Parenting

मेरी सहेली के पैरेंटिंग (Parenting) आर्टिकल्स अभिभावकों के लिए कंप्लीट पैरेंटिंग गाइड (Parenting Guide) हैं. इसमें बच्चों की सही परवरिश, व्यवहार, आदतें, पढ़ने-लिखने से संबंधित टिप्स(Parenting Tips), स्मार्ट ट्रिक्स (Smart Parenting Tricks) यानी बच्चों के संपूर्ण विकास से जुड़ी हर जानकारी दी जाती है.

 

 

shutterstock_29687320

महत्वपूर्ण हैं परवरिश के शुरुआती दस वर्ष (parenting- initial ten years are important)

बच्चों की परवरिश में शुरुआती वर्ष बेहद महत्वपूर्ण होते हैं. जन्म के साथ ही व्यवहार व संस्कारों के प्रति माता-पिता यदि सचेत रहें और कोशिश करें कि बच्चे बड़े-बुज़ुर्गों की छत्रछाया में अच्छे संस्कार, अच्छा व्यवहार व अच्छी आदतों का पालन करना सीखें, तो इसमें कोई दो राय नहीं कि आगे चलकर वे एक बेहतर … Continue reading महत्वपूर्ण हैं परवरिश के शुरुआती दस वर्ष (parenting- initial ten years are important) »

Parenting

घर का काम बढ़ाता है बच्चों का आत्मविश्‍वास (Household work boost your children’s confidence)

  बच्चों पर हुए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि उन्हें घरेलू कामों में शामिल करने से बच्चों का आत्मविश्‍वास व आत्मसम्मान बढ़ता है. एक्सपर्ट्स की राय में हाउसहोल्ड वर्क यानी घरेलू काम को बच्चे एंजॉय करते हैं, बशर्ते उसे रुचिकर तरी़के से कराया जाए और काम को बोझ न बनाया जाए. … Continue reading घर का काम बढ़ाता है बच्चों का आत्मविश्‍वास (Household work boost your children’s confidence) »

dreamstime_l_19407784

पैरेंट्स समझें बच्चों की भावनाओं को (Understand your children’s emotions)

अगर आपके बच्चे का भावनात्मक स्तर किसी भी वजह से बिगड़ा हुआ है, तो वह कुछ संकेत देता है, उसे समझना आपकी ज़िम्मेदारी है. ये संकेत कुछ इस प्रकार हो सकते हैं- ♦ यदि बच्चा अंगूठा चूसे या नाख़ून काटे. ♦ बहुत रोए. ♦ नज़रें मिलाने से बचे. ♦ बहुत हिंसक, आक्रामक और विनाशकारी प्रवृत्ति … Continue reading पैरेंट्स समझें बच्चों की भावनाओं को (Understand your children’s emotions) »

Food During Exams

एग्ज़ाम के समय बच्चों की डायट का रखें ख़्याल (Provide healthy food to children during exams)

  एग्ज़ाम पीरियड में बच्चों को स्ट्रेस फ्री और हेल्दी रखने में डायट की भी अहम् भूमिका होती है. अतः उनके खाने-पीने का ख़ास ध्यान रखें. * ब्रेकफास्ट में स्टार्च से भरपूर व मीठी चीज़ें, जैसे- हलवा और व्हाइट ब्रेड की जगह फाइबरयुक्त चीज़ें, जैसे- दलिया, पोहा, उपमा और होलवीट ब्रेड सैंडविच दें. * रोज़ाना … Continue reading एग्ज़ाम के समय बच्चों की डायट का रखें ख़्याल (Provide healthy food to children during exams) »

Brain exercises for kids

बच्चों के लिए ब्रेन एक्सरसाइज़ (Sharpen your child’s brain with effective exercises)

हर बच्चे का दिमाग़ एक-सा नहीं होता, कोई किसी चीज़ को जल्दी समझ जाता है, तो किसी को एक ही बात दस बार समझानी पड़ती है. यही वजह है कि एग्ज़ाम में हर बच्चे के मार्क्स में भी फ़र्क़ रहता है. लेकिन ऐसा नहीं है कि आप बच्चे की ब्रेन पावर बढ़ा नहीं सकतीं. हालांकि … Continue reading बच्चों के लिए ब्रेन एक्सरसाइज़ (Sharpen your child’s brain with effective exercises) »

parenting tips

डरना मना है (Don’t be scared of all these…)

हंसने-रोने की तरह ही डरना भी बच्चों के विकास का अहम् हिस्सा है, लेकिन यही डर कभी-कभी बच्चों के कोमल मन पर गहरी छाप छोड़ देता है. आमतौर पर ये डर उनकी काल्पनिक दुनिया से उपजते हैं, लेकिन इनका प्रभाव उनके वास्तविक जीवन पर पड़ता है. किस तरह के होते हैं ये डर और इन्हें … Continue reading डरना मना है (Don’t be scared of all these…) »

web-3

ट्यूशन फीवर (How to get rid of tution fever?)

एक समय था जब ट्यूशन पढ़ने की ज़रूरत स़िर्फ उन बच्चों को पड़ती थी, जो स्कूल की पढ़ाई के साथ कोपअप नहीं कर पाते थे, लेकिन आज पैरेंट्स अपने मंथली बजट में बच्चों की स्कूल फ़ीस के साथ-साथ ट्यूशन फ़ीस भी शामिल करना नहीं भूलते. बच्चों के लिए भी ट्यूशन जाना अब उनकी एज्युकेशन का … Continue reading ट्यूशन फीवर (How to get rid of tution fever?) »

web-m1

बच्चों को कहां लेकर जाएं? (Where can you take your children along?)

ज़्यादातर पैरेंट्स मानते हैं कि जब तक बच्चे उछलकूद करने लायक नहीं हो जाते, उन्हें साथ लेकर घूमना-फिरना आसान होता है, लेकिन एक्सपर्ट्स इस धारणा से सहमत नहीं. वे मानते हैं कि नवजात शिशु के साथ बाहर जाने पर अपेक्षाकृत ज़्यादा सावधानी बरतनी चाहिए. छोटे बच्चों को किन जगहों पर ले जाना ठीक नहीं और … Continue reading बच्चों को कहां लेकर जाएं? (Where can you take your children along?) »

1

बच्चों को सिखाएं फैमिली बॉन्डिंग (Educate your child on family bonding)

न्यूक्लियर फैमिली के बढ़ते चलन के कारण पारिवारिक रिश्तों का दायरा सिकुड़ता जा रहा है. आजकल परिवार स़िर्फ मां-बाप और बच्चों तक ही सिमट कर रह गए हैं. ख़ासतौर पर बच्चों को मां-बाप को छोड़कर अन्य क़रीबी रिश्तों की जानकारी तक नहीं होती. बच्चों को रिश्तों का महत्व समझाने और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ … Continue reading बच्चों को सिखाएं फैमिली बॉन्डिंग (Educate your child on family bonding) »

social-active-1

अपने बच्चे को बनाएं सोशली एक्टिव (How to make your child socially active?)

  बच्चे को सोशल बनाने के लिए बातचीत की कला, भावनात्मक संयम और इंटरपर्सनल स्किल आदि गुणों की ज़रूरत होती है. इन गुणों को विकसित करने की ज़िम्मेदारी पैरेंट्स की होती है, लेकिन पैरेंट्स के सामने अहम् समस्या यह होती है कि इन गुणों को किस तरह से विकसित किया जाए? हम यहां पर कुछ … Continue reading अपने बच्चे को बनाएं सोशली एक्टिव (How to make your child socially active?) »

parenting

परवरिश निखारती है बच्चे का व्यक्तित्व (Parenting influences personality of a child)

परवरिश के लिए ज़रूरी है अच्छा माहौल बच्चे के व्यवहार और सोच पर उसकी परवरिश का बहुत असर पड़ता है. बच्चे की परवरिश जिस माहौल में होती है उसका असर उसके भविष्य पर भी पड़ता है. ♦ अगर शुरुआत से ही बच्चे को प्रोत्साहन मिलता है, तो वह आत्मविश्‍वासी बनता है. ♦ यदि बच्चा अपने … Continue reading परवरिश निखारती है बच्चे का व्यक्तित्व (Parenting influences personality of a child) »

Parenting Tips

कैसे कराएं बच्चों की क़िताबों से दोस्ती? (How to encourage your child to read books?)

बच्चों के मानसिक और बौद्धिक विकास में क़िताबें महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती हैं, लेकिन आज के हाईटेक युग में बच्चे क़िताबों के महत्व को भूलते जा रहे हैं. बच्चों को क़िताबों की दुनिया के क़रीब रखने के लिए पैरेंट्स को क्या करना चाहिए? जानने की कोशिश की है विजया कठाले निबंधे ने. आजकल बच्चों के … Continue reading कैसे कराएं बच्चों की क़िताबों से दोस्ती? (How to encourage your child to read books?) »

1 2 3 6