मूवी रिव्यूः बाला (Movie Review OF Bala)

फिल्मः बाला
कलाकारः आयुष्मान खुराना, भूमि पेडनेकर, यामी गौतम, सौरभ शुक्ला, जावेद जाफरी, सीमा पाहवा
निर्देशकः अमर कौशिक
स्टारः 3.5 

फिल्म बाला गंजेपन की समस्या पर आधारित है. फिल्म में गंजे इंसान के दर्द को पर्दे पर उकेरा गया है. लड़कों के गंजेपन की समस्या के साथ-साथ फिल्म में काली लड़की के प्रति समाज के संकीर्ण रवैये को बखूबी पेश किया है.

Bala

कहानीः कानपुर की एक मिडिल क्लास फैमिली का बालमुकुंद (आयुष्मान) अपने सिर के झड़ते बालों से परेशान है. वह मानता है कि सुंदर दिखना सिर्फ लड़कियों का ही नहीं लड़कों का भी उतना ही हक है. जीवन में उसका सारा दुख बस खुद के उम्र से ज्यादा दिखने का है और जिसकी वजह है सिर पर बाल कम होते जाना. बढ़ते गंजेपन के कारण बाला की बचपन की गर्लफ्रेंड उसे छोड़ कर चली जाती है. समाज में उसका मजाक बनता है. नौकरी में डिमोशन मिलता है.  आखिर में नकली बालों का सहारा लेना पड़ा. काले रंग की वजह से बचपन से लोगों का ताना सुनती आईं लतिका त्रिवेदी ( भूमि पेडनेकर) अपने क्लासमेट बाला को बीच-बीच में छेड़ती रहती. फिर लाइफ में आती हैं परी मिश्रा ), जो सच में बाला की जिंदगी के लिए परी होती हैं और फिर शुरू होता है फिल्म का असली मजा.

डायरेक्शनः निर्देशक अमर कौशिक ने गंजेपन की समस्या को मेलोड्रामा और कॉमेडी की चाशनी में डूबोकर पेश किया है. कानपुर के बैकड्रॉप में बनी  कहानी में कानपुरिया एक्सेंट किरदारों को मजेदार बनाता है. फर्स्ट हाफ बहुत मजेदार है, क्लाइमैक्स एक खूबसूरत संदेश दे जाती है.  काली लड़की के रूप में निर्देशक भूमि पेडनेकर के मेकअप पर थोड़ा-सा ध्यान देते, तो बेहतर था. लेखक नीरेन भट्ट के ‘हेयर लॉस नहीं आइडेंटिटी लॉस हो रहा है हमारा’ जैसे वन लाइनर्स हंसाने में कामयाब रहते है. सचिन-जिगर के संगीत में बादशाह, शाल्मली, गुरदीप और सचिन-जिगर का गया ‘डोंट बी शाय’ गाना दर्शनीय बन पड़ा है. पहली सीन से लेकर आखिरी सीन तक आपको सीट छोड़ने का मन नहीं करेगा. फिल्म की कहानी, डायलॉग, स्क्रीनप्ले, म्यूजिक और एक्टिंग जबरदस्त है.

एक्टिंगः आयुष्मान खुराना हों या भूमि पेडणेकर, दोनों ही लीड ऐक्टर्स ने अदाकारी के सारे बॉक्स चेक किए हैं. कनपुरिया लहजा और हाव-भाव बढ़िया पकड़ा है. लेकिन मेकअप का जो अडवांटेज आयुष्मान को मिला है, वो भूमि नहीं पा सकी हैं.  भूमि का सांवला रंग काफी हद तक बनावटी लगता है. यामी गौतम ने स्मॉल टाउन टिक टॉक स्टार की भूमिका और उनकी मानसिकता का सशक्त चित्रण किया है.  वे खूबसूरत भी बला की लगी हैं. सहयोगी भूमिकाओं में सौरभ शुक्ला, जावेद जाफरी, सीमा पाहवा, दीपिका चिखलिया और अभिषेक बैनर्जी ने जमकर मनोरंजन किया है.

ये भी पढ़ेंः  मैरिटल रेप पर भूमि पेडनेकर ने मांगी माफ़ी… (Bhumi Pednekar Apologizes On Marital Rape…)