सुर्ख़ियों में रहा कोरोना व...

सुर्ख़ियों में रहा कोरोना वायरस और फ्लू में अंतर और हॉलीवुड स्टार का कोरोना पॉजिटिव… (Corona Virus And Flu- Similar Symptoms, Different Fears)

जब से दुनियाभर में कोरोना वायरस ने तांडव मचाया है, तब से हर शख़्स कुछ संशय, भयभीत व परेशान-सा हो गया. यूं तो इसे लेकर काफ़ी दिनों से तमाम बातें चर्चा में रही हैं. लेकिन आजकल सबसे अधिक सुर्ख़ियों में रहा कोरोना वायरस और फ्लू में अंतर को न समझ पाना. इसे लेकर लोग कंफ्यूज़ हो रहे हैं. साथ ही मशहूर फिल्म स्टार टॉम हैंक्स व उनकी पत्नी रीटा का कोरोना पॉज़िटिव पाया जाना भी बेहद चर्चा में रहा है.

सबसे पहले बात करते हैं कोरोना वायरस और फ्लू में फ़र्क़ की. आमतौर पर इन दोनों के शुरुआती लक्षण मिलते-जुलते रहने के कारण लोग मौसमी बुख़ार, सर्दी-ज़ुकाम अब यहां तक की फ्लू को भी कोरोना वायरस समझ रहे हैं. वैसे माना इनके लक्षणों के कारण इस ग़लतफ़हमियां पैदा हो रही हैं, क्योंकि दोनों के इंफेक्शन हवा, दूषित जगह व प्रभावित व्यक्ति के संपर्क में आने से अधिक फैलते हैं. 

इसमें इंफेक्टेड व्यक्ति को सामान्यतौर पर सूखी खांसी, बुख़ार, बदनदर्द, थकान आदि होता है. कुछ में सिरदर्द या फिर कफ़ में ख़ून का आना व दस्त की समस्या भी पाई गई. लेकिन यहां पर ध्यान देनेवाली बात यह भी है कि कोविड-19 यानी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ में यह वायरस एक दिन से लेकर 14 दिन तक ही प्रभाव दिखाता है. कभी-कभी मरीज़ को ठीक होने में तीन से चार हफ़्ते तक लग जाते हैं. अब तक इस इंफेक्शन से लड़ने के लिए कोई भी दवा नहीं आई है, इसलिए इसे लेकर सावधानी बरतना और अपनी रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना सबसे बेहतरीन उपाय है. ध्यान दें, सर्दी-ज़ुकाम, फ्लू की तरह कोरोना वायरस में बहती हुई नाक या फिर छींकने के लक्षण बहुत कम ही देखाई दिए हैं.

अब फ्लू का तो यह हाल है कि इसके भी शुरुआती लक्षण कोविड-19 की तरह होते हैं. इसमें बुख़ार, बदनदर्द, थकान, सूखी खांसी, गले में खराश, बहती या भरी हुई नाक जैसे लक्षण दिखाई देते हैं. हां, कुछेक मामले में उल्टी व दस्त भी हो सकती है. फ्लू 2-4 दिनों में ठीक हो जाता है. कुछ सीरियस केस में हफ़्ताभर भी लग जाता है. जहां फ्लू के लक्षण 2-4 दिन में स्पष्ट हो जाते हैं, वहीं कोविड-19 में 2-14 दिन लग सकते हैं.

इन मामलों में यही कह सकते हैं कि इन लक्षणों के दिखने पर डॉक्टर से संपर्क करें. वैैसे एक मौसमी फ्लू वैक्सीन व दवाइयां उपलब्ध हैं. कोरोना पर अब भी दुनियाभर में रिसर्च चल रहा है. वैसे आमतौर पर इनका कोई इलाज नहीं है, पर लक्षणों को देखते हुए कुछ दवाएं चिकित्सक द्वारा दी जाती है. बस, एक बात का ख़्याल रखें कि ऊपर बताए गए कोई लक्षण दिखाई दे, तो एहतियात के तौर पर डॉक्टरी सलाह ज़रूर लें. जैसा कि टॉम हैंक्स ने किया.

हॉलीवुड स्टार शूटिंग के सिलसिले में ऑस्ट्रेलिया में थे. वहां से लौटते समय उन्हें सर्दी, शरीर में रैशेज़, थकान जैसी परेशानियां होने लगी. उनकी पत्नी रीटा को भी बार-बार ठंड लग रही थी. सावधानी के चलते उनका कोरोना टेस्ट करवाया और वो पॉज़िटिव निकला. उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी आपबीती शेयर करते हुए हर किसी को ख़्याल रखने और सावधानी बरतने की सलाह दी है.

मशहूर कॉमेडियन व स्टार कपिल शर्मा ने भी प्लेन में मास्क पहने हुए अपनी तस्वीर शेयर की थी और कहा कि सावधानी में ही सुरक्षा है.

कोविड-19 पर सरकार की सार्थक पहल

देशभर में अब तक इसके 73 मामले पाए गए हैं, जिनमें 17 विदेशी मरीज़ हैं.

आज भारतीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन की अध्यक्षता में कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए एक अहम् मीटिंग हुई और यह निणर्य लिया गया कि 15 अप्रैल 2020 तक वीज़ा पर प्रतिबंध रहेगा. लेकिन यह रोक राजनयिक, सरकारी, संयुक्त राष्ट्र व अन्य अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं, एम्प्लॉयमेंट व प्रोजेक्ट वीज़ा पर लागू नहीं होगा. आज रात यानी 13 मार्च 2020 से यह प्रतिबंध सभी एयरपोर्ट पर लागू कर दिया जाएगा. वैसे भी इस बीमारी में सावधानी ही सबसे बड़ा इलाज है.

कोरोनावायरस से बचने के लिए करें ये 10 घरेलू उपाय

1) विटामिन-सी युक्त फल, जैसे संतरा, मौसमी, नींबू, आंवला आदि का नियमित रूप से सेवन करें.

2) रोज़ाना नियमित रूप से योग, प्राणायाम और सूर्य नमस्कार करें. इससे आपका श्‍वसनतंत्र और फेफड़े मजबूत होंगे.

3) कपूर, लौंग, इलाइची और जावित्री को पीसकर अपने साथ रखें और समय-समय पर इस मिश्रण को सूंघते रहें.

4) बासी खाना खाने से बचें. ताज़ा और गरम भोजन ही खाएं.

5) फ्रिज में रखी ठंडी और बासी चीज़ों का सेवन न करें.

6) बाज़ार में बिकनेवाली अनहेल्दी और खुली जगहों पर बिकनेवाली चीज़ें न खाएं.

7) सर्दी, खांसी, कफ, बुखार होने पर तुरंत डॉक्टर के पास जाएं.

8) नमक मिले गरम पानी से गरारे करें. इससे वायरस आपके फेफड़ों तक नहीं पहुंच सकेगाा.

9) तुलसी, लौंग, अदरक और हल्दी वाला दूध पीएं.

10) सार्वजनिक स्थानों और भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें.

कोरोना वायरस से बचने के लिए इन बातों का ध्यान रखें:

  • बाहर से घर पर आते ही सबसे पहले साबुन या हैंडवॉश से अच्छी तरह हाथ धोएं.
  • यदि आप लंबे सफर पर हैं और बार-बार साबुन से हाथ नहीं धो सकते, तो अपने पास हैंड सैनिटाइज़र ज़रूर रखें और अपने हाथों को समय-समय पर साफ करते रहें.
  • अपने चेहरे को, ख़ासकर मुंह, नाक आंख आदि को छूने से बचें. हाथ धोने के बाद ही चेहरे को छूएं.
  • सार्वजनिक स्थानों पर थूकने से बचें.
  • अपना मोबाइल फोन नियमित रूप से साफ करें, मोबाइल से भी इंफेक्शन हो सकता है.
  • खांसते या छींकते समय रूमाल या टिशू का इस्तेमाल करें या मुंह को कोहनी से ढंकें.
  • आपके बिल्कुल पास खड़ा कोई व्यक्ति यदि खांसे या छींके, तो उससे दूर हट जाएं, अपना मुंह ढंकने की कोशिश करें और कुछ सेकेंड तक टुकड़ों में सांस लें.
  • सर्दी-जुकाम से मिलते-जुलते लक्षण कोरोना वायरस के भी हैं इसलिए खांसने और छींकने वाले लोगों से दूरी बनाए रखें.
  • घर से बाहर निकलते समय, ख़ासकर भीड़-भाड़ वाली जगह पर जाते समय मुंह पर मास्क पहनें. इससे आप इंफेक्शन से आसानी से बच सकते हैं. आप चाहें तो एन 95 मास्क या नॉर्मल मास्क भी पहन सकते हैं.
  • अंडा और मांस खाने से परहेज करें.
  • यदि आपको खांसी और बुखार हो रहा है, तो लोगों से दूरी बनाए रखें.

कोरोना वायरस से बचने के लिए पांच बार हाथ ज़रूर धोएं
विश्‍व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के लिए कहा है. इसके लिए हाथों की सफाई को प्रमुखता दी गई है और दिन में कम से कम पांच बार हाथ धोने का सुझाव दिया गया है.

डब्ल्यूएचओ (विश्‍व स्वास्थ्य संगठन) ने हाथ को कब और कैसे धोने का ये तरीका बताया है:

1) छींकने और खांसने के बाद हाथ धोएं.
2) बीमार व्यक्ति से मिलने के बाद हाथ धोएं.
3) शौचालय के इस्तेमाल के बाद हाथ धोएं.
4) खाने बनाने और खाने के बाद हाथ धोएं.
5) पशुओं को छूने के बाद हाथ धोएं.

यह भी पढ़े: मूवी रिव्यूः अंग्रेज़ी मीडियम (Movie Review Of अंग्रेज़ी Medium)