क्या अब जानवरों पर भी मंडरा...

क्या अब जानवरों पर भी मंडरा रहा है कोरोना का ख़तरा? स्वास्थ्य विभाग ने जारी की एडवाइज़री (Is Coronavirus Now Moving Towards Animals? Government Issues Advisory)

पूरी दुनिया में 60 हज़ार से ज़्यादा इंसानों की जान लेनेवाला कोरोना वायरस का जानवरों से जुड़ा पहला मामला अमेरिका से सामने आया है. अमेरिका के न्यूयॉर्क में एक मादा शेरनी कोरोना से संक्रमित पाई गई है. इस खबर के आते ही भारत के स्वास्थ्य विभाग ने सभी चिड़ियाघरों को एडवाइज़री जारी की है. ख़ास तौर से टाइगर रिजर्व को अतिरिक्त सतर्कता बरतने की ख़ास हिदायतें दी गयी हैं. उन्हें 24 घंटे जानवरों की निगरानी करने के आदेश दिए गए हैं और भी कहा गया है कि किसी तरह की असामान्यता दिखने पर तुरंत एक्शन लें.

tiger test positive of coronavirus

क्या है पूरा मामला?

दरअसल न्यूयॉर्क के ब्रॉन्क्स चिड़ियाघर में 3-4 शेरों को सूखी खांसी आ रही थी, जिसके बाद उनकी कोरोना जांच की गयी, जिसके बाद नादिया नामक मादा शेरनी में कोरोना का संक्रमण पाया गया. इसके बाद से ही चिड़ियाघरों में अतिरिक्त सावधानी बरती जा रही है.

बिल्ली के बच्चों में तेज़ी से फैल सकता है कोरोना

शोधकर्ताओं के अनुसार, बिल्लियों में इसके फैलने की संभावना सबसे तेज़ है, क्योंकि सांस के ज़रिए ड्रॉप लेट्स से फैलता है. बड़ी बिल्लियों के मुकाबले छोटी बिल्लियों में तेज़ी से यह फ़ैल सकता है. शोध के अनुसार ये बिल्लियां दूसरी बिल्लियों को तो संक्रमित कर सकती हैं, लेकिन इंसानों में संक्रमण का अभी तक कोई सबूत नहीं मिला है.

विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन के निर्देश

विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन ने सभी को अपने पालतू जानवरों को घरों में ही रखने के दिशा निर्देश जारी कोई हैं. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि इन बात का कोई सबूत नहीं मिला है कि संक्रमित जानवर दूसरे जानवरों को भी संक्रमित कर सकते हैं, फिर भी एहतियात के तौर पर अपने जानवरों को घर के अंदर ही रखें.

चिड़ियाघरों को चेतावनी

भारतीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ने देश के सभी चिड़ियाघरों को एडवाइज़री जारी करते हुए दिशा निर्देश दिए हैं कि वो सीसीटीवी के ज़रिये जानवरों के व्यवहार पर नज़र रखें.

– अनीता सिं