जेएनयू का दौरा दीपिका पर पड...

जेएनयू का दौरा दीपिका पर पड़ा भारी, सोशल मीडिया पर बायकॉट छपाक हो रहा है ट्रेंड (#BoycottChhapaak trends on Twitter after Deepika Padukone reaches JNU to express solidarity)

बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण इन दिनों अपनी आगामी फिल्म छपाक के प्रोमोशन में जुटी हुई हैं और इसके कारण वे सुर्खियों में बनी हुई हैं. प्रमोशन के दौरान ही दीपिका जेएनयू पहुंचीं और वहां विरोध कर रहे छात्रों का समर्थन किया. दीपिका कल शाम छात्रों से मिलने यूनीवर्सिटी कैंपस पहुंचीं और देखते ही देखते उनका फोटो वायरल हो गया. वहां  दीपिका ने जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष से भी मुलाकात की, जो हिंसा में जख्मी हो गई थीं. कुछ लोगों द्वारा ट्विटर पर शेयर किए गए वीडियो में दिखाई दे रहा है कि दीपिका छात्रों के साथ खड़ी हुई हैं. इस दौरान जेएनयू के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार भी मौजूद रहे. जेएनयू छात्रों ने दीपिका पादुकोण के सामने आजादी के नारे लगाए. कन्हैया कुमार ने भी खूब नारेबाजी की, दीपिका पादुकोण कुछ देर जेएनयू में रुकने के बाद वहां से चली गईं. हालांकि उन्होंने छात्रों को भी संबोधित नहीं किया, लेकिन जेएनयू छात्रों के प्रदर्शन में शामिल होना दीपिका को भारी पड़ा है, यहीं वजह से जेएनयू में जाते ही सोशल मीडिया पर उनकी आने वाली फिल्म छपाक का विरोध होने लगा.

Deepika Padukone reaches JNU

Deepika Padukone reaches JNU

दीपिका के इस विज़िट के बाद ट्विटर पर बायकॉट छपाक ट्रेंड करने लगा. एक यूजर ने लिखा कि मैं कसम खाता हूं कि अब थिएटर में दीपिका की फिल्म कभी नहीं देखूंगा, जबकि एक यूजर ने लिखा कि आपने आज लाखों फैन खो दिए. एक यूजर ने लिखा कि दीपिका को पता है कि उनकी फिल्म छपाक अच्छी नहीं करेगी, क्योंकि यह तानाजी और रजनीकांत की दरबार के साथ रिलीज़ हो रही है. इसलिए वे इस तरह के काम करके लोगों की सहानभूति एकत्रित करना चाहती हैं. एक यूजर ने लिखा कि छपाक को प्रोमोट करने के लिए दीपिरा ने घटिया नीति अपनाई है. टुकड़े-टुकड़े गैंग व लेफ्टिस्ट कन्हैया कुमार व आइशी घोष के साथ खड़े होकर उन्होंने उनका समर्थन किया है. वे ABVP स्टूडेंट्स से क्यों नहीं मिलीं, जिन्हें भी मारा गया है, 

 

https://twitter.com/Aahok72202369/status/1214647975319724032

 

बता दें कि इससे पहले हाल ही में जब दीपिका पादुकोण से  जेएनयू में छात्रों के साथ हुई हिंसा पर सवाल किया गया था, तो उन्होंने कहा था, ‘मुझे ये कहते हुए गर्व महसूस होता है कि हम खुद को व्यक्त करने से डरते नहीं हैं. मुझे लगता है कि हम देश और इसके भविष्य के बारे में सोच रहे हैं, जो भी हमारी विचारधारा हो, ये देखना अच्छा है. एक इंटरव्यू में दीपिका ने कहा कि देश की मौजूदा हालात देखकर बहुत दुख होता हूं और मुझे उम्मीद है स्थितियां सुधरेंगी और ऐसी स्थिति नहीं आएगी, जब लोग कुछ भी बोलकर बच जाएंगे. दीपिका ने यह भी कहा कि इस तरह की घटनाएं एक अच्छे देश की नींव नहीं रखती हैं और इस तरह की हिंसा करनेवालों के खिलाफ एक्शन लिया जाना चाहिए.  गौरतलब है कि दिल्ली में जेएनयू हिंसा को लेकर न मुंबई में भी विरोध देखने को मिल रहा है. हिंसा के विरोध में मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर पांच जनवरी की रात से प्रदर्शन हो रहा है. इस विरोध प्रदर्शन में आम लोगों के साथ ही साथ बॉलीवुड के सितारे भी शामिल हैं.

ये भी पढ़ेंः ShikaraTrailer: शिकारा फिल्म का रोमांच से भरपूर ट्रेलर हुआ रिलीज़ (Shikara Film Trailer Released)