जानें AB की एबीसी उनकी आत्म...

जानें AB की एबीसी उनकी आत्मकथा में

ab_de_villiers

बात जब क्रिकेट से जुड़ी हो, तो हर शख़्स रोमांचित हो उठता है. अचानक से रगों में उत्साह भर जाता है. कुछ ऐसा ही उत्साह दिखा भारतीय क्रिकेट प्रेमियों में जब सात समंदर पार दक्षिण अफ्रिका में क्रिकेट टीम के कैप्टन एबी डिविलियर्स ने अपनी ऑटोबायोग्राफी लॉन्च की. भले ही अपनी आत्मकथा एबी ने अभी अपने देश में ही लॉन्च की, लेकिन भारतीय प्रशंसक कई ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स पर बुक ख़रीदने के लिए जानकारी जुटाने में लग गए हैं. जिस तरह से यहां एबी के फैंस उनकी आत्मकथा पढ़ने को उत्सुक हैं, उतने ही उत्सुक एबी भी थे लॉन्च में. एबी ने लॉन्चिंग में अपने इंडियन फैंस की जमकर तारीफ़ की. एबी कहते हैं कि जब भी वो भारत में खेलते हैं, उन्हें इसका एहसास नहीं होता कि वो किसी दूसरे देश में खेल रहे हैं. प्रशंसकों का एबी-एबी कहकर पुकाराना उन्हें अपनत्व देता है. एबी बहुत जल्द ही भारत समेत दुनिया के दूसरे देशों में अपनी आत्मकथा लॉन्च करेंगे.

ab

क्या है एबी-द ऑटोबायोग्राफी में?
एबी- द आटोबॉयोग्राफी में डिविलियर्स के बचपन, स्कूल के दिनों, क्रिकेट में पदार्पण, कैरियर के उतार-चढ़ाव और बतौर कप्तान अनुभव तथा विवादों का ज़िक्र है. इसमें डिविलियर्स के शौक़ और व्यवसाय में उनकी रुचि के बारे में भी बताया गया है.

हम आपको बता दें कि एबी बचपन से ही प्रतिभावान खिलाड़ी थे. वो न स़िर्फ क्रिकेट, बल्कि टेनिस और रग्बी खेलने में भी निपुण हैं. महज़ 20 वर्ष की उम्र में इंटरनेशनल क्रिकेट में क़दम रखने वाले एबी को कभी पीछे मुड़कर नहीं देखना पड़ा.एबी दुनिया के बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक हैं.

इन खिलाड़ियों ने भी लिखी अपनी आत्मकथा 

  • सचिन तेंदुलकर- प्लेइंग इट माय वे
  • रिकी पॉन्टिंग- पॉन्टिंग: एट द क्लोज़ ऑफ प्ले
  • केविन पिटर्सन- केपी: द ऑटोबायोग्राफी
  • युवराज सिंह- द टेस्ट ऑफ माय लाइफ: फ्रॉम क्रिकेट टु कैंसर एंड बैक
  • शोएब अख़्तर- कंट्रोवर्सीअली योर्स

– श्वेता सिंह