शादी में दें फाइनेंशियल सिक्योरिटी का उपहार (Financial gift for marriage)

Financial Gift

शादी-ब्याह के मौक़ों पर गोल्ड, सिल्वर, क्रॉकरी व कपड़े जैसी चीज़ें हम देते रहते हैं, पर क्यों न अब कुछ नया और अलग दिया जाए, जैसे फाइनेंशियल सिक्योरिटी से जुड़ा गिफ्ट. जी हां, आज वक़्त की ज़रूरत कहें या महंगाई की मार, अब हमें यह कोशिश करनी चाहिए कि शादियों में कपल्स को उनके जीवन में फाइनेंशियल रूप से मदद करनेवाली चीज़ें तोह़फे में दें. इस विषय पर अविवा लाइफ इंश्योरेंस की भानुमति रघुनाथ ने कई उपयोगी जानकारियां दीं. आइए, इन पर एक नज़र डालते हैं. सुरक्षा की दृष्टिकोण से देखा जाए, तो लाइफ इंश्योरेंस इनमें सबसे टॉप पर आता है. यह एक ऐसा उपहार है, जो कपल्स की लाइफ को सिक्योर्ड करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. इसके अलावा हेल्थ पॉलिसी, म्युुचुअल फंड, इंदिरा विकास पत्र, फिक्स्ड डिपॉज़िट आदि भी बेहतरीन उपाय हैं.

यदि आप फाइनेंशियल सिक्योरिटी से जुड़ा कोई तोहफ़ा देते हैं, तो वह कपल के लिए यादगार गिफ्ट बन जाता है. आप विवाहित जोड़े के लिए एक म्युचुअल फंड एसआईपी (सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान) ले सकते हैं. या फिर उन्हें लाइफ या हेल्थ इंश्योरेंस कवर भी उपहार में दे सकते हैंं.

यदि दूल्हे की उम्र 30 साल है और आप 30 साल के लिए एक करोड़ का टर्म इंश्योरेंस लेते हैं, तो उसकी लागत दस से ग्यारह हज़ार रुपए सालाना होगी. आप कपल्स से कह सकते हैं कि पहला प्रीमियम आप दे रहे हैं और वे आनेवाले साल से इसका प्रीमियम देते जाएं.

कई लोग मानते हैं कि टर्म प्लान पैसे की बर्बादी है, क्योंकि इनकी कोई मैच्योरिटी वैल्यू नहीं होती. अगर आपको लगता है कि नया जोड़ा पॉलिसी जारी नहीं रख पाएगा, तो आप सिंगल प्रीमियम प्लान को चुन सकते हैं. इसमें आप प्रीमियम चुका देते हैं, तो पॉलिसी लैप्स होने की कोई आशंका नहीं रहती.

लेकिन सिंगल प्रीमियम प्लान महंगे होते हैं. यदि आपका बजट छोटा है, तो आप बीस साल के छोटे कवर को चुन
सकते हैं.

आप गिफ्ट कार्ड्स भी उपहार में दे सकते हैं. ये गिफ्ट कार्ड 500 रुपए से लेकर पचास हज़ार रुपए तक में आते हैं. ये कार्ड एक निश्‍चित समय सीमा के लिए ही वैध रहते हैं, जिसके बारे में कार्ड के ऊपर जानकारी दी गई होती है.

गोल्ड गिफ्ट करने की बजाय आप गोल्ड ईटीएफ का उपहार भी दे सकते हैं. गोल्ड ईटीएफ, एक्सचेंज ट्रेडेड फंड है, जिसमें इन्वेस्टमेंट करने का उद्देश्य घरेलू सोने की क़ीमत के आधार पर इन्वेस्टमेंट करना होता है. इसमें सोने का मूल्य शेयर की तरह दिखाते हैं. गोल्ड ईटीएफ के नेट असेट मूल्य का निर्धारण सोने के क़ीमत के आधार पर होता है.

फाइनेंशियल सिक्योरिटी के लिए ब्लू चिप स्टॉक भी गिफ्ट के तौर पर दे सकतेे हैं. लंबी अवधि के इन्वेस्टमेंट से इसके ज़रिए
अच्छी-ख़ासी रक़म जमा की जा सकती है. ब्लू चिप स्टॉक को देश की बेहतरीन स्टॉक स्कीम माना जाता है. इसके ज़रिए शेयरहोल्डर को कुछ समय बात अच्छा लाभ मिलता है.

नए जोड़े के लिए हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी भी परफेक्ट वेडिंग गिफ्ट है. यदि न्यू कपल अगले दो-तीन साल में फैमिली शुरू करने की योजना बना रहा है, तो आप उन्हें कोई ऐसी पॉलिसी दे सकते हैं, जिसमें मैटर्निटी एक्सपेंस कवर हो. ऐसी पॉलिसी के लिए 18-24 महीनों का वेटिंग पीरियड होता है. यानी पॉलिसी लेने के 18-24 महीने के वेटिंग पीरियड के बाद ही क्लेम किया जा सकता है.

पांच लाख रुपए तक के हेल्थ कवर में मैटर्निटी ख़र्च शामिल होता है. इसका सालाना ख़र्च आठ हज़ार से नौ हज़ार रुपए तक हो सकता है.

लोक भविष्य निधि या पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) भी एक बेहतरीन तोहफ़ा है. ये इन्वेस्टमेंट कपल्स के भविष्य के लिए काफ़ी उपयोगी होता है. यदि टैक्स बचत की बात करें, तो पीपीएफ अच्छी स्कीम है. इसमें ब्याज़ दरों पर लगनेवाले टैक्स पर छूट मिलती है.

नवविवाहित जोड़ों की प्राथमिकता में म्युचुअल फंड एसआईपी शुरू करना शायद ही हो, पर यदि आप कोई एसआईपी शुरू करके उन्हें उपहार देते हैं, तो वे इसे आगे जारी रख सकते हैं. इससे न केवल उनका भविष्य सुरक्षित होगा, बल्कि उन्हें सेविंग की आदत
भी पड़ेगी.

एक अच्छा डायवर्सिफाइड इक्विटी फंड चुनें, जिससे नवविवाहित जोड़ों को अच्छा रिटर्न मिलता रहेगा. पर इसमें भी रेगुलेटर से जुड़ी अड़चनें हैं. इंश्योरेंस कंपनियां ऐसे किसी शख़्स का आवेदन स्वीकार नहीं करेंगी, जो उस व्यक्ति के साथ इंश्योरेबल इंटरेस्ट न हो. यानी यदि आपका नए कपल के साथ कोई इंश्योरेबल इंटरेस्ट नहीं है, तो आप उनकी तरफ़ से एप्लीकेशन नहीं दे सकते हैं. म्युचुअल फंड्स भी थर्ड पार्टी की तरफ़ से कोई चेक स्वीकार नहीं करते हैं. यानी नए जोड़ों को स्वयं ही इंश्योरेंस कवर या म्युचुअल फंड के लिए आवेदन करना होगा और आप उनसे बात कर इस पर होनेवाले ख़र्च अलग से उपहार के तौर पर दे
सकते हैं.

इन सब के अलावा शादीशुदा जोड़ों को पर्सनल फाइनांस से जुड़ी क़िताबें भी विशेष तोह़फे के रूप में दे सकते हैं. इससे उन्हें भविष्य में इन्वेस्टमेंट करने से संबंधित निर्णय लेने में आसानी होगी.

पिता का बेटी को हेल्थ सिक्योरिटी गिफ्ट
फाइनेंशियल सिक्योरिटी की कड़ी में ही एक क़दम आगे बढ़ते हुए हाल ही में चेन्नई के निवासी जमुना भास्कर ने अपनी बेटी को शादी में हेल्थ इंश्योरेंस का अनोखा गिफ्ट दिया. उन्होंने बेटी को 50 लाख का हेल्थ इंश्योरेंस पैकेज दिया. उनके अनुसार, वे पहले साल प्रीमियम के तौर पर चालीस हज़ार रुपए का भुगतान करेंगे. इसकी एवज में न्यू कपल को 50 लाख रुपए का हेल्थ इंश्योरेंस मिलेगा. उनका कहना है कि शादी के दौरान हम काफ़ी पैसे ख़र्च करते हैं, पर मैंनेे अपनी बेटी-दामाद को शादी के पहले दिन से ही हेल्थ इंश्योरेंस देकर एक बेहतर जीवन का उपहार दिया है.

ऊषा गुप्ता

अधिक फाइनेंस आर्टिकल के लिए यहां क्लिक करें: FINANCE ARTICLES 

[amazon_link asins=’1541035933,B002AWX6JI’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’2898881c-b4b3-11e7-8f2f-077cdfcb0de4′]