फूड क्रिटिक : करियर का नया विकल्प (Food Critic: Way Of New Opportunity)

Food Critic Career

अगर आप स्वादिष्ट खाना बनाने और खाने के शौक़ीन हैं. साथ ही अपनी कलम से उसके स्वाद की जानकारी बेहतरीन ढंग से लोगों तक पहुंचाने का हुनर रखते हैं, तो निश्चय ही आप एक अच्छे फूड क्रिटिक बन सकते हैं. मार्केट में कौन-से नए फूड प्रॉडक्ट्स आए हैं? से लेकर किस रेस्टॉरेंट में कौन-से स्वादिष्ट व्यंजन मिलते हैं? तक की पूरी जानकारी अपनी राइटिंग स्किल के ज़रिए लोगों तक पहुंचाना फूड क्रिटिक का महत्वपूर्ण काम होता है. फूड क्रिटिक खाने के टेस्ट के साथ ही रेस्टॉरेंट की सर्विस के बारे में भी पूरी जानकारी देते हैं.

शैक्षणिक योग्यता
फूड क्रिटिक बनने के लिए विशिष्ट शैक्षणिक योग्यता की ज़रूरत नहीं होती, लेकिन बैचलर डिग्री होनी ज़रूरी है. साथ ही जर्नलिज़्म, हॉस्पिटालिटी या होटल मैनेजमेंट से जुड़े लोग भी फूड क्रिटिक बन सकते हैं, बशर्ते उनमें खाने का स्वाद पहचानने, उसे बनाने का तरीक़ा जानने और लिखने की कला होनी चाहिए.

ज़रूरी योग्यताएं
फूड क्रिटिक बनने के लिए निम्न क्वालिटीज़ होनी ज़रूरी हैं-

  • राइटिंग स्किल अच्छी होनी चाहिए, ताकि रेसिपी को बेहतरीन ढंग से लिख सकें.
  • स्वाद की परख और सभी तरह के व्यंजनों से जुड़ी जानकारी होनी ज़रूरी है.
  • फूड क्रिटिक का काम ज़िम्मेदारीपूर्ण होता है, इसलिए ज़िम्मेदारी उठाने में सक्षम होना चाहिए.
  • निष्पक्ष जजमेंट देने की प्रतिभा होनी चाहिए.
  • अच्छी कम्युनिकेशन स्किल होनी भी ज़रूरी है, क्योंकि सारे गुणों के बावजूद अगर आप अपनी बात ठीक से कह नहीं पाते, तो सारी जानकारी बेकार है, इसलिए
  • जानकारी होने के साथ ही उसे दूसरों तक प्रभावी ढंग से पहुंचाने की कला भी आनी चाहिए.

रोजगार की संभावना
डेली न्यूज़पेपर, वीक्ली न्यूज़पेपर, फूड मैग़्जीन, रीज़नल गाइड बुक, रिव्यू वेबसाइट, कुक बुक और रेसिपी बुक, रेडियो, टेलीविजन, ब्लॉग आदि क्षत्रों में फूड क्रिटिक का विशिष्ट स्थान होता है. इसकेमाध्यम से वो फूड व रेस्टॉरेंट संबंधी जानकारी लोगों तक पहुंचाते हैं. वैसे इन दिनों इंटरनेट भी फूड क्रिटिक के लिए एक अच्छा प्लेटफ़ॉर्म है.

प्रमुख विश्‍वविद्यालय एवं संस्थान

  • कॉलेज ऑफ़ आर्ट्स-दिल्ली यूनिवर्सिटी
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ होटल मैनेजमेंट-लखनऊ
  • वेस्टवुड कॉलेज-कैलीफ़ोर्निया

Leave a Reply