कौन हैं बालों के दोस्त? कौन हैं दुश्मन?

बालों की ग्रोथ न स़िर्फ हमारी लाइफस्टाइल, बल्कि अच्छी-बुरी आदतों पर भी निर्भर करती है. अच्छी आदतें जहां बालों को स्वस्थ बनाती हैं, वहीं बुरी आदतों से बाल बेजान नज़र आते हैं. आइए, जानते हैं कौन हैं बालों के दोस्त और कौन हैं दुश्मन? 

 

बालों के दोस्त

 

dreamstime_m_22805780

तेल

तेल बालों का मुख्य आहार है. इससे बाल स्वस्थ होते हैं और स्वस्थ बाल तेज़ी से बढ़ते हैं. अतः सप्ताह में 3-4 बार बालों में तेल लगाकर मसाज करें. इससे बाल जड़ से मज़बूत होते हैं.

साफ़-सफ़ाई

साफ़-सुथरे बाल तेज़ी से बढ़ते हैं. अतः जब भी ज़रूरत महसूस हो, बालों को शैम्पू ज़रूर करें. संभव हो तो रोज़ाना या एक दिन छोड़कर शैम्पू करें. स्वच्छता से बाल स्वस्थ होते हैं और स्वस्थ बाल तेज़ी से बढ़ते हैं.

संतुलित आहार

बालों को जड़ से मज़बूत बनाना हो, तो अपने आहार में अंडे, हरी सब्ज़ियां, नट्स, ऑयली फिश, बेरीज़ शामिल करें, क्योंकि अंडे में प्रोटीन, हरी सब्ज़ियों में विटामिन्स और नट्स में ज़िंक और ओमेगा3 एडिस की मौजूदगी से बाल स्वस्थ व मज़बूत बनते हैं.

healthy diet for hair

ट्रिमिंग

हेल्दी-हैप्पी हेयर के लिए बालों की ट्रिमिंग भी ज़रूरी होती है. 2-3 महीने के अंतराल पर बालों को ट्रिम कराती रहें. इससे बाल घने नज़र आते हैं और तेज़ी से बढ़ते हैं.

योग व एक्सरसाइज़

नियमित योग व एक्सरसाइज़ से भी आप बालों को स्वस्थ व तंदरुस्त बना सकती हैं. अतः रोज़ाना नियमित रूप से योग या एक्सरसाइज़ करें.

बालों के दुश्मन

2

 

 

गंदगी

बालों को धूल-मिट्टी और गंदगी से बचाएं. साथ ही तेज़ धूप के संपर्क में आने से भी परहेज़ करें, वरना बाल रूखे, बेजान व कमज़ोर बन सकते हैं.

तनाव

स्ट्रेस बालों के जानी दुश्मनों में से एक है. अतः स्ट्रेस से बचें. किसी भी मुद्दे पर बहुत ज़्यादा सोच-विचार न करें. इसका आपके बालों पर नकारात्मक असर हो सकता है.

जंक फूड

तली-भुनी, मसालेदार चीज़ों के सेवन से बचें. साथ ही जंक फूड से भी परहेज़ करें. ये न स़िर्फ आपको शारीरिक तौर पर बीमार करते हैं, बल्कि इनके सेवन से बाल भी कमज़ोर हो जाते हैं.

good for hair
केमिकलयुक्त कलर

केमिकलयुक्त हेयर कलर या हेयर स्टाइलिंग से दूर रहें. हेयर कलर के इस्तेमाल से कई बार बाल स़फेद हो जाते हैं और केमिकलयुक्त हेयर स्टाइलिंग से बाल कमज़ोर हो जाते हैं.

कॉस्मेटिक हेयर ट्रीटमेंट

कॉस्मेटिक हेयर ट्रीटमेंट लेने से बचें, वरना बाल कमज़ोर होने के साथ ही झड़ भी सकते हैं. बेहतर होगा कि आप किसी ट्रेंड डर्मेटोजॉलिस्ट की निगरानी में हेयर ट्रीटमेंट लें.