मेरी सहेली और फेयर एंड लवली अब आपको दे रहे हैं डबल प्रॉफिट

 

भेजिए अपनी ब्यूटी प्रॉब्लम्स… चुनिंदा सवालों के जवाब देंगे हमारे ब्यूटी एक्सपर्ट और साथ ही आपको फेयर एंड लवली की तरफ से मिलेगा आकर्षक गिफ्ट हैंपर

 

कपिल शर्मा

कई बार न चाहते हुए भी आपको अपने आत्मसम्मान के लिए बहुत कुछ करना पड़ता है और मैंने भी यही किया.
मुझे कॉमेडी नाइट्स विद कपिल शो ख़त्म होने की ख़ुशी हुई थी, क्योंकि तभी मुझे ‘द कपिल शर्मा शो’ में नया करने का मौक़ा मिला.
तब मैंने बिना ब्रेक के शो के लिए दिन-रात मेहनत की. हमने एक अलग तरह का शो बनाया और दर्शकों का इसे ज़बरदस्त रिस्पॉन्स मिला.
मैंने अपने जीवन में अनगिनत उतार-चढ़ाव देखे, पर कभी हारा नहीं. फिर चाहे, वो पिता की बीमारी व देहांत हो, अपनी पहचान बनाने का संघर्ष हो या आज इसे बरक़रार रखने की कोशिश ही क्यों न हो.
मैं अपने शो में नरेंद्र मोदीजी को बुलाने का इच्छुक हूं. एक बार मैंने एलेन के शो में अमेरिका के प्रेसिडेंट बराक ओबामा को देखा था, जो बहुत मज़ेदार था. हमारे यहां भी शो में नेताओं को बुलाना चाहिए, इससे दर्शकों को उन्हें क़रीब से जानने का मौक़ा मिलेगा.
यदि मोदीजी मेरे शो पर आते हैं, तो हम राजनीति की बजाय अन्य विषयों पर उनसे बात करेंगे. ख़ासतौर पर यह जानने की कोशिश करेंगे कि कैसे एक छोटे से शहर का शख़्स लंबा सफ़र तय करते हुए हमारे देश का प्रधानमंत्री बन गया, ये एक दिलचस्प व प्रेरणादायक कहानी होगी.
द कपिल शर्मा शो में मेरे साथ सुनील ग्रोवर, अली असगर, कीकू शारदा, सुमोना चक्रवर्ती, नवजोत सिंह सिद्धू, चंदन प्रभाकर आदि बेहतरीन कॉमेडी का तड़का दे रहे हैं.
हम अक्सर अलग-अलग फील्ड से लोगों को लेकर सरप्राइज़ेस देने की कोशिश कर रहे हैं, जो सभी को पसंद भी आ रहे हैं.

कपिल के व्यक्तिगत जीवन पर एक नज़र…

* कपिल शर्मा का जन्म अमृतसर, पंजाब और पढ़ाई हिंदू कॅालेज, अमृतसर से हुई है.
* इनके पिता पुलिस डिपार्टमेंट में हेड कॉन्स्टेबल थे और मां जनक रानी होममेकर हैं.
* कपिल ने एक लोकल पीसीओ से अपने काम की शुरुआत की थी.
* फरवरी 2013 में कपिल शर्मा फोर्ब्स इंडिया मैगज़ीन में शीर्ष 100 सेलिब्रिटीज़ के बीच में चुने गए थे और वे उस लिस्ट में 96वें स्थान पर थे.
* साल 2013 में सीएनएन-आईबीएन इंडियन ऑफ द ईयर अवॉर्ड्स में कपिल को ‘एंटरटेनर ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड से नवाज़ा गया था.
* कपिल को जानवरों से ख़ास लगाव है. इन्होंने पुलिस के रिटायर्ड डॉगी ज़ंजीर को गोद भी लिया है.
* कपिल के साथ विवादों का सिलसिला भी कुछ कम नहीं रहा है. कभी बीएमसी ऑफिसर द्वारा उनसे रिश्‍वत मांगने के मुद्दे को लेकर, तो कभी उनके घर पर गैरक़ानूनी कंस्ट्रक्शन को लेकर. उस पर ओम पुरी का उन पर पाकिस्तानी कलाकारों की नकल करने का कटाक्ष… यानी आरोप-प्रत्यारोप की लंबी फेहरिस्त है. लेकिन इन सबसे परे इस सच्चाई को नहीं नकारा जा सकता कि यह शो ज़बरदस्त हिट है.

भारती सिंह

सात साल पहले जब मैं मुंबई आई थी, तब मैं इस बात से नफ़रत करती थी कि मेरा वज़न अधिक है, पर यही बात मेरे लिए वरदान साबित हुई.
मैंने कभी भी वज़न घटाने के बारे में नहीं सोचा.
कामयाब होने के लिए आपकी प्रतिभा मायने रखती है, न कि वज़न.
मेरी कामयाबी में कई लोगों का सहयोग रहा है, पर इनमें राजीव ठाकुर, कपिल शर्मा, सुदेश लहरी, जतिंदर बराड़ व मेरे पिता राम सिंह का बहुमूल्य योगदान रहा है.
जहां तक कपिल से मुक़ाबले की बात है, तो मैं एक बात स्पष्ट करना चाहती हूं कि कपिल से मेरा कोई मुक़ाबला नहीं है.
मुझे मेरे ‘लल्ली’ कैरेक्टर से एक अलग पहचान मिली. इसमें मुझे अपने टैलेंट को खुलकर दिखाने का मौक़ा भी मिला. मेरा यह नाम राजीव ठाकुर की देन है.
कपिल मेरे गुरु हैं. मैंने उनसे थिएटर सीखा है और मैं उनका सम्मान करती हूं.
मेरे पिता नेपाल के थे. जब मैं दो साल की थी, तब उनका देहांत हो गया था. मैंने काठमांडू में भी शो किए हैं.
मेरा छोटा-सा परिवार है, जिसमें मेरी मां कमला, बड़ी बहन पिंकी व छोटा भाई धीरज है.
मैं चाहूंगी कि मेरा हमसफ़र मैच्योर व समझदार होने के साथ मुझे बेहद प्यार भी करें.
रियल लाइफ में मैं बहुत बोलती हूं, ऐसे में मेरी यही ख़्वाहिश रहेगी कि मेरा जीवनसाथी मेरी बातों को धैर्य के साथ सुनें.
मैं शादी के बाद अधिक काम नहीं करूंगी. मेरी कोशिश रहेगी कि मैं होममेकर बनकर घर संभालूं.
मैं कॉमेडी व डांस शोज़ के अलावा पंजाबी व हिंदी फिल्मों में भी काम करती रही हूं.
आज सफल होने के बावजूद मैं नहीं बदली हूं. आज भी मुझे अपनी सहेलियां, टीचर्स, गोलगप्पे व आम पापड़वाला सभी याद हैं. उन सभी से मिलने की इच्छा है, पर मेरी सफलता ने मेरी आज़ादी छीन ली है.
मैं जब कुछ नहीं थी, तब भी हंसती थी और आज भी हंसती व ख़ुश रहती हूं. ज़िंदगी के संघर्ष के हर दौर में मैंने ख़ुशी का साथ कभी नहीं छोड़ा.
जब भी लोगों को अपने चुटकुलों पर हंसते हुए देखती हूं, तो मुझे दिली सुकून मिलता है.

सुदेश लहरी

मैं पंजाब के जालंधर से हूं. मैंने अपनी पढ़ाई भी वहीं की.
मैं अधिकतर पंजाबी फिल्में व कॉमेडी शोज़ करता रहा हूं.
मैंने द ग्रेट इंडियन लॉफ्टर चैलेंज से अपने कॉमेडी करियर की शुरुआत की थी.
लेकिन मुझे सही मायने में पहचान कॉमेडी सर्कस व कॉमेडी क्लासेस से मिली.
मुंबई में मैंने बहुत काम किया, पर यहां सुकून नहीं है.
यहां पर अपने टैलेंट के बलबूते पैसे तो कमाए जा सकते हैं, पर रूह की ख़ुराक अपने घर पर ही मिलती है.
इसलिए मुझे जब भी मौक़ा मिलता है, मैं अपने घर चला जाता हूं. अपनों से मिलने पर एक नई एनर्जी मिलती है.
आज की युवापीढ़ी की नशे की लत से काफ़ी परेशान हूं, ख़ासकर पंजाब में.
मेरी सभी यंग जेनरेशन से यही गुज़ारिश है कि ख़ुद को नशे में न झोंकें.
युवा अपने टैलेंट को पहचानें और मेरी तरह अपनी पसंद के फील्ड में आकर अपनी पहचान बनाएं.

कृष्णा अभिषेक

♦ मेरे द्वारा शुरू किए गए कॉमेडी शो के कारण कपिल इनसिक्योर्ड महसूस कर रहे थे. इसी कारण उन्होंने अपना शो कॉमेडी नाइट विद कपिल बंद कर दिया.
माना कि मेरे शो को उतनी अच्छी ओपनिंग नहीं मिली, पर मैं अपने शो को आगे बढ़ाने के लिए और भी अधिक मेहनत करूंगा.
मुझे लगता है कि मेरे और कपिल शर्मा के यानी दोनों शोज़ को पसंद कर रहे हैं.
मैं इस बात से इंकार नहीं कर सकता कि कपिल का शो हमें
अच्छी टक्कर दे रहा है. मुझे लगता है कि कपिल भी इस टक्कर को एंजॉय कर रहे हैं.
हमारे आपसी कम्प्टीशन की वजह से हम अच्छा करने की कोशिश कर रहे हैं, जो दोनों शोज़ के लिए फ़ायदेमंद है.
वैसे मुझे कपिल के शो में अपना कॉमेडी का टैलेंट दिखाने का इन्वाइट मिला था, पर मैंने उनका प्रस्ताव ठुकरा दिया, क्योंकि मुझे अपना स्पेस चाहिए था.
टीवी के साथ फिल्मों में भी एक्टिव रहना चाहता हूं. वैसे आनेवाली फिल्म हाउसफुल 3 में अक्षय कुमार व अभिषेक बच्चन के साथ कॉमेडी करता नज़र आऊंगा.

– ऊषा गुप्ता