप्रेशन में रहने लगी थीं कि नींद की गोलियां लेने लगी थीं, लेकिन हर बार वह बच गईं. आखिर रोज़ रोज़ की लड़ाइयों से तंग आकर रूपा ने साल 2006 में अपने पति को तलाक दे दिया.


लिव-इन रिलेशनशिप में भी रहीं

Roopa Ganguly

पति ध्रुब से अलग होने के बाद रूपा को खुद से 13 साल छोटे सिंगर दिब्येंदु से प्यार हो गया जो उनके घर में म्यूजिक सिखाने आते थे. तलाक के बाद दिब्येंंदु और रूपा मुंबई आ गए और लिव-इन में रहने लगे. हालांकि, जल्दी ही दोनों अलग भी हो गए. इसके अलावा रियलिटी शो ‘सच का सामना’ में रूपा ने यह भी कबूल किया था कि ‘महाभारत’ के दौरान वे एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर में भी पड़ गई थीं.

राजयसभा की हैं सदस्य

Roopa Ganguly

एक्टिंग के बाद रूपा गांगुली ने साल 2015 में बीजेपी जॉइन किया. उन्होंने चुनाव भी लड़ा, लेकिन वह हार गईं. इसके बाद पार्टी ने उन्हें राज्यसभा के लिए नॉमिनेट किया था.

×