ग़ज़ल- तेरी बेवफ़ाई… (Gazal- Teri ...

ग़ज़ल- तेरी बेवफ़ाई… (Gazal- Teri Bewafai…)

ख़ुशी मुझसे लेकर, ग़म मुझको दे जा
इनायत के बदले सितम मुझको दे जा

तेरी बेवफ़ाई से गिला कुछ नहीं
मगर टूटे वादे क़सम मुझको दे जा

तबस्सुम मुबारक जमाने की तुमको
सनम सारे रंजो अलम मुझको दे जा

तसल्ली दुआएं दवा बेअसर हैं
हरे ताजे दिल के ज़ख़्म मुझको दे जा

सिवा तेरे कोई भी चाहत नहीं अब
तू मेरा है, बस ये भरम मुझको दे जा

मुमकिन नहीं है तुझे भूल पाना
रखूं याद मरकर, वो दम मुझको दे जा…

डॉली तिवारी

यह भी पढ़े: Shayeri

Photo Courtesy: Freepik

×