दिशा वाकाणी, सरगुन मेहता, अनूप सोनी, रवि दुबे की तरह आप भी साकार करें अपने सपने (Disha Vakani, Sargun Mehta, Ravi Dubey, Anup Soni: TV Celebrities Share Their Success Mantras)

इतनी शिद्दत से मैंने तुम्हें पाने की कोशिश की है
कि हर ज़र्रे ने मुझे तुमसे मिलाने की साजिश की है…

कहते हैं, अगर किसी चीज़ को दिल से चाहो, तो पूरी क़ायनात उसे तुमसे मिलाने की कोशिश में लग जाती है…
शाहरुख़ ख़ान की फिल्म ओम शांति ओम के ये डायलॉग्स स़िर्फ डायलॉग नहीं हैं, इनका वास्ता असल ज़िंदगी से भी है. जी हां, ख़्वाब यकीन में बदल जाते हैं यदि आपकी कोशिश सच्ची है. यकीन न हो तो इन टेलीविज़न स्टार्स से जान लीजिए. इनके अनुभवों से आपको ये यकीन हो जाएगा कि नामुमकिन कुछ भी नहीं.

TV Celebrities, Success Mantras

सरगुन मेहता (Sargun Mehta)
ईश्‍वर कह लीजिए या यूनिवर्स मेरा उसमें अटूट विश्‍वास है. मशहूर मीडिया प्रोफेशनल ओपरा विनफ्रे ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि मैं मेहनत करती जा रही थी और मेरे लिए लक सही समय पर सही जगह रखा हुआ था. मैं भी यही मानती हूं, आपको मेहनत करते हुए ख़ुद को अपने लक के लिए तैयार रखना चाहिए, वो ज़रूर आपके पास आएगा. यदि आप सच्चे दिल से पूरी ताक़त लगाकर कोई काम करते हैं, तो यूनिवर्स आपको आपकी चीज़ उतनी ही शिद्दत से सौंप देता है.

TV Celebrities, Success Mantras

रवि दुबे (Ravi Dubey)
आपकी लाइफ वैसे डिज़ाइन होती है जैसे आप सोचते हैं. यदि मैं ग्लैमर इंडस्ट्री की बात करूं, तो यहां पर भी यही बात लागू होती है. यदि आपको लगता है कि ये इंडस्ट्री आपकी दोस्त नहीं दुश्मन है, तो आपको वैसे ही लोग मिलेंगे, लेकिन आप यदि पॉज़िटिव रहेंगे तो आपके साथ सबकुछ पॉज़िटिव होता चला जाएगा. मैं बहुत आशावादी हूं और हर चीज़ में पॉज़िटिविटी ढूंढ़ता हूं इसलिए मेरे साथ सबकुछ पॉज़िटिव ही होता है.

TV Celebrities, Success Mantras

दिशा वाकाणी (Disha Vakani)
आप किसी भी क्षेत्र में जाएं, मेहनत तो आपको करनी ही पड़ेगी और आप यदि मेहनती हैं तो आपको काम मिलेगा ही. हां, कभी-कभी समय अच्छा नहीं होता, तो दिक्कतें आती हैं, लेकिन देर-सवेर मेहनत का फल मिलता ही है. लक हमारा इंतज़ार कर रहा होता है, हमें बस चलते जाना होता है.

यह भी पढ़ें: दया बेन बनीं मां, बेटी को दिया जन्म

TV Celebrities, Success Mantras

अनूप सोनी (Anup Soni)
मेहनत तो कई लोग करते हैं, लेकिन उसका फल सभी को एक जैसा नहीं मिलता. लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि मेहनत करना ही छोड़ दें. हमें अपनी तरफ़ से हमेशा मेहनत करते रहना चाहिए, एक न एक दिन हमें उसका फल ज़रूर मिलता है.

यह भी पढ़ें: श्वेता तिवारी और अभिनव कोहली की शादी में दरार?

TV Celebrities, Success Mantras

आप भी पा सकते हैं मनचाही मुराद
आप पूरे विश्‍वास के साथ ईश्‍वर के सामने अपनी कोई मुराद रखते हैं और जल्दी ही आपकी वो ख़्वाहिश पूरी हो जाती है. आपका ईश्‍वर के प्रति विश्‍वास और बढ़ जाता है. आप फिर कोई ख़्वाहिश करते हैं और वो भी पूरी हो जाती है. ईश्‍वर के प्रति विश्‍वास के साथ-साथ अब आपका कॉन्फिडेंस भी बढ़ने लगता है. आप अपनी ख़्वाहिशों पर और ़ज़्यादा फोकस करने लगते हैं. आप दिनरात अपनी इच्छाओं को पूरा करने के बारे में ही सोचते रहते हैं और इसी दिशा में काम भी करते रहते हैं. जल्दी ही आप वो सबकुछ पा लेते हैं जिसकी कभी आपने कामना की थी. ये सब इसलिए हो पाता है, क्योंकि आप लगातार अपनी इच्छाओं के बारे में सोच-सोचकर अपनी फ्रीक्वेंसी ब्रह्मांड तक पहुंचा रहे होते हैं, जिससे आपके चारों तरफ पॉज़िटिव वातावरण तैयार हो जाता है और आपकी हर ख़्वाहिश पूरी होती चली जाती है.

यह भी पढ़ें: ख़ुद पर भरोसा रखें 

क्योंकि नामुमकिन कुछ भी नहीं
दुनिया के हर सफल व्यक्ति का इतिहास उठाकर देख लीजिए, आप पाएंगे कि उनके वहां तक पहुंचने में उनकी कोशिशों के साथ-साथ उनकी इच्छा और सपनों का भी उतना ही योगदान था. दरअसल, जब हमारे मन में कोई विचार आता है या हम किसी चीज़ को अपने नज़रिए से देखने लगते हैं तो सृजन की प्रक्रिया शुरू हो जाती है और घटनाएं, वातावरण हमारी सोच के मुताबिक बनने लगता है.

तरीक़ा आसान है
हमारा वर्तमान हमारे अतीत का आईना होता है, क्योंकि हम वही बनते हैं जो हम बनना चाहते हैं. आपने कभी न कभी इस बात को ज़रूर महसूस किया होगा कि आपने जिस चीज़ की ख़्वाहिश बड़ी शिद्दत से की थी, वो देर-सवेर आपको मिल ही गई. इसकी सबसे बड़ी वजह है आपकी उम्मीद, आपका विश्‍वास, जो अप्रत्यक्ष रूप से भी आपको अपनी ख़्वाहिश के और क़रीब लाने का काम लगातार करता रहता है.

यूं पाएं मनचाही मुराद
मनचाही मुराद पाने का सबसे आसान तरीक़ा यह है कि ख़ुद को चुंबक मानकर सोचें कि दूसरा चुंबक भी आपकी तरफ़ आकर्षित होगा. जब आप ऐसा सोचने लगेंगे तो आपकी ख़्वाहिश से मिलती-जुलती चीज़ें भी आपकी तरफ़ आकर्षित होने लगेंगी. इस तरह आपके चारों तरफ़ पॉज़िटिव वातावरण बनता चला जाएगा और आपकी उम्मीदों के साथ-साथ आपका आत्मविश्‍वास भी बढ़ता जाएगा और देर-सवेर आपको मनचाही मुराद मिल ही जाएगी. ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि हमारे आज के विचार ही हमारा भविष्य तय करते हैं. हम जिस चीज़ के बारे में सबसे ़ज़्यादा सोचते हैं, जिस चीज़ पर सबसे ़ज़्यादा ध्यान केंद्रित करते हैं, वो आगे चलकर हमारे जीवन में शामिल हो ही जाती है. अतः आप भी यदि अपने जीवन में कोई ख़ास चीज़ पाना चाहते हैं, तो उसके बारे में अभी से सोचना शुरू कर दीजिए.

यह भी पढ़ें: ऑल राउंडर नहीं, एक्सपर्ट कहलाते हैं नंबर 1

* क़ामयाबी का मूल मंत्र: आप क्या चाहते हैं? इस बारे में आपकी सोच क्लियर होनी चाहिए.
* जीवन मंत्र: दूसरों को बदलने के बजाय ख़ुद को बदलें. यकीन मानिए, आपको हर चीज़ अच्छी लगने लगेगी.
* ईश्‍वर के प्रति आस्था: आज के हाई टेक युग में भी ईश्‍वर के प्रति आस्था इस बात का प्रतीक है कि हम अपनी चाहत को पूरा करने के लिए ईश्‍वर को माध्यम बनाकर मनचाही मुराद पा लेते हैं.

– कमला बडोनी