‘सीता हरण’ के वक्त द...

‘सीता हरण’ के वक्त दीपिका चिखलिया से बार-बार मांफी मांगते रहे अरविंद त्रिवेदी, एक्ट्रेस ने याद किया किस्सा (Arvind Trivedi Kept Apologizing To Deepika Chikhaliya Repeatedly During ‘Sita Haran’, The Actress Remembered The Story)

टीवी इंडस्ट्री में रावण का किरदार निभाकर अमर हो जाने वाले एक्टर अरविंद त्रिवेदी (Arvind Trivedi) जी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. ऐसे में इंडस्ट्री से लेकर राजनीतिक गलियारों और आम लोगों तक में शोक की लहर है. खासकर जिन्होंने भी उनके साथ काम किया था वो तो और भी ज्यादा दुखी हैं, क्योंकि वो अरविंद त्रिवेदी (Arvind Trivedi) जी की शख्सियत के हर पहलू को अच्छे से जानते थे. अब ऐसे में एक्ट्रेस दीपिका चिखलिया (Dipika Chikhliya) ने उन्हें याद करते हुए उनसे जुड़ा एक किस्सा शेयर किया, जिसे जानकर आप भी सोचने को मजबूर हो जाएंगे कि आखिर कोई इंसान इतना अच्छा कैसे हो सकता है.

Arvind Trivedi
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि टीवी जगत का सबसे चर्चित धारावाहिक ‘रामायण’ में अलविंद त्रिवेदी (Arvind Trivedi) जी ने रावण के किरदार को निभाया था, तो वहीं एक्ट्रेस दीपिका चिखलिया (Dipika Chikhliya) ने सीता के किरदार को निभाया था. दोनों ने साथ में कई सीन शूट किए थे, जिनमें से ‘सीता हरण’ वाला सीन तो सबसे ज्यादा भावुक कर देने वाला और चर्चित रहा है. ऐसे में दीपिका जी ने बताया कि जब ‘सीता हरण’ का सीन शूट होना था तो उस वक्त अरविंद जी बार-बार उनसे माफी मांग रहे थे.

ये भी पढ़ें: ‘बबीता जी’ ने शेयर की ‘नट्टू काका’ से जुड़ी भावुक कर देने वाली बातें, जानकर आंखे नम हो जाएंगी आपकी (‘Babita Ji’ Shares Emotional Things Related To ‘Nattu Kaka’, Knowing That Your Eyes Will Become Moist)

Arvind Trivedi
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

‘वो मुझे खींचते हुए बार-बार पूछते थे कि लगा तो नहीं?’

दीपिका चिखलिया (Dipika Chikhliya) ने बताया कि, “जब ‘सीता हरण’ का सीन शूट होना था तो वो मुझे खींच रहे थे. इस चक्कर में मेरे बाल भी खिंच रहे थे. उस सीन को शूट करते समय उन्हें बहुत ज्यादा बुरा लग रहा था. वो मुझे बार-बार पूछते रहते थे कि आपको लगी तो नहीं? मैं उनसे कहती कि मैं ठीक हूं व चिंता न करें. लेकिन सीन की डिमांड के मुताबिक उन्हें मुझे अपनी तरफ खींचना था, ताकि सीन रियल लगे. उस दौरान वो दो दुविधाओं में फंसे थे. एक तो कोशिश थी कि मुझे चोट न पहुंचा दें और दूसरी कोशिश थी कि वो अपना बेस्ट दें.”

Arvind Trivedi
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

दीपिका चिखलिया (Dipika Chikhliya) जी ने आगे बताया कि, “मुझे अभी भी याद है कि ‘सीता हरण’ वाला सीन करने के बाद उन्होंने मीडिया और अन्य लोगों के सामने माफी मांगी थी. वो बहुत ही धार्मिक प्रवृति के थे और उस सीन को लेकर बहुत बुरा महसूस कर रहे थे. वो भगवान शिव के बड़े भक्त थे. वो सच में अच्छे इंसान थे.”

ये भी पढ़ें: लता मंगेशकर ने ‘ऐ मेरे वतन के लोगों’ गाने से कर दिया था इनकार, जब गाया तो छलक आई नेहरू की आंख (Lata Mangeshkar Had Refused To Sing ‘Ae Mere Watan Ke Logon’, When She Sang, Nehru’s Eyes Fell)

Arvind Trivedi
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

उनसे ना मिलने का मलाल है

दीपिका चिखलिया (Dipika Chikhliya) को इस बात का बहुत ही ज्यादा मलाल है कि वो अरविंद त्रिवेदी (Arvind Trivedi) जी से मिल नहीं पाईं. लॉकडाउन के दौरान फोन पर उनसे बात हुई थी. हालांकि वो बोलने में असमर्थ थे इसलिए ज्यादा बातचीत नहीं हो पाई थी. दीपिका जी ने कहा कि ‘रामायण’ को लेकर उन्होंने अरविंद त्रिवेदी (Arvind Trivedi) जी से बात की थी. आज भले ही वो इस दुनिया को अलविदा कह गए हैं, लेकिन अपनी शानदार अभिनय क्षमता के बल पर उन्होंने खुद को लोगों के दिलों में अमर कर लिया है.

×