तो इसलिए अपनी प्रॉपर्टी बच्चों क...

तो इसलिए अपनी प्रॉपर्टी बच्चों को नहीं दे पाएंगे सैफ अली खान, 5000 करोड़ की संपत्ति के मालिक हैं छोटे नवाब (So That’s Why Saif Ali Khan Will Not Be Able To Give His Property To Children, Chote Nawab Is The Owner Of 5000 Crores Property)

अगर आपसे कहा जाए कि आप अपने पूर्वजों की संपत्ति पर हक नहीं जता सकते या फिर उन संपत्ति को आप अपने बच्चों में बांट नहीं सकते, तो आपको कैसा लगेगा? खबरों की मानें तो कुछ यही हाल है जाने माने एक्टर सैफ अली खान (Saif Ali Khan) का, जो छोटे नवाब के नाम से भी मशहूर हैं और ये नाम उन्हें यूं ही नहीं मिला है. वो वाकई में छोटे नवाब हैं, जो अथाह संपत्ति के मालिक हैं, लेकिन हैरानी की बात तो ये है कि सैफ उन संपत्ति में से एक छोटा सा हिस्सा भी अपने बच्चों के नाम नहीं कर सकते. आखिर क्या है पूरा माज़रा जानते हैं इस आर्टिकल में.

Saif Ali Khan
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

जानकारी हो कि सैफ अली खान (Saif Ali Khan) पटौदी के नवाब हैं और कहा जाता है कि वो 100-200 नहीं बल्कि 5000 करोड़ रुपये की संपत्ति के मालिक हैं. उनकी इस संपत्ति में हरियाणा में मौजूद पटौदी पैलेस के अलावा उनके पूर्वजों की भोपाल में भी अथाह संपत्ति है. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि सैफ अली खान उसमें से कुछ भी अपने चारों बच्चे सारा अली खान, इब्राहिम, तैमूर और जेह को नहीं दे पाएंगे.

ये भी पढ़ें: सलमान खान की डॉक्यूमेंट्री में खुलेंगे कई दिलचस्प राज़, भंसाली ने कर दी शूटिंग स्टार्ट (Many Interesting Secrets Will Be Revealed In Salman Khan’s Documentry, Bhansali Started Shooting)

Saif Ali Khan
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

दरअसल इसके पीछे की वजह काफी बड़ी है. एक न्यूज़ पोर्टल की रिपोर्ट के अनुसार पटौदी वाले घर से जुड़ी जितनी भी संपत्तियां हैं वो पूंजी रत सरकार के विवादास्पद शत्रु विवाद अधिनियम (Enemy Disputes Act) के अंतर्गत आती हैं. अब ऐसी परिस्थिती में कोई भी उस संपत्ति के उत्तराधिकारी होने का दावा कर ही नहीं सकता है. फिर चाहे वो खुद सैफ अली खान (Saif Ali Khan) ही क्यों न हो.

ये भी पढ़ें: क्यों शाहरुख खान ने अपने पिता को कहा था सबसे ‘सफल फेल्यिर’, अपनी गरीबी और खालीपन पर कही झकझोर देने वाली बातें (Why Shahrukh Khan Called His Father The Most ‘Successful Failure’, Said Shocking Things About His Poverty And Emptiness)

Saif Ali Khan
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि अगर कोई इस Enemy Disputes Act का विरोध करना चाहे या फिर उस संपत्ति पर अपना अधिकार जमाना चाहे, तो इसके लिए उन्हें हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ेगा. वहीं अगर हाई कोर्ट में भी बात नहीं बने तो सुप्रीम कोर्ट और आखिर में देश के राष्ट्रपति का रुख करना होगा.

ये भी पढ़ें: ‘KBC’ के एक एपिसोड के लिए अमिताभ बच्चन लेते हैं इतने करोड़ की फीस, सबसे अमीर शहंशाह हैं बिग बी (Amitabh Bachchan Charges So Many Crores For An Episode Of ‘KBC’, Big B Is The Richest Emperor)

Saif Ali Khan
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

गौरतलब है कि हमीदुल्लाह खान ब्रिटिश शाशनकाल में नवाब रहे थे. बता दें कि हमीदुल्लाह खान सैफ अली खान (Saif Ali Khan) के परदादा थे. बताया जाता है कि उन्होंने अपनी संपत्तियों के लिए कभी कोई वसीयत बनवाया ही नहीं, क्योंकि उन्हें इस बात का डर था कि परिवार के अंदर इस संपत्ति की वजह से किसी तरह का कोई विवाद न हो जाए.

ये भी पढ़ें: इस चॉल में बीता गोविंदा का बचपन, वायरल वीडियो देख आप भी हो जाएंगें भावुक (Govinda’s Childhood Was Spent In This Chawl, You Will Also Become Emotional After Watching The Viral Video)

Saif Ali Khan
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

सैफ अली खान (Saif Ali Khan) के पिता मंसूर अली खान, जो काफी मशहूर क्रिकेट खिलाड़ी थे. मंसूर अली खान पटौदी खानदान के नौवें नवाब थे. सैफ अली खान की मां शर्मिला टैगोर अपने समय की मशहूर एक्ट्रेस रही हैं.

×