नारियल तेल के जादुई फ़ायदे ...

नारियल तेल के जादुई फ़ायदे (17 Remarkable Benefits of Coconut Oil)

नारियल तेल में विटामिन्स व मिनरल्स भरपूर मात्रा में होते हैं. इस कारण इसका इस्तेमाल भोजन, मसाज करने व ख़ूबसूरती बढ़ाने में किया जाता है. नारियल तेल एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल व एंटी वायरल गुणों से युक्त होता है. यदि नियमित रूप से नारियल तेल का सेवन किया जाए, तो बैक्टीरिया व वायरस के अटैक से बचा जा सकता है. साथ ही संक्रामक बीमारियां भी नहीं होतीं. फैटी एसिड के कारण यह मेटाबॉलिज़्म को बेहतर करता है. इसमें मौजूद लॉरिक एसिड के कारण इम्यूनिटी व गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है. 

* नींद न आने की समस्या हो, तो सोने से पहले पैरों के तलवों पर नारियल तेल से अच्छी तरह से मालिश करें. हाई ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम में भी यही उपाय लाभप्रद है.

* दांतों की समस्या, ब्लीडिंग गम, फटे होंठ जैसी परेशानियों में नारियल के तेल से कुल्ला करना लाभदायक रहता है. एक ग्लास पानी में दो चम्मच नारियल का तेल मिलाकर उस पानी से गरारा करें. इसके बाद गुनगुने पानी से मुंह धो लें.

* शक्कर में कुछ बूंदें नारियल तेल की मिलाकर स्क्रब करने से मृत त्वचा से छुटकारा मिलता है.

* कब्ज़ होने पर एक ग्लास गुनगुने पानी में एक टीस्पून नारियल तेल मिलाकर पीने से आराम मिलता है.

* सिरदर्द हो, तो नारियल तेल को गुनगुना करके सिर की अच्छी तरह से मालिश करें.

* पसीने की दुर्गंध से द़िक़्क्त हो रही है, तो आधा कप नारियल के तेल में 1/4-1/4 कप बेकिंग सोडा व आरारोट मिक्स कर लें. फिर इसमें मिंट ऑयल या नीलगिरी तेल की कुछ बूंदें मिलाकर एक एयरटाइट बॉटल में रख दें. स्नान से पहले कुछ बूंदें पानी में डालकर उससे स्नान करें.

* नारियल तेल में एंटी एजिंग के गुण भी पाए जाते हैं. इससे हल्के हाथों से चेहरे पर मालिश करने से झुर्रियों व डार्क सर्कल की समस्या दूर होती है.

यह भी पढ़े: दही खाएं और सेहतमंद जीवन पाएं (Eat Curd And Have A Healthy Life)

* सनटैन या सनबर्न की समस्या हो, तो नारियल तेल में थोड़ा-सा टमाटर का रस मिलाकर लगाएं.

* यह नेचुरल मॉइश्‍चराइज़र भी है. त्वचा रोग, एक्ज़िमा, स्किन बर्न, स्ट्रेचमार्क्स आदि में नारियल तेल लगाना उपयोगी होता है. साथ ही इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है.

* होंठ फट रहे हों, तो होंठों पर नारियल तेल लगाकर हल्के हाथों से मलें. थोड़ी देर बाद पानी से धो लें. इससे डेड स्किन निकल जाएगी. इसके बाद लिप बाम की तरह होंठों पर नारियल तेल लगा लें.

* शिशुओं को डायपर के इस्तेमाल से रैशेज़ हो जाते हैं. इसे दूर करने के लिए नारियल तेल से रैशेज़वाली जगह पर हल्के हाथों से मसाज करें. यह त्वचा को नर्म-मुलायम भी बनाता है.

* नारियल के तेल में चुटकीभर हल्दी मिलाकर फटी एड़ियों पर लगाने से फ़ायदा होता है.

* हार्मोंस के असंतुलन के कारण वज़न की प्रॉब्लम होने पर नारियल के तेल का इस्तेमाल वज़न को नियंत्रित करने में उपयोगी होता है. भोजन में नारियल तेल इस्तेमाल करें. साथ ही प्रतिदिन वर्कआउट्स से पहले गर्म पानी में एक टीस्पून नारियल तेल मिलाकर पीएं.

* यदि आपकी त्वचा रूखी है, तो इसके लिए स्नान करने से पहले नारियल के तेल से पूरे शरीर की मालिश करें. फिर 15-20 मिनट के बाद स्नान कर लें.

यह भी पढ़े: चोट-मोच, सूजन के लिए उपयोगी घरेलू नुस्ख़े (Useful Home Remedies For Injury, Swelling)

* एक बाल्टी पानी में एक नींबू का रस और 6-7 बूंद नारियल का तेल डालकर स्नान करें. इससे न केवल पसीने से छुटकारा मिलेगा, बल्कि दिनभर तरोताज़गी भी रहेगी.

* नारियल तेल को मुंह में कम-से-कम 15-20 मिनट तक रखने के बाद थूक दें. इससे मसूड़ों की समस्या दूर होती है. साथ ही मुंह के कीटाणु भी दूर होते हैं.

सुपर टिप

कील-मुंहासे व चोट के निशान को दूर करने के लिए हर रोज़ नारियल तेल लगाएं.

  • ऊषा गुप्ता

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazan