नेशनल गर्ल चाइल्ड डे: बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ! (24 January: National Girl Child Day)

National Girl Child Day

नेशनल गर्ल चाइल्ड डे: बेटी है, तो अरमान है… बेटियों से रोशन ये जहान है… 

  • नेशनल गर्ल चाइल्ड डे (National Girl child Day) 24 जनवरी को मनाया जाता है.
  • इस मौ़के पर सोशल मीडिया पर सभी दिग्गज हस्तियां अपने विचार रख रही हैं और तमाम लोग जन जागृति के प्रयास में भी जुटे हैं.

क्यों मनाया जाता है राष्ट्रीय बालिका दिवस?

National Girl Child Day

  • भारत में लड़कियों के साथ जिस तरह का भेदभाव होता रहा है, चाहे वो उनके खान-पान से संबंधित हो या फिर पढ़ाई-लिखाई व आगे बढ़ने के अवसरों से संबंधित हो, उसके प्रति लोगों को जगाने व बेटियों को समान अवसर दिलाने की कोशिश में यह मनाया जाता है.
  • सरकार की तरफ़ से इस दिन कई तरह के अभियान चलाए जाते हैं. बेटियों को आगे बढ़ाने के कई अवसरों के बारे में लोगों को बताया जाता है.
  • बेटियों को सम्मान व समान अवसर की दिशा में भी कई तरह के प्रयास किए जाते हैं.
  • टीवी के माध्यम से, सोशल मीडिया के ज़रिए या फिर प्रशासनिक व व्यक्तिगत स्तर पर भी जन जागृति की जाती है, ताकि बेटे व बेटी के बीच के फ़र्क़ को मिटाया जा सके और बेटियों को भी वही प्यार व सम्मान मिले, जिसकी वो हक़दार हैं.
  • कन्या भ्रूण हत्या जैसी बुराइयां इस समाज से मिट सकें व बेटियों को बेहतर अवसर मिल सकें, यही इस दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य है.
  • ट्विटर पर भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर अन्य तमाम बड़ी हस्तियों ने नेशनल गर्ल चाइल्ड डे पर अपने विचार इस तरह से रखे-

यह भी पढ़ें: डैडी कूल महेंद्र सिंह धोनी पहुंचे बिटिया ज़ीवा के पहले एनुअल डे पर…