मनी सेविंग के 7 अमेज़िंग टिप...

मनी सेविंग के 7 अमेज़िंग टिप्स (7 amazing tips for money saving)

By Admin June 21, 2019 in Digital PR

energy-saving-1

किचन के डिब्बे, बच्चों की गुल्लक में पैसा जमा करना पुराना और फ्लॉप आइडिया है मनी सेविंग का. सेविंग के ये तरी़के आज की मॉडर्न और हाइ प्रोफाइल लाइफ में नहीं चलेगा. आपको स्मार्टली मनी सेविंग ट्रिक्स आनी चाहिए.

डेली बेसिस बजट
मंथली बजट बनाने के साथ ही आप डेली बेसिस पर बजट बनाएं. उदाहरण के लिए प्रतिदिन आपके घर का कितना ख़र्च है, हर दिन कौन-सी चीज़ें आप मंगाते ही हैं, बच्चों पर हर दिन कितना ख़र्च हो जाता है आदि का बजट बनाएं. इसी सिलसिले में हर दिन कुछ अमाउंट सेव करें.

RD है बेस्ट ऑप्शन
घर पर पैसे रखने से पैसे ख़र्च हो जाते हैं, इसलिए आप बैंक में आरडी अकाउंट खुलवाएं. हर माह कुछ पैसे इसमें जमा करते रहें. हो सके तो इसको अपने सैलरी अकाउंट से सीधे कनेक्ट करें. इससे ये फ़ायदा होगा कि महीने की एक तारीख़ को अपने आप सैलरी का एक हिस्सा आरडी में जाता रहेगा.

प्री शॉपिंग लिस्ट
स्मार्ट बायर बनिए. किसी भी व़क्त शॉपिंग के लिए निकलना बेवकूफ़ी है. इससे पैसे ज़्यादा ख़र्च होते हैं. पहली बात तो ये कि जब भी शॉपिंग पर जाएं, एक लिस्ट पहले ही बना लें. जो ख़रीदना है, उसकी लिस्ट जब आपके पास रहेगी, तो ज़्यादा ख़र्च से बचेंगे. ऐसे में आप उन्हीं चीज़ों की शॉपिंग करेंगे, जिसकी ज़रूरत है. ये ट्रिक आपको पैसा बचाने में कामयाब बनाएगी.

रेड्यूस इलेक्ट्रीसिटी बिल
पैसे बचाने का ये नायाब तरीक़ा है. आमतौर पर लोगों का ध्यान इस पर नहीं जाता. स्मार्ट बनिए और घर का बिजली का बिल कम करिए. बेकार में जली रही लाइट्स, चल रहे पंखे आदि बंद रखें. स़िर्फ एक महीने स्मार्ट सिटिजन बनकर पावर सेव कीजिए, बिजली का बिल अपने आप कम हो जाएगा.

इंटरनेट मेनिया
इंटरनेट का यूज़ करके भी आप पैसे बचा सकते हैं. उदाहरण के लिए न्यूज़ पेपर पढ़ने की बजाय ई पेपर पढ़ें. महीने में जो भी मैगज़ीन मंगाते हैं, उसे बंद करके ऑनलाइन ई मैगज़ीन पढ़ें. इससे हर महीने न्यूज़ पेपर और मैगज़ीन पर होनेवाले ख़र्च बंद हो जाएंगे और पैस बचेेंगे.

प्राइवेट नहीं पब्लिक ट्रांसपोर्ट
अपनी कार/बाइक से ऑफिस जाने की बुरी लत से बचिए. बेहतर होगा कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट का फ़ायदा उठाएं. इससे आपकी जर्नी भी सेफ होगी और पैसे भी सेव रहेंगे.

नो क्रेडिट ओन्ली कैश
क्रेडिट कार्ड का यूज़ आपको ज़्यादा ख़र्च करने पर बाध्य करता है. इसका मुख्य कारण है कार्ड. फिज़िकली आपको पैसा पे नहीं करना होता. इससे आपके दिमाग़ में ख़र्च का खाका नहीं बनता. अब से जब भी पे करना हो, तो क्रेडिट कार्ड के बदले कैश पे करें.

– श्वेता सिंह

अधिक फाइनेंस आर्टिकल के लिए यहां क्लिक करें: FINANCE ARTICLES 

[amazon_link asins=’B01GB3HW28,B072THK2PM,1843176106′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’a1234c67-b4b3-11e7-a4c3-65e981b78bfb’]