Family Drama

कहानी- स्पृहा (Short Story- Spriha)

एक स्त्री होकर भी दूसरी स्त्री को जो अतीत में इतने दुख सहकर बाहर आई है, उसे प्यार से वंचित रखा ...

कहानी- वैदेही (Short Story- Vaidehi)

तभी वैदेही ने अपनी मां की आवाज़ सुनी, “हम अपने बेटों के भविष्य की इतनी चिंता क्यों करते हैं कि ...

कहानी- रिश्तों का दर्द (Short Story- Rishto Ka Dard)

“मैं होती तो शायद यह नहीं करती जो आपने किया.” “नहीं रति, कभी-कभी अपनों को ही सुखी देखने के लिए ...

कहानी- सम्मोहन (Short Story- Sammohan)

मेरे सवाल को उन्होंने टालने की बहुत कोशिश की, पर फिर हथियार डाल दिए. मुझसे वायदा लिया कि मैं कभी ...

कहानी- आस्था का फल (Short Story- Aastha Ka Phal)

“ये विज्ञान का दुरुपयोग है, अगर हम इसका इसी प्रकार उपयोग करते रहे तो ये अभिशाप बन कर कहर बन सकता ...

कहानी- गांव (Short Story- Gaon)

शुक्र है, इतने बदलावों के बीच भी कुछ चीज़ें नहीं बदल रहीं. हमारी वो परंपरा, जो हमारी पहचान है, उन ...

कहानी- मैंने तो पहले ही कहा था… (Short Story- Main To Pahle Hi Kaha Tha…)

मंगला को समझ में नहीं आया कि ये अचानक शांता को क्या हो गया? मंगला ने रमेशजी से शांता के पत्र की ...

कहानी- राम-लखन का…? (Short Story- Ram Lakhan Ka…?)

ईश्‍वर से प्रार्थना करती हूं, संसार में सभी भाई-बहन के पावन रिश्ते को समझ सकें. जब कभी अपनी ‘दी’ ...

कहानी- मुखौटे के भीतर (Short Story- Mukhote Ke Bheetar)

बाबूजी की वे कातर निगाहें एवं फैली हथेलियां क्या कभी भूली जा सकती हैं? “बेटा मुझे छोड़कर न ...

कहानी- उसकी राह (Short Story- Uski Rah)

“क्या यह वरदान मेरे लिए अभिशाप नहीं बन जाएगा? क्या यह सहारा मेरे लिए बोझ नहीं साबित होगा? इसके ...

कहानी- माफ़ करना शिखा! (Short Story- Maaf Karna Shikha!)

‘तुम नहीं जानती शिखा, तुम्हें खोने के एहसास ने मुझे किस क़दर झकझोर कर रख दिया था. अगर तुम्हें ...

कहानी- सॉरी आंटी (Short Story- Sorry Aunty)

आंटी की आवाज़ में जो कुछ भी था, वह रिया के संवेदनशील, भावुक मन को अंदर तक छू गया. एक स्त्री होकर भी ...

1 2 3 4 13