जब प्रेग्नेंट नीना गुप्ता के साम...

जब प्रेग्नेंट नीना गुप्ता के सामने सतीश कौशिक ने रखा था शादी का प्रस्ताव, मुश्किल हालात में ऐसे दिया था एक्ट्रेस का साथ (When Satish Kaushik proposed to Pregnant Neena Gupta For Marriage, Know How He supported her in difficult situation)

बॉलीवुड एक्टर सतीश कौशिक न सिर्फ एक शानदार अभिनेता हैं, बल्कि वो एक लाजवाब निर्माता-निर्देशक भी हैं. इसके साथ-साथ वो एक बेहद ही नेकदिल इंसान भी हैं और वो अपनी नेकदिली का परिचय कई बार दे चुके हैं. दमदार अभिनय और बेहतरीन तरीके से फिल्मों का निर्देशन करने वाले सतीश कौशिक 13 अप्रैल को अपना 65वां जन्मदिन मना रहे हैं. उनका जन्म 13 अप्रैल 1956 को हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले में हुआ था. पर्दे पर अपने हर किरदार में जान फूंकने वाले सतीश कौशिक अपनी प्रोफेशनल लाइफ  और पर्सनल लाइफ को लेकर भी खासा सुर्खियों में रहे हैं. आज हम आपको उनसे जुड़े एक दिलचस्प वाकये के बारे में बताने जा रहे हैं, जब सतीश कौशिक ने प्रेग्नेंट नीना गुप्ता के सामने शादी का प्रस्ताव रखा था और ऐसा उन्होंने केवल एक्ट्रेस के मुश्किल हालात में साथ देने के लिए किया था. आइए इस बारे में विस्तार से जानते हैं.

फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

सतीश कौशिक ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1983 में आई फिल्म ‘मौसम’ से की थी और इसी फिल्म के बाद से उनकी एक्टिंग की गाड़ी दौड़ पड़ी. इसके बाद उन्होंने एक से बढ़कर एक किरदारों को पर्दे पर बड़ी ही खूबसूरती से निभाया. आप बता दें कि पिछले साल नीना गुप्ता की बुक ‘सच कहूं तो’ लॉन्च हुई थी, जिसमें नीना की ज़िंदगी से जुड़ी कई चौंकाने वाली बातों का खुलासा किया गया है और इस बुक में सतीश कौशिक से जुड़े दिलचस्प वाकये का भी ज़िक्र किया गया है. यह भी पढ़ें: करीना कपूर खान से लेकर ऐश्वर्या राय बच्चन तक, बॉलीवुड की ये टॉप 10 एक्ट्रेसेस 35 साल की उम्र के बाद बनीं मां (From Kareena Kapoor Khan to Aishwarya Rai Bachchan, These Top 10 Bollywood Actresses Became Mother after The Age of 35)

फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

नीना गुप्ता की इस बुक में बताया गया था कि जब वो बेटी मसाबा को लेकर प्रेग्नेंट थीं, तब सतीश कौशिक ने उन्हें शादी के लिए प्रपोज़ किया था. सतीश कौशिक ने इस मुश्किल हालात में नीना का हौसला बढ़ाते हुए कहा था कि तुम चिंता मत करो, बच्चा अगर डार्क स्किन का पैदा होगा तो कह देना कि वो मेरा है और हम दोनों शादी के बंधन में बंध जाएंगे. ऐसे में किसी को किसी भी बात को लेकर शक नहीं होगा.

फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

इस पूरे मामले पर एक इंटरव्यू में सतीश कौशिक ने बताया था कि नीना और वो साल 1975 से अच्छे दोस्त हैं और तब से अब तक यह दोस्ती बरकरार है. इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि जिस तरह से नीना ने अपनी ज़िंदगी में मुश्किलों का सामना किया है, उसके लिए मैं हमेशा उनकी सराहना करता हूं. खासकर जब वो प्रेग्नेंट थीं, तब उन्होंने न सिर्फ बहादुरी से अपनी ज़िंदगी की चुनौतियों का सामना किया, बल्कि बिना शादी के बच्चे को जन्म देने का फैसला भी किया. उस दौरान मैं एक सच्चे दोस्त की तरह उनके साथ खड़ा रहा और उन्हें भरोसा दिया.

फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

सतीश कौशिक की मानें तो शादी के लिए प्रपोज़ करके वो नीना को यकीन दिलाना चाहते थे कि वो इस मुश्किल घड़ी में उनके साथ हैं. उस दौरान नीना खुद को अकेला महसूस कर रही थीं, ऐसे में एक दोस्त ही अपने दोस्त के लिए काम आता है. सतीश कौशिक ने बताया था कि जब उन्होंने नीना को शादी के लिए प्रपोज़ किया था, उस दौरान उनके भीतर काफी मिक्स्ड इमोशन्स थे. वो नीना को इज्ज़त के साथ बतौर बेस्ट फ्रेंड सपोर्ट करना चाहते थे. जब नीना को वास्तव में किसी व्यक्ति की सबसे ज्यादा ज़रूरत थी तो सतीश ने ही उनसे कहा था कि चिंता क्यों करती हो? मैं हूं ना… उनकी बात सुनकर नीना काफी इमोशनल हो गई थीं. आपको बता दें कि मसाबा गुप्ता नीना गुप्ता और वेस्ट इंडीज क्रिकेटर विवियन रिचर्ड्स की बेटी हैं. यह भी पढ़ें: ‘सिंगल मदर बनना ब्रेवरी नहीं, जवानी का जोश था…’ जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में बोलीं नीना गुप्ता, कास्टिंग काउच समेत कई मुद्दों पर एक्ट्रेस ने रखी अपनी बेबाक़ राय! (‘Becoming A Single Mother Was Not Bravery, It Was The Passion Of Youth…’ Says Neena Gupta At Jaipur Lit Fest, Actress Expressed Her Opinion On Many Issues Including Casting Couch)

फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम
फोटो सौजन्य: इंस्टाग्राम

बहरहाल, इस दिलचस्प वाकये से यह तो साफ हो गया है कि सतीश कौशिक जितने शानदार कलाकार हैं, उतने ही बेहतरीन इंसान भी हैं, क्योंकि वो अक्सर अपने दोस्तों के लिए खड़े होते हैं. वो अपनी दोस्ती को निभाना अच्छी तरह से जानते हैं और मुश्किल हालात में भी दोस्तों का साथ देने से कभी पीछे नहीं हटते हैं.  वहीं बतौर निर्देशक सतीश कौशिक के करियर की बात करें तो उन्होंने रूप की रानी चोरों का राजा से डायरेक्शन में डेब्यू किया था. इसके बाद उन्होंने ‘हम आपके दिल में रहते हैं’, ‘तेरे नाम’, ‘शादी से पहले’ और ‘कागज’ सहित कई बेहतरीन फिल्में डायरेक्ट की है.

×