हिंदू नव वर्ष: इस साल अमेरिका और लंदन में भी मनाया जाएगा हिंदू नव वर्ष (Hindu New Year)

हिंदू नव वर्ष

चैत्र नवरात्र से नए साल की शुरुआत मानी जाती है. यह दिन हर हिंदुस्तानी के लिए पवित्र दिन होता है. मां दुर्गा का आगमन होने से घर में पवित्र शक्तियों का आगमन होता है और परिवार में सुख-शांति बनी रहती है. हिंदुओं के लिए नए साल की शुरुआत में देशभर में अलग-अलग तरी़के से इसे सेलिब्रेट किया जाता है. उत्तर से लेकर दक्षिण और पूर्व से लेकर पश्‍चिम तक इस नए साल के अवसर पर कई तरह के पकवान बनाए जाते हैं. हर साल चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से ही विक्रमी सम्वत शुरू होता है और इस बार नए विक्रमी सम्वत 2074 का शुभारम्भ चैत्र मास की तिथि 15 अर्थात 28 मार्च मंगलवार को होगा. मंगलवार के दिन नए साल के शुरुआत होने से ऐसा माना जा रहा है कि पूरा साल हर किसी के लिए सुखद रहेगा.

मां दुर्गा के 9 रूपों की पूजा-आराधना इन दिनों होती है. 9 कन्याओं को खिलाने की भी प्रथा है. कुछ घरों में कलश की स्थापना की जाती है. हर दिन सुबह-शाम मां दुर्गा की पूजा होती है. इस नव वर्ष से आप हर शुभ कार्य कर सकते हैं. नवरात्री के ये 9 दिन आपके लिए हर तरह से शुभ और फलदायी होते हैं. इस दिन आप नई वस्तुएं भी ख़रीद सकते हैं. कुछ लोग नई गाड़ी, नया घर सोने के गहने आदि की ख़रीददारी करते हैं. महाराष्ट्र में इसे गुड़ी पड़वा के नाम से मनाते हैं. इस दिन मीठा चावल और पूरन पोली बनती है. इस दिन गहने ख़रीदने का ख़ास प्रावधान है.

हिंदू नव वर्ष

साल 2017 कई मामलों में हिंदुओं के लिए अच्छा है. इस साल पहली बार विदेशों में भी हिंदुओं का नया साल मनाया जाएगा. अमेरिका और लंदन के लोग इस साल हिंदु नव वर्ष मनाएंगे. पूजा-आराधना की विधि वो मेल के ज़रिए भारतीय पंडितों से मंगवाएंगे. विदेशों में हिंदु नव वर्ष मनाया जाना गौरव की बात है.

क्या न करें?
हिंदु नव वर्ष के साथ ही नवरात्रि भी शुरू हो रही है. नवरात्रि के मौ़के पर इस तरह की ग़लतियां करने से बचें.
– इस 9 दिन नाख़ून काटने से लेकर पुरुषों के दाढ़ी और बाल काटने की भी मनहाई होती है.
– अगर आपने कलश की स्थापना की है, तो घर को खाली छोड़कर न जाएं.
– इन 9 दिन घर में मांसाहारी भोजन न पकाएं.
– अगर आप 9 दिन का व्रत रख रहे हैं, तो भूलकर भी अनाज और नमक का सेवन न करें.
– 9 दिन का उपवास रखने वालों को काले कपड़े नहीं पहनने चाहिए.