#MeToo के आरोपों पर अनु मलि...

#MeToo के आरोपों पर अनु मलिक ने पहली बार तोड़ी चुप्पी, कहा ये (Anu Malik Finally Breaks His Silence On #MeToo Controversy, Says Feels Cornered And Suffocated With False Allegations)

एक साल पहले जब तनुश्री दत्ता ने भारत में मी टू  (#MeToo) का अभियान चलाया था, तो इसके बाद इस तूफान में इंडस्ट्री के कई दिग्गज लोगों के  नाम उछले थे, उनमें से ही एक नाम था अनु मलिक का. सोना मोहापात्रा सहित अन्य कई गायिकाओं ने अनु मलिक पर अभद्र व्यवहार का आरोप लगाया था, जिसके बाद अनु मलिक को रियालिटी शो इंडियन आइडल के जज की कुर्सी छोड़नी पड़ी थी. एक साल बाद चैनल ने अनु मलिक को इंडियन आइडल के लिए दोबारा जज बनने का मौका दिया, जिसके बाद सोना मोहापात्रा व नेहा भसीन ने सोशल मीडिया पर चैनल के खिलाफ ओपन लेटर लिखा और अनु मलिक को सपोर्ट करने का आरोप लगाया. अनु मलिक जिन्होंने पिछले एक साल से इस मामले पर चुप्पी साध रखी थी, अब उन्होंने इस मामले को अपना पक्ष रखा.
Anu Malik
ट्विटर पर ओपन लेटर लिखते हुए अनु मलिक ने सारे आरोपों पर अपनी बात कही और बताया कि इस तरह के आरोप से  उनपर और उनके परिवार पर कितना गलत प्रभाव पड़ा. अनु मलिक ने लिखा कि पिछले एक साल से इस चीज़ का आरोप झेल रहा हूं, जो मैंने किया ही नहीं है. मैं इतने समय से इसलिए चुप था, क्योंकि मुझे लग रहा था कि सच अपनेआप सबके सामने आ जाएगा, लेकिन अब मुझे समझ में आ गया है कि इस मामले में चुप्पी को मेरी कमजोरी समझा जा रहा है. जब से मुझ पर इस तरह से गलत आरोप लगे हैं, इसने न सिर्फ मेरी इज्जत पर बुरा प्रभाव पड़ा है, बल्कि मेरे परिवार के मानसिक स्वास्थ्य पर भी इसका असर हुआ है.  मैं बहुत असहाय महसूस करता हूं. उम्र के इस पड़ाव में अपने नाम के साथ इस तरह के गंदे शब्दों का जुड़ना मेरे लिए बहुत बुरी बात है. ये आरोप पहले क्यों नहीं लगे. इनके बारे में तब ही क्यों बोला गया, जब मैं दोबारा टीवी पर आया, जो कि फिलहाल मेरे इनकम का एकमात्र जरिया है. दो बेटियों का पिता होने के कारण मैं ऐसी चीज़ों के बारे में सोच भी नहीं सकता, जिसके आरोप मुझपर लगे हैं. सोशल मीडिया पर लड़ना कभी न खत्म होने वाली प्रक्रिया है, जिसमें किसी की भी जीत नहीं होती. अगर मेरे पर इसी तरह के आरोप लगते रहे तो अंत में मेरे पास कोर्ट जाने के सिवा और कोई चारा नहीं होगा.  मैं अपने इन शुभचिंतकों को धन्यवाद देना चाहता हूं, जो इस मुश्किल घड़ी में मेरे व मेरे परिवार के साथ खड़े रहे. मुझे नहीं पता कि मैं और मेरा परिवार और कितनी गंदगी बर्दाश्त कर पाएगा. शो चलते रहने चाहिए, लेकिन मेरे खुश चेहरे के पीछे एक बहुत दुखी इंसान छुपा हुआ है.
Anu Malik Controversy
Anu Malik Me Too
 आपको याद दिला दें कि #MeToo के तहत सोना मोहापात्रा के अलावा नेहा भसीन और श्वेता पंडित ने अनु मलिक पर आरोप लगाया था. श्वेता ने कहा था कि जब वे 15 साल की थी, तब एक गाना गाने का मौका देने के बदले अनु मलिक ने उन्हें किस देने के लिए कहा था. इन आरोपों के बाद ही अनु मलिक को इंडियन आइडल शो छोड़ना पड़ा था.